edvertise

edvertise
barmer

बच्चा नहीं हुआ तो पति की कराई दूसरी शादी, फिर भी नहीं हुए बच्चे तो किया ये

woman committed suicide in disappointment
ग्वालियर/दतिया. शहर कोतवाली क्षेत्र के खलकापुरा मोहल्ला में एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना गुरुवार- शुक्रवार की दरमियानी रात की है। महिला सुबह जब काफी देर तक अपने कमरे से बाहर नहीं आई तो देवर ने दरवाजा खटखटाया। खटखटाने की आवाज से भी जब दरवाजा नहीं खुला तो धक्का देकर खोला गया। कमरे के अंदर महिला फांसी पर झूल रही थी।

- जानकारी के अनुसार छल्लापुरा निवासी ममता (28) पत्नी संतोष प्रजापति गुरुवार रात खाना खाने के बाद अपने कमरे में सोने के लिए चली गई थी।

- शुक्रवार को सुबह वह काफी देर तक नींद से नहीं जागी तो उसके देवर विशाल ने कमरे का दरवाजा बजाया।

- चूंकि ममता के कमरे में कूलर चल रहा था। इसलिए विशाल ने सोचा कि कूलर की आवाज से ममता को सुनाई नहीं दे रहा है उसने जोर से धक्का दरवाजे में दिया तो वह खुल गया।

- विशाल ने अंदर जाकर देखा तो ममता मकान की छत के कुंदे से साड़ी बांधकर फांसी पर झूल रही थी। परिवार के अन्य लोग भी आ गए।

- घटना की जानकारी ग्वालियर में ईट भट्टे का काम कर रहे पति संतोष को दी गई। कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

- ममता के पति संतोष ने बताया कि उसकी व ममता की शादी वर्ष 2004 में हुई थी। शादी के 13 साल बाद भी उसको संतान नहीं हुई, जिससे ममता मानसिक रूप से परेशान रहती थी। पुलिस के अनुसार ममता की सहमति से ही संतोष ने संतान प्राप्ति के लिए दूसरी शादी भी कर ली थी। लेकिन फिर भी उसे कोई संतान नहीं हुई। फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज करते हुए मामले की विवेचना शुरू कर दी है।




ईंट भट्टा पर काम करता है पति

मृतका ममता का पति ग्वालियर में रहता है और वहीं पर ईट भट्टा लगाने का काम करता है। इसी से उसके परिवार गुजर बसर होता है। घटना के वक्त भी वह ग्वालियर में था। उसके भाई विशाल ने घटना की जानकारी दी तब वह ग्वालियर से दतिया आया। उसने पुलिस को बताया कि ममता को सिर्फ बच्चा नहीं होने की चिंता थी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top