edvertise

edvertise
barmer



अजमेर  पं.दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी क्रिकेट प्रतियोगिता का शानदार शुभारम्भ
केन्द्रीय मंत्राी श्री सी.आर.चैघरी एवं श्री अर्जुन राम मेघवाल ने किया शुभारम्भ

योजनाओ ंको पात्रा व्यक्ति तक पहुंचाने का किया आह्वान

खेल को बताया आवश्यक

अजमेर 14 अप्रेल। केन्द्रीय उपभोक्ता एवं नागरिक आपूर्ति मंत्राी श्री सी.आर.चैधरी, केन्द्रीय वित्त एवं कम्पनी मामलात मंत्राी श्री अर्जुनराम मेघवाल एवं महिला एवं बाल विकास मंत्राी श्रीमती अनिता भदेल, संसदीय सचिव श्री सुरेश सिंह रावत ने अजेर दक्षिण विधानसभा क्षेत्रा में पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया इस अवसर पर अजमेर डेयरी अध्यक्ष श्री रामचन्द्र चैधरी, श्री दीनबंधु चैधरी पूर्व विधायक हरीश झामनानी, जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष श्री कमल पुट्टी, नगर निगम के उप महापौर श्री संपत सांखला, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अरविंद कुमार सेंगवा उपस्थित थे।

केन्द्रीय उपभोक्ता एवं नागरिक मंत्राी श्री सी.आर.चैधरी ने अपने संबंोधन में कहा कि 14 अप्रेल भारत के इतिहास में एक शुभ दिन है इस दिन भारत को संविधान प्रदान करने वाले बाबा साहेब का जन्मदिन है। बाबा साहेब की 126वीं जयन्ती के अवसर पर आयोजित होने वाली इस क्रिकेट प्रतियोगिता के माध्यम से समाज को अनेकों संदेश प्राप्त होंगे। प्रतियोगिता का नामकरण पं.दीनदयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी को ध्यान में रखकर किया गया है। पं. उपाध्याय ने समाज के अन्तिम छोर के व्यक्ति के उत्थान के लिए दर्शन दिया। इस व्यक्ति को खड़ा करके विकास की मुख्य धारा में लाने के लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार विशेष प्रयासरत है।

उन्होंने कहा कि समाज को शिक्षा, संघर्ष एवं संगठन का संदेश देकर वर्तमान सरकारे बाबा साहेब के विचारों को आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। इसी गति से देश का विकास होने से भारत कुछ ही समय में विश्व के पांच चोटी के देशों में शुमार हो जाएगा।

उन्होने कहा कि खिलाड़ियों को तीन बातों की गांठ बांध लेनी चाहिए। खिलाड़ी को अपने मन में धैर्य, आत्मविश्वास एवं कठिन परिश्रम को विशेष स्थान देना चाहिए। विल्सा अल्फ्रेड का उदाहरण देकर उन्होंने खिलाड़ियों का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि पांच वर्ष की आयु में पोलियों का शिकार व्यक्ति 18 वर्ष की आयु में तीन ओलम्पिक स्वर्ण पदक जीत सकता है तो पूर्ण रूप तंदरूस्त खिलाड़ी नए रिकाॅर्ड बनाने की क्षमता रखता है।

उन्होंने कहा कि खिलाड़ी को कर्तव्य पालन एवं कर्म पर ही फोकस करना चाहिए उसे सफलता को दिमाग पर तथा असफलता को दिल पर हावी नहीं होने देना चाहिए। इस प्रकार की खेल प्रतियोगिताओं से युवाओं मे जोश का संचार होगा। साथ ही आपस में भ्रातत्व की भावना पैदा होगी। खेल को भार नहीं समझ कर केवल खेल की भावना से खेला जाना चाहिए। अजमेर का नाम शिक्षा और धार्मिक नगरी के रूप में विश्व विख्यात है। इस तरह की प्रतियोगिताओं से शीघ्र ही अजमेर का नाम खेल की गतिविधियों के लिए भी जाना जाएगा।

उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक श्रीमती भदेल की यह दूरदर्शिता है कि सरकार की योजनाओं का संदेश देने के लिए खेल को माध्यम चुना है। योजनाओं को पात्रा व्यक्ति तक पहुंचाने का उत्तरदायित्व समस्त जागरूक नागरिकों का है। विद्यार्थियों को अध्ययन के साथ-साथ सामाजिक कार्यों से जुड़कर पात्रा व्यक्तियों तक लाभ पहुंचाना चाहिए।

केन्द्रीय वित्त एवं कम्पनी मामलात मंत्राी श्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि डाॅ. भीमराव अम्बेडकर का जीवन हमे अन्याय के विरूद्ध संषर्घ का संदेश देता है। इसी प्रकार पं. दीनदयाल उपाध्याय का दर्शन हमे खेल के माध्यम से सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त करता है। खेल के माध्यम से व्यक्ति की प्रतिभा निखरकर बाहर आती है। खिलाड़ी को अभिमान एवं निरासा से दूर रहकर खेल को केवल खेल की भावना से खेलना चाहिए। उन्होंने विश्वास जताया कि पूर्व राष्ट्रपति डाॅ. ए.पी.जे कलाम ने 2020 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का सपना आज की युवा पीढ़ी सच करेगी।

संसदीय सचिव श्री सुरेश सिंह रावत ने कहा कि जन कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए खेल का माध्यम उत्तम है। संविधान के निर्माता बाबा साहेब की जीवनी से शिक्षित संगठित एवं संघर्षशील बनने की प्रेरणा मिलती है।

अजमेर डेयरी के अध्यक्ष श्री रामचन्द्र चैधरी ने 1969 में एथेलेटिक्स में अपने द्वारा बनाए गए रिकाॅर्ड की चर्चा करते हुए खिलाड़ियों का आह्वान किया कि खेल में जीतने से महत्वपूर्ण खेल में भाग लेना है।

महिला एवं बाल विकास मंत्राी श्रीमती अनिता भदेल ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि डाॅ. भीमराव अम्बेडकर एवं पं. दीनदयाल उपध्याय के दिखाए रास्ते पर चलने से सुसंस्कृत एवं संस्कारित युवा पीढ़ी निर्मित होगी। युवाओं में सकारात्कता का विस्तार एवं नैतिक चरित्रा विकसित करने में खेलों की विशेष भूमिका है। खेलों के माध्यम से युवाओं की ऊर्जा में वृद्धि होगी। साथ ही युवाओं में संगठन शक्ति का विकास होगा। युवा आत्मबल एवं आत्म विश्वास से भरे होने से उनकी प्रतिभा और कौशल में वास्तविक निखार आएगा।

उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता को जीवन का सहज भाग बनाए जाने की आवश्यकता है। इस प्रतियोगिता में विजेता टीम को 51 हजार तथा उप विजेता टीम को 31 हजार का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। साथ ही बल्लेबाजी, बाॅलिंग एवं मैन आॅफ दा मैच वर्गों में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा।

शुभारम्भ समारोह के दौरान फ्लिक विकेट का उद्घाटन किया गया। गणमान्य अतिथियों ने प्रतिकात्मक मैच खेलकर प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया।

पटियाला का बैगपाइप बैंड रहा आकर्षण का केन्द्र

समारोह में मार्चपास्ट के दौरान पटियाला से आया हुआ बैगपाइप बैंड विशेष आकर्षण का केन्द्र रहा। इसकी प्रस्तुति के समय दर्शकों ने मंत्रामुग्ध होकर एकटक देखा।

