बाड़मेर अभियानों को गंभीरता से लेने के साथ राजस्व वसूली सुनिष्चित करेंः शर्मा
बाड़मेर, 25 मार्च। राजस्व अधिकारी राज्य सरकार की ओर से चलाए जाने वाले विभिन्न अभियानांे को लेकर गंभीरता से कार्य करें। राजस्व वसूली के लक्ष्यों की शत प्रतिशत प्राप्ति सुनिश्चित की जाए। पंजीयन मुद्रांक वसूली में 31 मार्च से पहले आवंटित लक्ष्य अर्जित किए जाए। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने शनिवार को बाड़़मेर जिला मुख्यालय पर राजस्व अधिकारियांे की बैठक के दौरान यह बात कही।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि खाता विभाजन के प्रकरणों के निस्तारण के लिए योजनाबद्ध तरीके से प्रयास किए जाए। उन्होंने कहा कि इस वर्ष आयोजित होने वाले ’न्याय आफ द्वार’ अभियान से पूर्व लंबित प्रकरणांे को चिन्हित कर सूची तैयार करें। ताकि अभियान के दौरान ज्यादा-से-ज्यादा प्रकरणों का निस्तारण कर आम जन को राहत प्रदान की जा सके। जिला कलक्टर ने कहा कि इस वर्ष के अभियान को ध्यान में रखते हुए अभी से योजना बनाए, ताकि बेहतर परिणाम सामने आ सके। उन्होंने बैठक में राजस्व प्रकरणों के साथ ही संपर्क पोर्टल के बकाया प्रकरणों, लैण्ड कनवर्जन, सडक विकास के लिए भूमि अधिग्रहण से संबंधित मामलों सहित अन्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने विधानसभा प्रश्नों का समय पर जवाब भिजवाने के निर्देश देते हुए कहा कि अधिकारी इनकी स्वयं अपने स्तर पर मॉनिटरिंग करें। बैठक में अधिकारियों को आर.सी.एम.एस. पोर्टल पर सूचनाएं अपडेट करने तथा मॉडर्न रिकार्ड रूम तैयार कराने के भी निर्देश दिए गए। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने न्यायालयों के प्रकरणों की सूचना आरसीएमएस पोर्टल पर नियमित रूप से अपडेट कराने के निर्देश दिए। उन्हांेने युवा पंजीकरण महोत्सव के तहत युवाआंे का पंजीयन करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि इस कार्य मंे लापरवाही बरतने वाले बीएलओ के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाए। इस दौरान सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सहायक निदेशक देवेन्द्र माथुर ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से चुनाव संबंधित कार्याें को संपादित करने के लिए मैन विद मशीन रखने की अनुमति प्रदान की गई है। बैठक के दौरान जिला कलक्टर शर्मा ने महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत निर्मित सड़कांे एवं अन्य कटान मार्गाें का राजस्व रिकार्ड मंे इन्द्राज करने के निर्देश दिए। उन्हांेने संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणांे का बुधवार तक निस्तारण कर पालना रिपोर्ट भिजवाने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान उपखंड अधिकारी, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top