edvertise

edvertise
barmer



जालोर 5 पंच निर्विरोध निर्वाचित

जालोर 23 मार्च - जिले में पंचायती राज संस्थाओं के रिक्त हुए पदों के उप चुनाव के तहत नाम निर्देशन प्रक्रिया के अन्तर्गत 5 पंच निर्विरोध निर्वाचित हुए।

जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) अनिल गुप्ता ने बताया कि जिले में पंचायती राज संस्थाओं के रिक्त हुए पदों पर होने वाले उप चुनाव के तहत 22 मार्च को नाम निर्देशन पत्रा वापस लेने की प्रक्रिया के पश्चात् 5 पंच निर्विरोध निर्वाचित हुए जिनमें भीनमाल पंचायत समिति क्षेत्रा के नरता ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 3 में दामोदरलाल पुत्रा गोरीशंकर, सेवडी ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 2 में भलेखां पुत्रा पीरेखां व लाखनी ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 4 में पदमाराम पुत्रा माधुराम, चितलवाना पंचायत समिति की परावा ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 10 में कमाराम पुत्रा दजाराम माली तथा सांचैर पंचायत समिति की गुन्दाऊ ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 5 में अमिया देवी वार्ड पंच के पद पर निर्विरोध निर्वाचित हुई।

उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त नाम निर्देशन प्रक्रिया के तहत रानीवाडा पंचायत समिति की चितरोडी ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 9 के लिए दो नामांकन दाखिल हुए जिसके लिए 26 मार्च को मतदान करवाया जायेगा वही जालोर पंचायत समिति मेडा उपरला ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 6 व आहोर पंचायत समिति की चवरछा ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या 5 में एक भी नामांकन पत्रा दाखिल नहीं हो सका।

---000---

राजस्थान दिवस मैराथन दौड़ सम्पन्न, सफेद टोपी लगायें दौडे धावक
जालोर 23 मार्च - राजस्थान दिवस समारोह के तहत गुरूवार को जिला मुख्यालय पर ‘‘राजस्थान दिवस मैराथन‘‘ दौड का आयोजन किया जिसे जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

राजस्थान दिवस समारोह के तहत गुरूवार को प्रातः स्थानीय कलेक्ट्रेट परिसर से राजस्थान दिवस मैराथन दौड प्रारभ्भ की गई जिसे जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर दौड को रवाना किया। सफेद टोपी लगायें धावको ने उत्साह से दौड में भाग लिया वही जिला कलेक्टर से लेकर सभी अधिकारी व कर्मचारी भी सफेद टोपी पहनें कार्यक्रम में शामिल थे। इस अवसर पर जालोर पुलिस अधीक्षक कल्याण मल मीना, कार्यवाहक अतिरिक्त जिला कलेक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरिराम मीना, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पी.डी. धानिया एवं जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह उपस्थित थें। दौड में महिला पुलिस कर्मी, पुलिस जवान, नर्सिग प्रशिक्षणार्थी, स्काउट के स्वयंसेवक, डाईट के छात्रा एवं विभिन्न स्कूलों के छात्रा-छात्राओं सहित ग्रामीण क्षैत्रों के धावकों ने भाग लिया। मैराथन दौड कलेक्ट्रेट से शिवाजी नगर चैराहे होते हुए सीधे जालोर स्टेडियम के मैन गेट पर पहुची जहां पर महिला एवं पुरूष वर्ग तथा स्कूली बालकों के प्रथम द्वितीय आने पर उन्हें चिन्हित किया गया जिन्हे 30 मार्च को आयोजित भक्ति संध्या में पुरूस्कृत किया जायेगा।

इस अवसर पर जालोर नागरिक बैंक के अध्यक्ष मोहन पाराशर, अधिवक्ता एवं समाजसेवी मानवेन्द्र राजपुरोहित, जालोर तहसीलदार सुश्री ममता लहुआ, जिला शिक्षा अधिकारी ललितशंकर आमेटा व आर.के. मीना, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी भैराराम चैधरी व मुकेश सोंलकी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक डा. ज्योति प्रकाश अरोडा, जालोर नगर परिषद के आयुक्त त्रिकमदान चारण, स्काउट सीओं निशु कंवर, जिला रसद अधिकारी सम्पतराज वडेरा, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियन्ता रमेश सिंघारिया एवं पुलिस एस.एच.ओं. चम्पाराम सहित बडी संख्या में अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थें।

