राजे सरकार के बजट पर टिकी हैं प्रदेशवासियों की निगाहें, 8 मार्च को विधानसभा में होगा पेश

राजे सरकार के बजट पर टिकी हैं प्रदेशवासियों की निगाहें, 8 मार्च को विधानसभा में होगा पेश
राजस्थान के बजट में अब कुछ ही दिन बचे हैं. 8 मार्च यानी बुधवार को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे विधानसभा में प्रदेश का बजट पेश करेंगी. इस बजट को पूरा प्रदेश उम्मीदों भरी निगाहों से देख रहा है. माना जा रहा है कि यह बजट प्रदेश के आर्थिक विकास को गति देने वाला होगा.

मुख्यमंत्री राजे ने प्रदेश के आर्थिक विकास और औद्योगिक निवेश के लिए योजनाएं बना कर काम किया है. प्रदेश में इनवेस्टमेंट प्रमोशन पॉलिसी, एमएसएमई पॉलिसी, स्टार्टअप पॉलिसी और सिंगल विंडो एक्ट लागू किया गया है.प्रदेश के निर्यातकों को उम्मीद है कि इस बजट में प्रदेश निर्यात नीति की औपचारिक घोषणा होगी. नोटबंदी ने बाजार और व्यापारियों को प्रभावित किया है. अब प्रदेश के व्यापारी उम्मीद लगा रहे हैं कि मुख्यमंत्री राजे बजट में रियायतों की सौगात देंगी.

टेंट, कैटरिंग, लाइटिंग, फ्लॉवर और ईवेंट मैनेजमेंट ऐसे व्यवसाय हैं जिनमें काफी संख्या में लोगों को रोजगार उपलब्ध होता है. इनमें से ज्यादातर लोग कम पढ़े लिखे होते हैं. बजट से उम्मीद है कि इस व्यवसाय से जुड़े युवाओं को स्किल डवलपमेंट योजना से जोड़ने का अवसर मिलेगा. इस ट्रेड पर कई करों और स्थानीय प्रशासन के शुल्क का भार है.

टेंट डीलर्स सीएम राजे से इस भार को कम करने की उम्मीद कर रहे हैं. फिलहाल जीएसटी को लेकर इस व्यवसाय से जुड़े लोगों में भ्रम की स्थिति है. माना जा रहा है कि सीएम राजे का बजट इस भ्रम को दूर करेगा.

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top