edvertise

edvertise
barmer



अजमेर, 10 रूपए के सिक्के है सर्वमान्य मुद्रा

लेने से मना करना है राजद्रोह


अजमेर, 10 अप्रेल। बाजार में चलने वाले 10 रूपए के समस्त सिक्के वैध मुद्रा है। इस स्वीकार्य मुद्रा को लेने से मना करना राजद्रोह की श्रेणी में आता है।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल एवं अग्रणी जिला बैंक प्रबंधक श्री आर.के.जांगिड़ ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा समय-समय पर अधिसूचना जारी कर 10 रूपए के सिक्कों के संबंध में भ्रांतियां दूर की जाती है। रिजर्व बैंक के अनुसार बाजार में मौजूद समस्त 10 रूपए के सिक्के वैध सर्वमान्य मुद्रा है। इनके लेनदेन से मना करना राजद्रोह की श्रेणी में आता है। रिजर्व बैंक द्वारा छोटे लेनेदने को सहज रूप से सम्पन्न करवाने के लिए सिक्के जारी किए जाते है। नोटों के मुकाबले सिक्कों की आयु अधिक होने के कारण इन्हें रिजर्व बैंक के द्वारा जारी किया जाता है। समस्त भारतीय नागरिकों से उन्होंने अपील की कि 10 रूपए के सिक्कों को लेनदेन में स्वीकार किया जाना चाहिए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top