edvertise

edvertise
barmer



जोधपुर  महिला झूठे आरोप लगा फौजी को करती रही ब्लैकमेल, देह शोषण की धमकी दे एेंठे 1.30 लाख रुपए
ये महिला झूठे आरोप लगा फौजी को करती रही ब्लैकमेल, देह शोषण की धमकी दे एेंठे 1.30 लाख रुपए




जम्मू-कश्मीर में पांच आतंकियों को मारकर सेना मेडल से सम्मानित होने वाले एक फौजी को विष्णु नगर स्थित मकान में झूठे ब्लैकमेलिंग में फंसाकर 1.30 लाख रुपए एेंठने वाली महिला को बनाड़ थाना पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया। वह खींवसर (नागौर) थानान्तर्गत कुरछी गांव स्थित पति के ननिहाल में छुपी हुई थी। पति की तलाश की जा रही है।




थानाधिकारी जोगेन्दर सिंह के अनुसार प्रकरण में मूलत: मतोड़ा थानान्तर्गत जाखण हाल डिगाड़ी में विष्णु नगर निवासी संतोष (30) पत्नी मालाराम जाट व उसका पति वांछित हैं। दोनों के कुरछी गांव स्थित मालाराम के ननिहाल में छुपे होने की सूचना पर पुलिस ने वहां दबिश दी। संतोष तो पकड़ में आ गई, लेकिन उसका पति वहां से भाग निकला। पुलिस ने संतोष चौधरी को गिरफ्तार कर लिया। जिसे रविवार को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा। उधर, पुलिस ने मालाराम का पीछा भी किया, लेकिन वह पकड़ में नहीं आया। महिला के मित्र डिगाड़ी में सैनिकपुरी निवासी लक्ष्मण पुत्र मांगीलाल बिश्नोई को पुलिस पूर्व में बापर्दा गिरफ्तार कर जेल भिजवा चुकी है।




सेना के मेजर ने एनएलयू छात्रा से की छेड़छाड़, पर्सनल फोटो सार्वजनिक करने की दी धमकी

गौरतलब है कि साथी जवान के आग्रह पर फौजी हम्माराम गत 25 फरवरी को मिठाई का डिब्बा देने के लिए संतोष के घर गया था। गत आठ मार्च को वह बनाड़ क्षेत्र स्थित कैंटीन गया तो महिला के घर चला गया। वह पावटा पहुंचा तो महिला ने फोन कर घर बुलाया। वह उसके घर पहुंचा तो महिला ने मकान में बंद कर दिया और पति के साथ मिलकर ब्लैकमेल का आरोप लगाने लगी। उससे साढ़े 18 हजार रुपए ले लिए। साथ ही एटीएम कार्ड छीनकर पासवर्ड भी ले लिया था। महिला के साथी लक्ष्मण ने एटीएम कार्ड से 1.11 लाख रुपए की चपत लगा दी थी।




महिला ने साथी युवक को दिए थे दस हजार रुपए




पुलिस का कहना है कि एटीएम कार्ड छीनने के बाद महिला के बुलावे पर लक्ष्मण वहां आया था। एटीएम कार्ड व पासवर्ड लेकर वह एटीएम गया, जहां से लक्ष्मण ने पचास हजार रुपए निकाले। राशि निकालने की लिमिट समाप्त होने पर उसने पचास हजार रुपए अपने खाते में स्थानान्तरित करवा लिए। साथ ही रातानाडा स्थित इलेक्ट्रोनिक शोरूम से 11 हजार रुपए में एक मोबाइल खरीदा था। अपने खाते में जमा करवाए पचास हजार रुपए भी लक्ष्मण ने हाथों हाथ निकाल लिए थे। मोबाइल व एक लाख रुपए उसने संतोष को दिए। बदले में महिला ने उसे दस हजार रुपए दिए थे। इलेक्ट्रोनिक शोरूम के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर लक्ष्मण को पकड़ा गया था।




महिला की एफआईआर पर एफआर की तैयारी




फौजी के एफआईआर दर्ज कराने पर महिला ने भी दुष्कर्म के प्रयास की परस्पर विरोधी एफआईआर दर्ज कराई थी। जो जांच में झूठी निकली। अब पुलिस उस मामले में एफआर लगाने की तैयारी में है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top