----000---

शहीद स्मारक पर पुष्पाजंलि कार्यक्रम का आयोजन, शहीदों को किया नमन
जालोर 23 मार्च - देश के प्रमुख क्रांतिकारी भगतसिंह, राजगुरू एवं सुखदेव के बलिदान दिवस पर गुरूवार को प्रातः शहीद स्मारक पर जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता की उपस्थिति में पुष्पाजंलि का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ जहां पर सभी ने शहीदों को नमन करते हुए पुष्प अर्पित कर उनके व्यक्त्वि एवं कृत्तित्व का स्मरण किया।

रेल्वे स्टेशन पर स्थित शहीद स्मारक पर गुरूवार को प्रातः देश के स्वतन्त्राता संग्राम में अपना सर्वस्व अर्पित करने वाले देश के प्रमुख क्रंातिकारी सरदार भगतसिंह, राजगुरू एवं सुखदेव के बलिदान दिवस पर पुष्पाजंलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां पर सर्वप्रथम जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता ने शहीदों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया तत्पश्चात पुलिस अधीक्षक कल्याणमल मीना एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पी.डी. धानिया सहित विभिन्न अधिकारियों ने माल्यार्पण किया तथा उपस्थित पुलिस के जवानों, नर्सिग प्रशिक्षुओं एवं धावकों ने पुष्प अर्पित कियें । इस अवसर पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरिराम मीना ने शहीदों द्वारा किये गये कार्यो पर प्रकाश डाला वही स्काउट के अधिकारी ने गीत गाया तथा उपस्थित लोगो ने वन्दे मात्रम, इंकलाब जिन्दाबाद एवं भारत माता जय के गगनभेदी नारे लगाकर कार्यक्रम को ऊॅचाईया दी।

कार्यक्रम में जालोर तहसीलदार सुश्री ममता लहुआ, जिला शिक्षा अधिकारी ललितशंकर आमेटा व आर.के. मीना, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी भैराराम चैधरी व मुकेश सोंलकी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक डा. ज्योति प्रकाश अरोडा, जालोर नगर परिषद के आयुक्त त्रिकमदान चारण, स्काउट सीओं निशु कंवर, जिला रसद अधिकारी सम्पतराज वडेरा, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियन्ता रमेश सिंघारिया एवं पुलिस एस.एच.ओं. चम्पाराम सहित बडी संख्या में अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थें।

----000---

जल संरक्षण पर एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न
जालोर 23 मार्च - जिला प्रमुख डा.वन्नेसिंह गोहिल की अध्यक्षता में गुरूवार को जिला परिषद के सभा कक्ष में एक दिवसीय जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें एकीकृत जल संसाधन एवं सामुदायिक सहभागिता कार्यक्रम के तहत उपस्थित जनप्रतिनिधियों एवं संभागियों को विभिन्न कार्यो की जानकारियाॅ दी गई।

एकीकृत जल संसाधन एवं सामुदायिक सहभागिता कार्यक्रम यूरोपियन यूनियन राज्य सहभागिता के तहत जिला परिषद के सभा कक्ष में गुरूवार को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें जिला प्रमुख डा. वन्नेसिंह गोहिल, जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरिराम मीना, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैलाशचन्द्र शर्मा की उपस्थिति में एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न हुई जिसमें यूरोपियन कमीशन के तहत जल का संरक्षण करने के लिए किये गये विभिन्न कार्यो पर पाॅवर पोईन्ट प्रजेटेशन के माध्यम से जानकारियाॅ दी गई । कार्यशाला में अंबुजा सीमेन्ट फाउडेंशन पाली के अजय टांक एवं जल भागीरथी फाउडेशन जोधपुर के वरूण गोयल ने विभिन्न स्थानों पर किये गये कार्यो की उपयोगिता एवं उनसे प्राप्त परिणामों आदि पर विस्तार से समझाईश की तथा 15 मिनिट की एक लघु फिल्म भी दिखाई गई। कार्यशाला में जिला ग्रामीण प्रकोष्ठ के अधिशाषी अभियन्ता रिनेश सिंघवी ने जल संरक्षण के महत्व एवं आवश्यकता पर प्रकाश डाला ।

कार्यशाला में जिला परिषद के सदस्य मंगलसिंह सिराणा, मेघराज, हिम्मताराम, दिनेश कुमार श्रीमती पानी देवी एवं सीता भाटी, जिला परिषद परियोजना अधिकारी वित्त ललित कुमार दवे एवं वरिष्ठ लेखाधिकारी चम्पालाल जीनगर सहित विभिन्न विकास अधिकारी एवं अभियन्ता तथा कार्मिक आदि उपस्थित थें। ----000---

