edvertise

edvertise
barmer



जोधपुर इस कलयुगी पिता ने अपनी ही नाबालिग पुत्री को बनाया दरिंदगी का शिकार, बंधक बना किया दुष्कर्म

सिवांची गेट के भीतर सिंधियों का बास में शराब के नशे में एक युवक ने नाबालिग पुत्री को बंधक बनाकर पहले छेड़छाड़ और फिर दुष्कर्म किया। दो-तीन दिन तक शोषण के चलते मां के सब्र का बांध टूट गया और उसने पीहर पक्ष को बुलाकर पुत्री को छुड़ाया। खाण्डा फलसा थाना पुलिस ने दुष्कर्म व पोक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर पति को गिरफ्तार किया।उप निरीक्षक दौलाराम के अनुसार थाना क्षेत्र निवासी 36 वर्षीय महिला ने पति के खिलाफ पन्द्रह वर्षीय पुत्री से छेड़छाड़ तथा बंधक बनाकर दो-तीन दिन से दुष्कर्म करने का मामला दर्ज कराया है। आरोप है कि उसका पति गत तीन माह से बेरोजगार है। शराब के नशे में शुक्रवार को वह घर आया। उसने बड़ी पुत्री को पकड़ लिया और छेड़छाड़ करने लगा। मां ने विरोध किया, लेकिन वह नहीं माना। आखिरकार महिला ने भाई व पीहर के अन्य लोगों को वहां बुलाया। जिसके चलते करीब दो-तीन घंटे बाद दरवाजा तोड़कर पुत्री को मुक्त कराया गया।




कोर्ट में पेश कर लिया रिमांड पर




फिर महिला व पीडि़ता परिजन के साथ खाण्डा फलसा थाने पहुंचे। महिला ने पति पर पुत्री को बंधक बना दुष्कर्म व पोक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराया। पुलिस ने पीडि़ता का मेडिकल करवाया तथा सीआरपीसी की धारा 161 के तहत बयान दर्ज कर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। उसे कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमाण्ड पर लिया गया है। पीडि़त बालिका की मां का आरोप है कि आरोपी पिछले दो-तीन दिन से लगातार पुत्री के साथ दुराचार कर रहा था। उसने पति के समक्ष विरोध भी किया, लेकिन वह नहीं माना।




मां की पुकार को पड़ोसियों ने किया अनसुना




पुत्री को पकड़कर कमरे में ले जाने के बाद मां ने मदद के लिए आवाज लगाई, लेकिन कोई भी पड़ोसी नहीं आया। तब उसके भाई व पीहर वाले आगे आए। उन्होंने बच्ची को मुक्त करवा आरोपी की पिटाई भी की।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top