edvertise

edvertise
barmer

नागौर डीएसओ को 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी ने दबोचा
नागौर डीएसओ को 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी ने दबोचा

नागौर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए नागौर जिला रसद अधिकारी (डीएसओ) राकेश कुमार शर्मा को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. साथ ही डीएसओ के नौकर और एक किराणा दुकानदार को भी एसीबी ने गिरफ्तार किया है.

एसीबी ने इस कार्रवाई को पूरी तरह से गोपनीय रखकर अंजाम दिया है. नागौर एसीबी के डीएसपी जाकिर अख्तर ने बताया कि मूंडवा निवासी जगदीश तिवाडी ने शुक्रवार शाम को परिवाद पेश किया था कि नागौर डीएसओ राकेश कुमार शर्मा उससे रिश्वत की मांग कर रहे हैं. इस पर परिवाद का सत्यापन करवाया तो परिवाद सही पाया गया.उन्होंने बताया कि इसके बाद एसीबी ने शनिवार को जाल बिछाया. परिवादी जगदीश ने 30 हजार की रिश्वत देने के लिए डीएसओ राकेश कुमार शर्मा से संपर्क किया. इस पर डीएसओ ने 30 हजार की रिश्वत राशि नागौर के दुकानदार जितेंद्र सिंह की दुकान पर रखने को कहा. परिवादी ने रुपए वहां रख दिए. कुछ देर बाद डीएसओ का नौकर तुलसीराम दुकान पर आया और रिश्वत राशि ली और रवाना हो गया.

एसीबी ने मौके से दोनों को गिरफ्तार कर लिया. दोनों को गिरफ्तार करने के बाद उसने डीएसओ के ठिकाने पर दबिश दी और तीनों को रूबरू करवाने के साथ परिवादी को भी रूबरू कराया और गिरफ्तार कर लिया. एसीबी ने गिरफ्तारी के साथ ही रिश्वत राशि के 30 हजार रुपए भी बरामद किए.

वहीं परिवादी जगदीश तिवाड़ी ने बताया कि डीएसओ कई दिन से तेल मिल आ रहा था और परेशान कर रहा था. आखिर में 30 हजार में सौदा तय हुआ. उसने लाइसेंस के लिए भी अप्लाई कर रखा है. फिर भी डीएसओ उसे परेशान कर रहा था.

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top