edvertise

edvertise
barmer



जालोर हीट एक्शन प्लान प्रारभ्भ, जिला कलेक्टर ने किया बेनरों का विमोचन
जालोर 24 अप्रेल - जिले के सांचैर एवं चितलवाना पंचायत समिति क्षेत्रा में जलवायु परिवर्तन एवं तेज गर्मी के कारण होने वाली बीमारियों को रोकने तथा आमजन में इसके प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के लिए जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने सोमवार को हीट एक्शन प्लान का विधिवत शुभारभ्भ करते हुए 2 बेनरों का विमोचन किया।

जिला परिषद के सभा कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने कहा कि राजस्थान क्लाईमेन्ट चैज प्रोजेक्ट के तहत जालोर जिले के सांचैर व चितलवाना पंचायत समिति क्षेत्रों का चयन किया गया है जहाॅ देश का प्रथम ग्रामीण स्तरीय हीट एक्शन प्लान संचालित किया जायेगा। उन्होनें बताया कि आमजन में तापघात से होने वाली बीमारियों के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार प्रसार सामग्री सहित विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किये जायेगें। उन्होनें कहा कि सांचैर व चितलवाना पंचायत समिति क्षेत्रों में पदस्थापित अधिकारियों व कार्मिकों को हीट एक्शन प्लान के तहत विभिन्न कार्यक्रमों में अपना यथेष्ट सहयोग देना होगा।

कार्यक्रम के प्रारभ्भ में राजस्थान क्लाईमेन्ट चैज प्रोजेक्ट के मुख्य अधिकारी डा. महावीर गोलेच्छा ने हीट एक्शन प्लान की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि राज्य के आपदा प्रबंधन एवं राजस्थान राज्य प्रदूषण नियन्त्राण मंडल के मार्गदर्शन में यूनिसेफ एवं इंडियन इंस्टिटूयट आॅफ पब्लिक हैल्थ गांधीनगर (गुजरात) द्वारा क्रियान्वित किया जायेगा। उन्होनें बताया कि इस प्रोजेक्ट का मुख्य उदृेश्य जलवायु परिवर्तन के नकारात्मक प्रभावों को समझकर उसके लिए ठोस नीति बनाना, आमजन (विशेषकर बच्चों, माताओं एवं कमजोर वर्ग ) में जलवायु परिवर्तन के लिए जागरूकता बढाने के अतिरिक्त मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान के प्रति लोगों को जागरूक करना भी है।

उन्होने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत भारत का प्रथम जिला है जहाॅ पर हीट एक्शन प्लान (अत्यन्त गरम तापमान तथा लू ) क्रियान्वित किया जायेगा। उन्होने बताया कि प्लान के तहत चिकित्सा अधिकारियों का प्रशिक्षण आयोजित किये जाने के साथ ही स्वास्थ्य केन्द्रो पर विभिन्न मार्गदर्शिका व जागरूकता सामग्री प्रदर्शित की जायेगी इसके अतिरिक्त विधालयों में भी जागरूकता अभियान के तहत शिक्षकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाकर कम से कम एक माह में जलवायु परिवर्तन पर बालकों को समझाईश की जायेगी। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. गजेन्द्रसिंह देवल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थें।

----000----

वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा बिना व्यवधान के सम्पन्न करवायें - कलेक्टर
जालोर 24 अप्रेल - जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने कहा कि 26 अप्रैल व 1 मई को जालोर व आहोर के निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित होने वाली वरिष्ठ अध्यापक (मायमिक शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा के लिए राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा जारी निर्देशों की अक्षरशः पालना करते हुए परीक्षा को बिना किसी व्यवधान के सम्पन्न करवायें तथा पूर्व अनुभवों को दृष्टिगत रखते हुए उससे भी बेहत्तर व्यवस्थायें संचालित करें।

