edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर नवगठित ग्राम पंचायत नेतसी में जिला कलक्टर शर्मा की पहली रात्रि चैपाल खुब जमीं
आबादी क्षेत्र के विस्तार की जांच कर प्रस्ताव तैयार करने के दिए निर्देष

सैकण्डरी विद्यालय के प्रस्ताव राज्य सरकार को भिजवाएं


जैसलमेर, 14 अप्रैल। नवगठित ग्राम पंचायत नेतसी में जिला कलक्टर मातादीन शर्मा की पहली रात्रि चैपाल खुब जमीं जिसमंे उन्होंनें ग्रामीणों की परिवेदनाएं सुनी एवं ग्रामीणांे को विष्वास दिलाया कि रात्रि चैपाल में परिवेदनाएं प्रस्तुत की है उनको राजस्थान सम्पर्क पोर्टल में दर्ज कर संबंधित विभागों को निस्तारण के लिए प्रेषित कर दी जाएगी। उन्होंनें अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे इन समस्याआंे का 15 दिवस में उनके स्तर से निस्तारण योग्य है उनका समाधान कर लोगों को राहत प्रदान करावें। चैपाल में जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद नारायणसिंह चारण, उपखंड अधिकारी कैलाषचन्द्र शर्मा, तहसीलदार वीरेन्द्रसिंह, विकास अधिकारी सुखराम विष्नोई, सरपंच श्रीमती पपूदेवी, जिला परिषद सदस्य कुन्दनलाल के साथ ही अच्छी संख्या में ग्रामीणजन एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

आबादी विस्तार की जांच कर प्रस्ताव तैयार करें

रात्रि चैपाल में जिला कलक्टर के समक्ष नेतसी, हेमा, नवलसिंह का गांव, एकलपार, डबलापार के आबादी विस्तार करानें के संबंध में सरपंच के साथ ही ग्रामीणों ने परिवेदनाएं पेष की एवं कहा कि उप निवेषन क्षेत्र से आबादी विस्तार भूमि के लिए आवंटन की कार्यवाही करावें। इस संबंध में जिला कलक्टर ने उप निवेषन तहसीलदार को निर्देष दिए कि वे इन गांवों की आबादी भूमि की जनसंख्या के निर्धारित मापदण्ड के अनुरूप जांच कर यदि आबादी भूमि कम है तो उनके प्रस्ताव तैयार कर 7 दिवस में प्रेषित करावें। इसके साथ ही नेतसी के ग्रामीणों ने उच्च प्राथमिक विद्यालय को माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने की मांग की इस संबंध में जिला कलक्टर ने षिक्षा विभाग के अधिकारी को निर्देष दिए कि वे पंचातय मुख्यालय के लिए माध्यमिक विद्यालय का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजकर स्वीकृत करावें।

ढाणियों का सर्वे कर विद्युतीकरण की कार्यवाही करावें

रात्रि चैपाल मंे अधिकाषंत समस्याएं ग्रामीणों द्वारा नेतसी एवं अन्य गांवों की ढाणियों जो विद्युतीकरण से वंचित है उनको पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से जुडवाने के संबंध में प्रार्थना पत्र दिए। इस संबंध में अधिषाषी अभियंता विद्युत ने बताया कि इन ढाणियों का सर्वें कर तृतीय चरण में इनके प्रस्ताव लेकर स्वीकृत करवाकर विद्युतीकरण की कार्यवाही की जाएगी।

पेयजल से जोडने के लिए प्रस्ताव लें

रात्रि चैपाल में जो अचिन्हित ढाणियां है उनका अब सर्वे करवाकर पेयजल योजना से जोडकर पेयजल आपूर्ति कराने के संबंध अधिकाषंत लोगों ने जिला कलक्टर से मांग की। इस संबंध में अधिषाषी अभियंता जलदाय विभाग ने बताया कि इन ढाणियों के प्रस्ताव लेकर पेयजल योजना की स्वीकृति के लिए राज्य सरकार को भिजवायेगें। जिला कलक्टर ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिए कि गर्मी में लोगों पीने का पानी समय पर उपलब्ध हो इस पर विषेष ध्यान रखें। इसके साथ ही लोगों ने अभाव की स्थिति में टैंकरों से पेयजल परिवहन करने, पषुधन संरक्षण के लिए पषु षिविर व चारा डिपों खोलने के संबंध में प्रार्थना पत्र दिए। इस संबंध में जिला कलक्टर ने बताया कि राज्य सरकार के सहायता विभाग से स्वीकृति मिलने पर पेयजल परिवहन एवं पषु षिविर खोलने की कार्यवाही की जाएगी।

