edvertise

edvertise
barmer

नई दिल्ली 13 महीने से फरार विजय माल्या को लंदन में गिरफ्तारी के चंद घंटे बाद ही मिली जमानत

देश के बैकों से लिए गए लगभग 9 हजार करोड़ रुपए नहीं चुका पाने के कारण देश छोड़कर भाग जाने वाले किंगफिशर मालिक विजय माल्या को वेस्टमिंस्टर कोर्ट के आदेश के बाद लंदन में गिरफ्तार किया गया। उसके बाद उन्हें अदालत से जमानत मिल गई।

गिरफ्तारी के बाद माल्या को भारत प्रत्यार्पित किया जा सकता है। देश छोड़ने के बाद भारत माल्या को लंदन से प्रत्यार्पित करने की कोशिश में लगा हुआ था। इसे लेकर नई दिल्ली और लंदन के बीच कई दौर की बातचीत भी हुई थी।

अपनी गिरफ्तारी को लेकर विजय माल्या ने ट्वीट कर कहा है कि भारत की मीडिया जबरदस्ती इस मामले को उछाल रही है। साथ ही कहा कि प्रत्यर्पण के सिलसिले में उनकी सुनवाई पहले से तय थी।गौरतलब है कि इस मामले में पीएम मोदी ने कहा कि वह जल्द से विजय माल्या को बहुत जल्द भारत लाया जाएगा। तो वहीं माल्या के ऊपर देश के 17 बैंकों का 7800 करोड़ कर्ज है। जिसके बाद उन्हें कई बैंकों ने डिफॉल्टर घोषित कर दिया था।

सूत्रों के मुताबिक, इंटरपोल की मदद से माल्या को स्कॉटलैंड यार्ड पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उन्हें भारत लाने के लिए सीबीआई की टीम लंदन जाएगी। विजय माल्या फिलहाल लंदन में हैं। तो वहीं पिछली तारीख में अदालत ने कहा था कि माल्या भारत की न्यायिक व्यवस्था पर भरोसा नहीं रखते हैं। साथ ही कहा था कि उनका कोर्ट में पेश होने का कोई इरादा नहीं है। ध्यान हो कि पिछले दिनों माल्या ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरान कहा था कि वह भारत की दो बड़ी राजनीतिक पार्टियों के लिए फुटबॉल की तरह हो गए हैं। इसके अलावा माल्या ने कहा था कि भारत सरकार के पास उनके प्रत्यार्पण के लिए कोई वजह नहीं है। इसलिए वह ब्रिटेन नहीं छोड़ेंगे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top