बकाया आडिट अनुच्छेदों का निस्तारण व पालना करने के निर्देश
जालोर 23 मार्च - जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में जिला स्तरीय प्रशासनिक परीक्षण समिति की त्रौमासिक बैठक सम्पन्न हुई जिसमें जिले में पंचायती राज, निकायों एवं कृषि उपज मंडियों से सम्बन्धित निधि अंकेक्षण के बकाया आडिट सम्बन्धी कार्यो की समीक्षा की गई।

कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में गुरूवार को आयोजित बैठक में समीक्षा के दौरान जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता ने स्थानीय निधि अंकेक्षण विभाग के तहत पंचायत राज विभाग एवं निकायों तथा कृषि उपज मंडी समितियों के बकाया आक्षेपों की समीक्षा करते हुए कहा कि विभागीय अधिकारी बकाया अनुच्छेदों के निस्तारण के लिए ठोस व प्रभावी कार्यवाही करें तथा गंभीर मामलों में नियमानुसार एफआईआर आदि की कार्यवाही भी करें। उन्होंने कहा कि लेखाकार्मिकों को अनुच्छेदों की पालना रिपोर्ट भी यथा समय पर भिजवानी चाहिए।

बैठक निधि अंकेक्षण विभाग जोधपुर के अतिरिक्त निदेशक सी.एल. सोंलकी ने कहा कि विकास अधिकारी बकाया आडिट आक्षेपो एवं ग्राम पंचायतों के आडिट करवाने सम्बन्धी कार्यो में रूचि ले तथा मात्रा लेखाकार्मिकों के भरोसे ही नही रहें। उन्होंने गबन प्रकरणों की भी विभागवार विस्तार से समीक्षा करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे गबन के मामलों की शत प्रतिशत वसूली करना सुनिश्चित करें। जिला परिषद के लेखाधिकारी एवं समिति के सचिव चम्पालाल जीनगर ने बकाया आडिट आक्षेपों एवं त्रौमास में किये गये कार्यो के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा विभिन्न कार्यो के लिए सीधे राशि ग्राम पंचायतों को मिलती है इसलिए इनकी आडिट अनिवार्य है। बैठक में वरिष्ठ लेखाधिकारी ललित कुमार दवे ने बकाया अनुच्छेदों तथा स्थानीय निधि अंकेक्षण विभाग से सम्बन्धित बकाया जानकारी दी।

इस अवसर पर विभिन्न पंचायत समितियों के विकास अधिकारी, लेखाकर्मी तथा निकायों एवं कृषि उपज मंडी समिति के कार्मिक उपस्थित थें।

----000---

जिला स्तरीय तकनीकी सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न
जालोर 23 मार्च - जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में दी जालोर सेन्ट्रल काॅपरेटिव बैंक लिमिटेड की तकनीकी सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न हुई जिसमें किसानों को अल्पकालीन फसली ऋण उपलब्ध करवाये जाने के लिए फसलवार लागत का पुर्ननिर्धारण किया गया।

जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में आयोजित जिला स्तरीय तकनीकी सलाहकार समिति की बैठक में विचार विमर्श के दौरान जिला कलेक्टर ने कहा कि जिले में फसलों का उत्पादन एवं कृषकों की आवश्यकताओं का आंकलन करते हुए फसलवार लागत का निर्धारण करना होगा जिसमें सभी बिन्दुओं का भी यथेष्ट ध्यान रखा जाये।

बैठक में प्रबन्ध निदेशक ओमपाल सिंह भाटी ने गत बैठक में लिये गये निर्णयों की क्रियान्विति एवं जिले में विभिन्न फसलों के लिए राज्य स्तरीय निर्णयों व जिले में प्रचलित लागत का तुलनात्मक विवरण प्रस्तुत किया तत्पश्चात विभिन्न फसलों के लिए प्रस्तावित राशि का निर्धारण किया गया। बैठक में नाबार्ड के जितेन्द्र के.मीणा, राजस्थान मरूधरा ग्रामीण बैक के क्षेत्राीय प्रबंधक पी.एन. भट् एवं मार्गदर्शी बैंक अधिकारी एम.एस. राठौड ने भी अपने सुझाव दियें।

बैठक में कृषि विभाग के उप निदेशक भूराराम पाटीदार, भूमि विकास बैंक के सचिव हीरालाल एवं सहकारी समिति के उप रजिस्ट्रार बाबूलाल तथा काॅपरेटिव बैंक के प्रेमसिंह कच्छवाह सहित समिति के विभिन्न सदस्य एवं अधिकारी आदि उपस्थित थे।

----000---

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top