15 दिवस में हो पंचायत खुले मंे शौच मुक्त

रात्रि चैपाल में जिला कलक्टर शर्मा स्वच्छ भारत मिषन की जानकारी देते हुए ग्रामीणों को सभी घरों में शौचालय का निर्माण कर पूरी पंचायत को खुले में शौच मुक्त करने की सीख दी। इसी सीख पर सरपंच के साथ ही अन्य ग्रामीणों ने विष्वास दिलाया कि वे 15 दिवस में वंचित घरों मंे शौचालय का निर्माण कर पूरी पंचायत को खुले में शौच मुक्त बना देंगें

बेटी बचाओं-बेटी पढाओं का लिया संकल्प

चैपाल के दौरान जिला कलक्टर ने ग्रामीणों को संदेष दिया कि वे अपनी बेटी की तरह बेडियों का भी लालन-पोषण कर उनको उच्च षिक्षा अर्जित करावें। साथ ही उन्होंनें जिले में पुरूषों की तुलना में महिलाआंे के कम अनुपात की चर्चा की एवं बताया कि यह कम लिंगानुपात समाज के लिए चिंता की बात है नहीं विकास की बाधक है। इस संदेष पर सरपंच के साथ सभी ग्रामीणों ने एक ही स्वर में विष्वास दिलाया कि बेटी बचानें व -बेटी पढानें में आगे रहेगें।

योजनाओं की मिलती है जानकारी, लें लाभ

जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने कहा कि रात्रि चैपाल ग्रामीणजन की समस्याओं के निराकरण का अच्छा मंच है इससे जहां समस्याएं हल होती है वहीं अधिकारियों द्वारा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देने से उन्हें योजनाओं का ज्ञान होता है। उन्होंनंे ग्रामीणों से कहा कि वे योजनाओ का पूरा लाभ उठावें। उन्होंनंे इस पषु बाहुल्य क्षेत्र में पषु चिकित्सा षिविर लगानें के साथ ही ग्रामीणों को महानरेगा योजना में पषु बाडा बनाने के कार्य करानें की भी सलाह दी। उन्होंनंे स्वच्छ भारत अभियान में सहयोग देनेें एवं बालिकाओं को षिक्षित करने का भी संदेष दिया।

अपना खेत-अपना काम में लेगें टांके व धोरा निर्माण के प्रस्ताव

रात्रि चैपाल में ग्रामीणों ने खेत में टांका व धोरा निर्माण के प्रस्ताव लेकर स्वीकृत कराने के संबंध मंे प्रार्थना पत्र जिला कलक्टर के समक्ष प्रस्तुत किये। इस संबंध में जिला कलक्टर ने विकास अधिकारी सुखराम विष्नोई ने जानकारी ली तो उन्होंनंे बताया कि अपना खेत-अपना काम योजना के प्लान में इनके प्रस्ताव लेकर स्वीकृत कराने की कार्यवाही की जाएगी।

इन्होंनंे रखी समस्याएं

रात्रि चैपाल के दौरान सुजानसिंह ने हेमा में गोचर भूमि आवंटन करानें, शैतानसिंह ने माईथी तला में जीएलआर एवं पषु खेली में पानी आपूर्ति करानें, पूनमाराम में 10 बीटीएम व 20 बीटीएम के चक आबादी को विद्युतीकरण करानें, दानसिंह ने नेतसी में उचित मूल्य की दुकान स्वीकृत करानें के संबंध में प्रार्थना पत्र पेष किए। चुतरसिंह ने नहर में शीघ्र ही पानी चालू करवाकर पषुधन के लिए पीने के पानी उपलब्ध कराने की बात कही।

भामाषाह व आधार कार्ड अनिवार्य रूप से बनावें

रात्रि चैपाल में भामाषाह अधिकारी डाॅ.बृजलाल मीणा ने ग्रामीणों को भामाषाह व आधार कार्ड के महत्व की जानकारी दी एवं कहा कि अभी तक जिन लोगों ने भामाषाह व आधार कार्ड नहीं बनाएं वे शीघ्र ही भामाषाह व आधार कार्ड पंजीयन अनिवार्य रूप से करवा दें।

योजनाओं की दी जानकारी उठाएं लाभ

चैपाल में जिला स्तरीय अधिकारियों ने राज्य सरकार द्वारा संचालित जन कल्याणकारी एवं फ्लेगषिप योजनाओं की जानकारी दी एवं उसका लाभ उठाने का आग्रह किया।

