कांग्रेसियों ने पत्थर फैंक तोड़े बेरिकेड्स, फिर पुलिस ने लाठियां मार-मार कर दौड़ाया, पानी छोड़ा

कांग्रेसियों ने पत्थर फैंक तोड़े बेरिकेड्स, फिर पुलिस ने लाठियां मार-मार कर दौड़ाया, पानी छोड़ा
जयपुर। किसानों के कर्ज माफ करने और मुआवजे की मांग पर गुरुवार को यूथ कांग्रेस ने एक बार फिर उग्र प्रदर्शन किया। जमकर पत्थर फेंके और बेरिकेड्स तोड़ने लगे। इसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। फिर वाटर कैनन से प्रहार भी किए गए। यूं हुआ प्रदर्शन...




- राज्य सरकार के खिलाफ यूथ कांग्रेस की ओर से विधानसभा पर प्रदर्शन किया जा रहा है।

- यूथ कांग्रेस के उग्र प्रदर्शन को रोकने के लिए सरकार ने खासे बंदोबस्त किए हैं।

- इसी बीच आगे बढ़ते यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं सहित बड़ी संख्या में नेता यहां रैली के रूप में पहुंचे और बेरिकेड्स की ओर आगे बढ़ गए।

- इसके बाद बेरिकेड्स तोड़ने का प्रयास किया गया। जब सफल नहीं हुए तो कांग्रेसियों ने पुलिस पर पत्थर फैंकना शुरू कर दिया।

- इसके बाद पुलिस को कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा।

- कांग्रेसियों को रोकने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार शुरू कर दी। इसके बाद कांग्रेसी तितर-बितर हुए।

ये थी डिमांड, पूर्व में भी किया था ऐसा प्रदर्शन, कई को आई थी चोटें

- किसानों का ऋण माफ़ करने के लिए सरकार के खिलाफ यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने यह प्रदर्शन किया।

- यह प्रदर्शन यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरिंदर सिंह बरार और प्रदेश अध्यक्ष अशोक चांदना के नेतृत्व में किया गया।

- पूर्व में भी एक बार ऐसा ही प्रदर्शन इन दोनों के नेतृत्व में किया गया, जिसमें कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट समेत कई को चोटें आई थीं।

- तब भी यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता बेरिकेड्स पर चढ़ गए और महिला पुलिसकर्मियों के साथ भी धक्का-मुक्की और दुर्व्यवहार करने लगे थे।

- इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। वह मामला कई दिन तक विधानसभा में गर्म रहा।

प्रदर्शन से पहले ये सब हुआ

- यूथ कांग्रेस के इस प्रदर्शन से पहले एक सभा भी हुई, जिसे प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व सीएम अशोक गहलोत, पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. सीपी जोशी समेत कई नेताओं ने संबोधित किया था।

- इस सभा में ही बरार और चांदना ने आर-पार की लड़ाई की बात कही थी।

- इसके बाद नतीजतन यह उग्र प्रदर्शन किया गया। जिसके बदले पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top