जिला कलक्टर सोमवार को जिला परिषद के सभा कक्ष में राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा वरिष्ठ अध्यापक (मायमिक शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा 2016 के लिए नियुक्त फ्लाईंग स्कवांड, उप समन्वयक, पर्यवेक्षक एवं केन्द्राधीक्षकों की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंनें कहा कि 26 अप्रेल एवं 1 मई को जिले में निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित होने वाली परीक्षा के लिए नियुक्त सभी अधिकारी एवं कर्मचारी तन्मयता एवं जागरूकता के साथ आयोग द्वारा जारी निर्देशों का भली प्रकार अध्ययन करने के साथ सौपे गये कार्यो को पूर्ण करें। उन्होनें कहा निर्धारित परीक्षा केन्द्र की परिधि में परीक्षार्थी को भले ही जंाच के उपरान्त आधें घंटे पूर्व प्रवेश दे दे लेकिन परीक्षा केन्द्र में आधे घन्टे के पूर्व नही बैठने दे। उन्होनें कहा कि परीक्षा की व्यवस्थाओ में लगे सभी अधिकारी व कर्मचारी पूर्ण मुस्तैदी, सजगता एवं पारदर्शिता के साथ परीक्षा को बिना किसी व्यवधान के सम्पन्न कराये तथा इसमें किसी भी स्तर पर बरती गई लापरवाही को सहन नहीं किया जायेगा।

जिला कलेक्टर ने कहा कि नियुक्त पर्ववेक्षक, केन्द्राधीक्षक एवं वीक्षक परीक्षा स्थल पर परीक्षार्थियों की चैकिंग प्रभावी ढंग से करे तथा ब्लूटूथ आदि की जांच सजगता से करें। उन्होनें कहा कि केन्द्राधीक्षक 25 को वीक्षकों की आवश्यक बैठक करने के साथ ही अपनी सूचनाएॅ भिजवाये।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जस्साराम ने बैठक में पुलिस प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं की जानकारी देते हुए बताया कि जिन परीक्षा केन्द्रो पर परीक्षार्थी अधिक है वहां पर 5 का जाब्ता तथा जहां पर परीक्षार्थी कम है वहाॅ पर 4 का जाब्ता लगाया गया है वही जालोर एवं आहोर में मोबाईल टीम व फ्लाईग स्कंवाड निरन्तर भ्रमण करने के अतिरिक्त सादे वेश मे भी मोटरसाईकिल पर पुलिस कर्मी परीक्षा केन्द्रों के आसपास निगरानी रखेगें। उन्होनें अधिकारियों से कहा कि परीक्षा से सम्बन्धित किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो वे जिला पुलिस कार्यालय के नियन्त्राण कक्ष या सम्बन्धित अधिकारी को सूचित कर सकेगें। बैठक में जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह ने कहा कि केन्द्राधीक्षक नियुक्त सभी वीक्षकों एवं कार्मिको के मोबाईल फोन जमा कर लेवे वही पूर्ण सावचेती रखते हुए इलेक्ट्रोनिक सामग्री निषेध की पूर्ण पालना सुनिश्चित करें।