----000-----

जैसलमेर जिला मुख्यालय पर भामाषाह डिजिटल भुगतान जागरूकता षिविर का हुआ आयोजन,

डिजिधन मेले के 100 दिवस पूर्ण होने के उपलक्ष में

माननीय प्रधानमंत्री महोदय द्वारा दिए गए भाषण के लाइव टेलिकास्ट को सुना संभागियों ने

जैसलमेर, 14 अप्रैल। प्रमुख शासन सचिव आयोजना सूचना एवं प्रौद्योगिक एवं संचार विभाग जयपुर के निर्देषों की पालना में 14 अप्र्रैल 2017 को डिजिधन मेले के सौ दिवस पूर्ण होने के उपलक्ष में जिला मुख्यालय पर भामाषाह डिजिटल भुगतान षिविर का आयोजन जिला कलक्टर मातादीन शर्मा की अध्यक्षता में शुक्रवार को किया गया। इस डिजिटल भुगतान षिविर में उपस्थित जनप्रतिनिधियों, स्थानीय व्यापार मण्डलांे, मीडिया प्रतिनिधियों, कृषक संगठनों, अनुसूचित जाति-जन जाति संगठनों, स्थानीय वाणिज्यिक संस्थानों(छोटे-बडे सभी), छात्र-छात्राओं, युवा संगठनों ने नागपुर से डिजिधन एवं डिजिटल भुगतान को जीवन में अपनाने के लिए लाईव टेलिकास्ट किए गए माननीय प्रधानमंत्री महोदय का भाषण सुना एवं इसको जीवन में अपनाने की सीख ली।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, उपखंड अधिकारी कैलाषचन्द्र शर्मा, उप अधीक्षक पुलिस नरेन्द्र कुमार दवे, कोषाधिकारी जसराज चैहान, रसद अधिकारी औंकारसिंह कविया, सहायक निदेषक डाॅ.बी.एल.मीणा, लीड बैंक अधिकारी आर.के.भंवरायत, अतिरिक्त जिला षिक्षा अधिकारी कमलकिषोर व्यास जैसलमेर विकास समिति के सचिव चन्द्रप्रकाष व्यास के साथ ही जिला स्तरीय अधिकारी भी उपस्थित थें। जिला कलक्टर शर्मा ने संभागियों एवं विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री की डिजिटल इण्डिया के संबंध में जो आन्दोलन चलाया है उसको अपने जीवन में उपयोग लेकर अधिक से अधिक डिजिटल एवं केषलेस का लेनदेन करें। उन्होंनंे व्यापारिक संगठनों को भी केषलेस लेनदेन को बढावा देने पर जोर दिया। उन्होंनें कहा कि इस डिजिटल लेनदेन के संदेष को जन-जन तक पंहुचाकर इसका अधिक से अधिक उपयोग करना है। जिला कलक्टर ने एसबीआई द्वारा उपलब्ध कराई गई 4 पोस मषीनों का वितरण भी किया।

नारा लेखन एवं प्रष्नोत्तरी प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने दिखाई उत्साह

जागरूकता षिविर के दौरान विद्यालयी छात्र-छात्राओं की प्रष्नोत्तरी एवं नारालेखन डिजिटल भुगतान के संबंध में आयोजित की गई प्रतियोगिता में उन्होंनें उत्साह दिखाई एवं डिजिटल लेनदेन के प्रक्रियाओं, भामाषाह योजना, डाॅ. भीमराव अम्बेडकर के संबंध में तैयार की गई प्रष्नोत्तरी के जवाब भी विद्यार्थियों ने दिए वहीं नारा लेखन अपने हाथों से लिखकर पेष किए। जिला कलक्टर ने प्रष्नोत्तरी में सही जवाब देने वालें विद्यार्थियों को तथा नारा लेखन में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहें प्रतिभागियों को पुरूस्कृत किया।

इन्होंनें निभाई सराहनीय भूमिका

इस डिजिटल जागरूकता षिविर में उप निदेषक सूचना एवं प्रौद्योगिकी हरीषंकर अग्रवाल, अतिरिक्त सूचना आविज्ञान अधिकारी चन्द्रेष कुमार, सहायक निदेषक जयश्री ने सराहनीय भूमिका निभाई एवं डिजिटल लेनदेन एवं भामाषाह योजना के संबंध में प्रष्नोत्तरी तैयार की। इसके साथ ही पंचायत समिति के अटल सेवा केन्द्रों एवं ग्राम पंचायत के अटल सेवा केन्द्रों में भी भामाषाह डिजिटल जागरूकता षिविर का आयोजन हुआ एवं टेलिकास्ट हुए कार्यक्रम को लोगों ने देखा।

-----000-----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top