edvertise

edvertise
barmer

नाग की मौत के बाद नागिन ने भी दी जान, 20 सालों से चर्चित थी प्रेम कहानी
End of Nag Nagin love story

विदिशा।मंडीबामौरा के मढ़बामौरा क्षेत्र में पिछले 20 साल से चली आ रही एक नाग-नागिन के जोड़े की प्रेम कहानी का शनिवार को अंत हो गया। नाग की मौत के बाद नागिन ने भी मृत नाग के शरीर के सामने अपने प्राण त्याग दिए। नाग-नागिन का जोड़ा जिंद बाबा के मंदिर में रहता था...

यह है पूरी कहानी...

-विदिशा जिले के मंडीबामौरा के मढ़बामौरा क्षेत्र में नाग-नागिन के दर्शन करने के लिए आने वाले लोग खुद को नसीबवाला मानते थे। इस जोड़े की मौत हो जाने से गांव में शोक की लहर है।

-मढ़बामोरा गांव के बीचों-बीच स्थित जिंद बाबा मंदिर के सामने शुक्रवार दोपहर 3 बजे एक नाग-नागिन का जोड़ा अचेत अवस्था में देखा गया। इन्हें एक साथ देख लोग सहम गए।

-आसपास काम कर रहे मजदूरों के मुताबिक पहले सिर्फ वहां नाग वहां पड़ा देखा गया था, फिर कुछ देर बाद नागिन भी आ गई। देर शाम तक जब नाग-नागिन एक ही जगह पर पड़े रहे, तब लोगों को पता चला कि दोनों की मौत हो चुकी है। शनिवार सुबह करीब 10 बजे बड़ी संख्या में गांववालों ने प्राचीन हजारिया महादेव मंदिर के पीछे नाग-नागिन का विधिवत अंतिम संस्कार कर दिया।

मजदूरों ने ग्रामीणों को दी सूचना

गांव के हरिओम रघुवंशी ने बताया कि खेत में काम कर रहे मजदूरों ने नाग-नागिन के जिंद बाबा मंदिर के पास पड़े होने की सूचना दी थी। हालांकि शनिवार सुबह तक लोग इनके पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे।

-लोकेन्द्र रघुवंशी नामक व्यक्ति हिम्मत कर उनके पास गया, तो पता चला कि दोनों मर चुके हैं। विशाल रघुवंशी सहित अन्य गांववालों ने बताया कि ये नाग-नागिन का जोड़ा लगभग 20 साल से यहां रह रहा था।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top