बैठक में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी प्रभुदान राव ने कहा कि 26 अप्रेल को प्रातः 10.00 बजे से दोपहर 12.00 बजे जालोर के 15 व आहोर के 5 परीक्षा केन्द्रो पर 5 हजार 144 परीक्षार्थी परीक्षा देगे जिसके लिए 29 केन्द्राधीक्षक, 4 उडन दस्ते व 4 उपसमन्वक नियुक्त किये गये है जबकि 1 मई सोमवार को जालोर जिला मुख्यालय पर 18 परीक्षा केन्द्र व आहोर में 5 परीक्षा केन्द्रो पर 5 हजार 679 परीक्षार्थी बैठके जिनके लिए 36 पर्यवेक्षक, 4 उडनदस्ते व 4 उपसमन्वयक नियुक्त किये गये है। बैठक में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश सोलंकी ने आयोग द्वारा जारी निर्देशों की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि गत दो वर्षो से जिले में बेहत्तर ढंग से परीक्षाये हो रही है तथापि पूर्ण सावचेती रखते हुए परीक्षा सम्पन्न करवायें। उन्होनें कहा कि अन्ध परीक्षार्थी द्वारा निर्धारित समय में वांछित प्रमाण पत्रा आदि प्रस्तुत करने पर उन्हे श्रुतिलेखक की व्यवस्था उपलब्ध करवाये वही 25 अप्रेल को परीक्षा केन्द्रो पर बैठक व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ ही प्रत्येक परीक्षा कक्ष में दीवार घडी एवं पीने के पानी आदि की व्यवस्थायें सुनिश्चित करें। उन्होने बताया कि परीक्षार्थी भी आयोग द्वारा जारी परिचय पत्रा एवं निर्दिष्ट सामग्री को छोडकर अन्य सामग्री साथ नही लायेंगे जिसकी परीक्षा केन्द्र पर सख्ती से जांच आदि की जायेगी। उन्होंने कहा कि परीक्षा केन्द्र में निर्दिष्ट अधिकारियों को छोडकर मोबाईल फोन की पूर्णतया मनाही है वही परीक्षार्थी हाथ घडी या अन्य किसी प्रकार की इलेक्ट्रोनिक सामग्री लेकर नही आयें।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा एवं आहोर उपखण्ड अधिकारी प्रकाशचन्द्र अग्रवाल सहित अन्य स्कवाड दल के अधिकारी, पर्यवेक्षक एवं केन्द्राधीक्षक उपस्थित थे।

---000--

परीक्षा केन्द्रो पर मोबाईल सहित इलेक्ट्रोनिक सामग्री रहेगी वर्जित
जालोर 24 अप्रेल - राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा जालोर व आहोर में आयोजित होने वाली वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा के दौरान केन्द्रो पर मोबाईल सहित इलेक्ट्रोनिक सामग्री एवं संचार उपकरणों की सख्त मनाही रहेगी तथा यदि कोई अभ्यर्थी इसका प्रयोग करता हुआ पाया गया तो कठोर कार्यवाही की जायेगी।

परीक्षा के जिला समन्वयक एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा ने बताया कि राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा जारी निर्देशों के तहत परीक्षा केन्द्रों पर अभ्यर्थी को परीक्षा हाॅल में सेल्युलर फोन, कोर्डलेस फोन, ब्लयू टूथ एवं सभी तरह के संचार उपकरणों का प्रयोग करने की सख्त मनाही है । परीक्षा वस्तुपरक (आॅब्जेक्टिव) परीक्षा के रूप में ली जा रही है इसलिए अभ्यर्थी को किसी प्रकार की सहायक सामग्री यथा केलक्टयूलेटर व रफ कार्य हेतु पेपर आदि उपलब्ध नहीं करवाये जायंेगे एवं ना ही उपयोग करने की अनुमति दी जायेगी। इसी प्रकार परीक्षाकेन्द्र के अन्दर बाहर ऐसे उपकरण एवं पाठ्य पुस्तकें रखने की भी मनाही रहेगी। ----000---




राजस्व लोक अदालत अभियान के लिए प्रशिक्षण मंगलवार को
जालोर 24 अप्रेल -जिले में राजस्व लोक अदालत: न्याय आपके द्वार-2017 के आयोजन के लिए 25 अप्रेल मंगलवार को दोपहर 3 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त राजस्व अधिकारियों व सम्बन्धित कार्मिकों का प्रशिक्षण आयोजित किया जायेगा।

अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले में 8 मई से 30 जून 2017 तक राजस्व लोक अदालत: न्याय आपके द्वार-2017 का आयोजन किया जायेगा जिसके लिए 25 अप्रेल मंगलवार को दोपहर 3 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त राजस्व अधिकारियों व सम्बन्धित कार्मिकों को प्रशिक्षण आयोजित किया जायेगा।