प्रत्येक टीम ने दिया योजना का संदेश

क्रिकेट प्रतियोगिता में दक्षिण विधानसभा क्षेत्रा के 32 वार्डों की 64 टीमों ने भाग लिया। स्थानीय वार्ड स्तरीय मुकाबले में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली टीमों को प्रतियोगिता में खेलने का अवसर प्राप्त हुआ। इन टीमों में 16 से 25 आयु वर्ग के युवाओं ने भाग लिया। प्रत्येक टीम ने केन्द्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का संदेश देते हुए मार्चपास्ट किया। वार्ड संख्या 13 की टीमों ने भामाशाह योजना एवं गरीमा बालिका संरक्षण व सम्मान योजना, वार्ड संख्या 14 की टीमों ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना एवं उज्जवला योजना, वार्ड संख्या 15 टीमों ने मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान एवं स्वच्छ भारत मिशन, वार्ड संख्या 16 की टीमों ने न्याय आपके द्वार एवं नंदघर योजना, वार्ड संख्या 17 की टीमों ने अन्नपूर्णा योजना एवं उजाला योजना, वार्ड संख्या 18 की टीमों ने जननी एक्सप्रेस एवं मैक इन इण्डिया, वार्ड संख्या 19 की टीमों ने गर्गी पुरस्कार एवं प्रधानमंत्राी भारतीय जन औषधी परियोजना, वार्ड संख्या 20 की टीमों ने मुख्यमंत्राी राजश्री योजना एवं स्टार्ट अप इण्डिया, वार्ड संख्या 21 की टीमों ने सहयोग योजना एवं एक भारत श्रेष्ठ भारत योजना, वार्ड संख्या 22 की टीमों ने शारदे बालिका छात्रावास एवं सामूहिक विवाह अनुदान योजना, वार्ड संख्या 23 की टीमो ंने डिजीटल सेहली एवं आरएससीआईटी, वार्ड संख्या 24 की टीमों ने हृदय योजना का संदेश दिया।

इसी प्रकार वार्ड संख्या 25 की टीमों ने अपराजिता योजना एवं मातृत्व लाभ योजना, वार्ड संख्या 26 की टीमों ने वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना एवं आप का जिला आपकी सरकार, वार्ड संख्या 27 की टीमो ंने भामाशाह रोजगार सृजन कार्यक्रम एवं अमृता हाॅट, वार्ड संख्या 28 की टीमों ने अटल सेवा केन्द्र एवं गुरू गोलवलकर जन भागीदारी योजना, वार्ड संख्या 29 की टीमों ने राजस्थान सम्पर्क एवं अटल पेंशन योजना, वार्ड संख्या 30 की टीमों ने जननी शिशु सुरक्षा योजना एवं चिराली योजना, वार्ड संख्या 31 की टीमों ने प्रसुति सहायता योजना एवं महिला सलाह एवं सुरक्षा केन्द्र, वार्ड संख्या 32 की टीमों ने प्रेरणा योजना एवं सामूहिक विवाह अनुदान योजना, वार्ड संख्या 33 की टीमों सशक्त नारी सशक्त भारत एवं दीनदयान उपध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना, वार्ड संख्या 34 की टीमों ने किशोरी स्वास्थ्य योजना एवं प्रधानमंत्राी जीवन ज्योति योजना, वार्ड संख्या 35 की टीमों ने अनुप्रति योजना एवं प्रधानमंत्राी सुरक्षा बीमा योजना, वार्ड संख्या 36 की टीमों ने मुख्यमंत्राी हमारी बेटी योजना एवं प्रधानमंत्राी मुद्रा योजना, वार्ड संख्या 37 की टीमों ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं एवं स्मार्ट सिटी मिशन, वार्ड संख्या 38 की टीमों ने डाॅ. सविता अम्बेडकर अन्र्तजातीय विवाह योजना एवं डिजीटल इण्डिया, वार्ड संख्या 39 की टीमों ने देवनारायण योजना एवं प्रधानमतंत्राी जन धन योजना, वार्ड संख्या 40 कह टीमो ंने प्रियदर्शिनी आदर्श समूह योजना एवं डिजीधन व्यापार योजना, वार्ड संख्या 41 की टीमो ंने मुख्यमंत्राी सक्षम बालिका योजना एवं मिशन इन्द्रधनुष, वार्ड संख्या 42 की टीमों ने प्रधानमंत्राी कौशल विकास योजना एवं प्रधानमंत्राी गरीब कल्याण योजना, वार्ड संख्या 43 की टीमों ने धन लक्ष्मी महिला समृद्धि केन्द्र एवं साझा अभियान तथा वार्ड संख्या 44 की टीमों ने विजन 2020 एवं उड़ान योजना की जानकारी एवं संदेश प्रदान किया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top