edvertise

edvertise
barmer



सांसद देवजी पटेल ने की प्रकाष जावडेकर से मुलाकात
सिरोही जिला मुख्यालय पर केन्द्रीय विद्यालय खोलने, जालोर में केन्द्रीय विद्यालय के नवीन भवन का षीघ्र निर्माण करवाने एवं स्थाई प्रधानाचार्य नियुक्ति की रखी मांग
नईदिल्ली। 29 मार्च, 2017 बुधवार।

जालोर-सिरोही लोकसभा सांसद देवजी पटेल ने नईदिल्ली में बुधवार को मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर से मुलाकात कर सिरोही जिला मुख्यालय पर केन्द्रीय विद्यालय खोलने, जालोर में केन्द्रीय विद्यालय के नवीन भवन का शीघ्र निर्माण करवाने एवं स्थाई प्रधानाचार्य के नियुक्ति की मांग रखी।

सिरोही जिला मुख्यालय पर केन्द्रीय विद्यालय खोला जायें: सांसद पटेल ने मुलाकात के दौरान मंत्री को बताया कि सिरोही जिला साक्षरता एवं शिक्षा के क्षेत्र में अत्यंत पिछडा हुआ हैं। आंकड़ों के अनुसार सिरोही जिले की 10लाख 36हजार 346 आबादी में से लगभग 5लाख 34हजार 364 लोगों ने कभी भी औपचारिक या अनौपचारिक शिक्षा ग्रहण नही की हैं। ग्रामीण क्षेत्र में 57.28 और शहरी क्षेत्र में 28.94 प्रतिशत लोग कभी शैक्षणिक संस्थान में नहीं गए। आश्चर्य यह है कि कुल अशिक्षित आबादी में से अधिक संख्या महिलाआंे की है तथा 2012 की जनगणना के अनुसार जिले में महिलाओं की साक्षरता दर मात्र 37 प्रतिशत है। जिले की 14 प्रतिशत जनसंख्या 10 वर्ष से कम आयु की है। 1 से 8 वर्ष के छात्रों की कुल जनसंख्या लगभग 172520 है। इसमे से अधिकतर छात्रांे को शिक्षा के लिए निजी विद्यालय के शरण मे जाना पड़ता हैं। यहाॅ ग्रामीण क्षेत्र में स्कुलों की बहुत कमी है तथा काॅलेज भी गिने चुने है। यहाॅ के अनेक गरीब छात्र अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा से वंचित रह जाते हैं। विद्यार्थियों के साथ-साथ अभिभावक, शिक्षाविद व जनप्रतिनिधि सिरोही जिला मुख्यालय पर केन्द्रीय विद्यालय की आवश्यकता महसुस कर रहे है। जिससे गरीब और ग्रामीण क्षेत्र के मेधावी छात्रों को गुणवतापूर्ण शिक्षा मिल सके।

जालोर में केन्द्रीय विद्यालय के नवीन भवन का शीघ्र निर्माण पूर्ण करवाया जायें: सांसद पटेल ने मानव संसाधन विकास मंत्री जावडेकर से मुलाकात के दौरान बताया कि जालोर जिला मुख्यालय पर 22 सितम्बर, 2014 को केन्द्रीय विद्यालय शुरू हुआ था। विद्यालय के लिए खुद का भवन नहीं होने से अस्थायी तौर पर अन्य विद्यालय मे संचालित किया जा रहा हैं। इस सत्र मे कक्षाएं बढ़ने के साथ ही विद्यालय का यह परिसर छोटा पड़ने लगा है। अस्थाई परिसर में बारिश के मौसम में भरने वाले पानी के कारण कई बार विद्यालय की छुट्टी तक करनी पडती है। विद्यालय के भवन हेतु प्रशासन द्वारा भूमि भी चिन्ह्ति कर उपलब्ध करवा दी गई हैं। भवन निर्माण हेतु बजट भी स्वीकृत हो चुका है। उन्होंने बताया कि नवीन भवन निर्माण का कार्य बहुत ही धीमी गति से चल रहा है। इसलिए शीघ्र निर्माण कार्य पूर्ण करवाकर विद्यालय संचालन किया जायें।

केन्द्रीय विद्यालय जालोर में स्थाई प्रधानाचार्य की नियुक्ति की जायें: सांसद पटेल ने एचआरडी मंत्री जावडेकर से मुलाकात के दौरान बताया कि जालोर जिला मुख्यालय पर संचालित केन्द्रीय विद्यालय में लंबे समय से प्रधानाचार्य का पद रिक्त हैं। मंत्री ने विद्यालय में स्थाई प्रधानाचार्य की शीघ्र नियुक्ति करवाने की बात कही।

संपादक महोदय को प्रकाषनार्थ प्रेषित:-

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top