---000---

व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना में प्रीमियम व सेवा कर की कटौति करनी होगी
जालोर 24 अप्रेल - जिले के समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों को माह अप्रेल के वेतन से व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना के तहत वर्ष 2017-18 के लिए प्रति कर्मचारी प्रीमियम मय सेवा कर की कटौती अनिवार्य रूप से करनी होगी।

राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग की उप निदेशक सुनिता यादव ने बताया कि वित्त (बीमा/पेंशन) विभाग के निर्देशानुसार समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों को माह अप्रेल के वेतन से व्यक्तिगत समूह दुर्घटना बीमा योजना के तहत वर्ष 2017-18 के लिए प्रति कर्मचारी 220 रूपये प्रीमियम व 33 रूपये अन्य मय सेवा कर की कटौती की जानी हैं। इसलिए समस्त अधिकारी व कर्मचारी अपने एसआईपीएफ पोर्टल में प्रस्ताव पत्रा की पूर्ति कर डी.डी.ओ. को अग्रेषित करना सुनिश्चित करें तथा इस प्रस्ताव पत्रा के अग्रेषित नहीं होने की स्थिति में माह अप्रेल 2017 का वेतन पारित नहीं होगा। समस्त कार्मिक 25 अप्रेल तक उक्त प्रक्रिया को पूर्ण करना सुनिश्चित करें ।

उन्होंने बताया कि जिन आहरण वितरण अधिकारियों को कोष कार्यालय के माध्यम से वेतन आहरण नहीं होता हैं वे जीआईएस की कटौति सही बजट मद 8011-00-107-01-00 में जमा करवायें तथा प्रस्ताव पत्रा की आॅनलाईन हार्डकाॅपी निकाल कर अपने कार्यालय में रिकाॅर्ड में सुरक्षित रखे। उन्होंने बताया कि आहरण एवं वितरण अधिकारी सभी कर्मचारियों के प्रस्ताव पत्रा आॅनलाईन कर दिये जाने का प्रमाण पत्रा कटौति पत्रा या बिल में अंकित करना सुनिश्चित करे।

---000---

एक दिवसीय कौशल, रोजगार एवं उद्यमिता शिविर का आयोजन
जालोर 24 अप्रेल - रोजगार विभाग द्वारा सोमवार को एक दिवसीय कौशल, रोजगार एवं उद्यमिता शिविर का आयोजन राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्र जालोर (आईटीआई) में किया गया जिसमें उपस्थित बेरोजगार आशार्थियों को केरियर मार्गदर्शन एवं रोजगार व स्वरोजगार प्रशिक्षण के अवसर उपलब्ध करवाये गये।

जिला रोजगार अधिकारी आनन्द कुमार सुथार ने बताया कि शिविर में राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम के जिला प्रबन्धक राजेन्द्रसिंह, वीरेन्द्र चैधरी तथा आईटीआई के अधीक्षण ए.के.मिश्रा, राष्ट्रीय शहरी आजीविका विकास मिशन के प्रतिनिधि तथा अल्पसंख्यक विभाग के प्रतिनिधि उपस्थित थे। इसके अतिरिक्त निजी क्षेत्रा के नियोजकों में एल एण्ड टी अहमदाबाद व वृक्षार्थ प्रा.लि. बारां द्वारा बेरोजगार आशार्थियों का प्रारम्भिक चयन किया गया। ।

उन्होंने बताया कि शिविर में 35 आशार्थियों का रोजगार के लिए प्रारम्भिक चयन व 25 आशार्थियों का प्रशिक्षण के लिए पंजीयन किया गया। शिविर में रोजगार विभाग के रणछोड पुरोहित, धन्नाराम, किरणसिंह ने शिविर सम्बन्धी कार्य सम्पादित किया।

---000---

दवे/240417

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top