edvertise

edvertise
barmer

PAK ने पहली बार हाफिज सईद को आतंकी माना, टेरर लिस्ट में डाला नाम
Pakistan First time accept Hafiz Saeed is a terrorist, international news in hindi, world hindi news

इस्लामाबाद.पाकिस्तान ने पहली बार जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद को आतंकी माना है। पंजाब प्रोविंस की सरकार ने सईद और उसके एक करीबी सहयोगी काजी काशिफ का नाम एंटी-टेररिज्म एक्ट (ATA) के 4th शेड्यूल में शामिल किया है। सईद को 30 जनवरी को नजरबंद किया गया था और उसका नाम एक्जिट कंट्रोल लिस्ट में भी शुमार किया गया है। 4th शेड्यूल में 1450 नाम...

- पाकिस्तान के न्यूजपेपर डॉन ने एक पुलिस ऑफिशियल के हवाले से यह जानकारी दी है।

- ऑफिशियल के मुताबिक फेडरल होम मिनिस्ट्री के आदेश पर काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट (सीटीडी) ने 4th शेड्यूल में दर्ज 1450 नामों के साथ इन दोनों के नाम भी जोड़ दिए हैं।

- इस लिस्ट में फैसलाबाद के अब्दुल्ला ओबैद और मुरीदके के मरकज-ए-तैयबा के जफर इकबाल, अब्दुर रहमान आबिद के नाम भी शामिल किए गए हैं।

- होम मिनिस्ट्री ने इन तीनों की पहचान जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत के 'एक्टिव मेंबर्स' के तौर पर की है जिसके बाद सीटीडी से इनके खिलाफ 'जरूरी और सही कदम उठाने' को कहा गया था।

- ऑफिशियल के मुताबिक, ग्वांतानामो खाड़ी से पाकिस्तान लाए गए 3 कैदियों के नाम भी इस लिस्ट में शामिल किए गए हैं।




क्या है ATA?

- पाकिस्तान में एंटी-टेररिज्म एक्ट (ATA) 1997 में लागू हुआ था।

- यह कानून सरकार को किसी भी शख्स की पहचान कर उस पर एकतरफा कार्रवाई करते हुए 4th शेड्यूल में उसका नाम दर्ज करने का अधिकार देती है।

- इस कानून के सेक्शन 11EE के मुताबिक, वह शख्स जिसका आतंकवाद में हाथ हो, बैन किए गए किसी ऑर्गनाइजेशन का मेंबर हो या इंटीरियर मिनिस्ट्री की वाच लिस्ट में हो या आतंकवाद फैलाने वाले संगठन में शामिल हो, उसका नाम 4th शेड्यूल में रखा जा सकता है।

- 4th शेड्यूल के नॉर्म्स के मुताबिक इसमें शामिल शख्स पर निगरानी रखी जाती है। शख्स के लिए लोकल पुलिस के पास रोजाना हाजिरी लगानी जरूरी होती है।

कौन है हाफिज सईद?

- जमात-उद-दावा का चीफ है हाफिज सईद।

- पाक सरकार ने उसके खिलाफ एक्शन 8 आतंकी हमलों में 100 से ज्यादा लोगों की जान जाने के बाद लिया है।

- नवंबर 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों के बाद भी हाफिज सईद को पाक में नजरबंद किया गया था। वह मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है, लेकिन पाक कोर्ट ने उसे 2009 में मुक्त कर दिया था।

- सईद के सिर पर अमेरिका ने 10 मिलियन का ईनाम घोषित कर रखा है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top