edvertise

edvertise
barmer



अजमेर  पूरे देश में नाम रोशन करेंगी राजस्थान की बेटियां - प्रो. देवनानी
प्रदेश की 92 हजार बालिकाओं को गार्गी पुरस्कार का वितरण
अजमेर में भी पूरे जिले में आयोजित कार्यक्रमों में हुआ गार्गी पुरस्कार वितरण


अजमेर, 01 फरवरी। शिक्ष एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजस्थान सरकार प्रदेश की बालिकाओं के सशक्तिकरण के लिए पूरी शक्ति एवं संकल्प के साथ कार्य कर रही है। मुख्यमंत्राी वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में नारी शक्ति के उत्थान के लिए सरकार ने कई कल्याणकारी योजनाएं लागू की है। पिछले 3 सालों में राजस्थान का लिंगानुपात तो बढ़ा ही, प्रदेश का हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़ाने की दिशा में भी महत्वपूर्ण कार्य हुआ है।

शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने आज राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड में जिला स्तरीय गार्गी पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्रा में राजस्थान तेजी से उभरता प्रदेश है। हम शीघ्र ही देश के अग्रणी शैक्षिक राज्यों में शामिल होंगे। राजस्थान में बालिका सशक्तिरण एवं शिक्षा के क्षेत्रा में तीन सालों में उल्लेखनीय कार्य हुआ है। गार्गी पुरस्कार प्राप्त करने वाली बालिकाओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यह बालिका शिक्षा के क्षेत्रा में श ुभ संकेत है। इस साल राजस्थान में करीब 92 हजार बालिकाओं को गार्गी पुरस्कार दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में बालिकाओं को सुविधा एवं प्रोत्साहन के लिए साईकिल एवं ट्रांसपोर्ट वाउचर जैसी योजनाएं तो चला ही रही है। प्रतिभावान बालिकाओं को लैपटाॅप एवं अन्य सुविधाएं भी दी जा रही है। सरकारी स्कूलों में मेरिट की संभावना वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहन के लिए मिशन मेरिट अभियान चलाया गया है। इसके तहत विशेष कक्षाएं लगाकर विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है।

प्रो. देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्राी हमारी बेटी योजना में तो स्वयं मुख्यमंत्राी ने हर जिले की तीन टाॅपर छात्राओं को गोद लिया है। इनकी पढ़ाई एवं कोचिंग तक का खर्च सरकार उठा रही है। इसी तरह मुख्यमंत्राी राजश्री योजना के तहत भी बालिकाओं को जन्म से लेकर 12वीं कक्षा तक प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। उन्होंने सभी को वसंत पंचमी की बधाई देते हुए कहा कि हम आज के दिन शिक्षा को बढ़ावा देने का संकल्प लें। शिक्षा मंत्राी ने अपने उद्बोधन में गार्गी के जीवन में प्रकाश डालते हुए बालिकाओं को अबला नहीं सबला बनने के लिए आह्वान किया। पूर्ववर्ती वर्षो की तुलना में गार्गी पुरस्कार की संख्या में उत्तरोत्तर तुलना में वृद्धि पर उन्होंने शिक्षा विभागीय प्रयासों के लिए बधाई दी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला प्रमुख सुश्री वंदना नोगिया ने की। विशिष्ट अतिथि बोर्ड अध्यक्ष श्री बी.एल.चैधरी थे। कार्यक्रम में राजस्थान बोर्ड परीक्षा की सत्रा 2015-16 की इन्दिरा प्रियदर्शनी पुरस्कारों अजमेर शहरी क्षेत्रा की 350 गार्गी पुरस्कारों एवं 294 बालिका प्रोत्सहानों पुरस्कारों का वितरण किया गया। कार्यक्रम में माध्यमिक शिक्षा उपनिदेशक श्री जीवराज जाट जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रथम श्री कैलाश चन्द झंवर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक द्वितीय श्री दीपक जौहरी तथा समस्त विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। समारोह का आयोजन ईस्ट पांइट उच्च माध्यमिक विद्यालय ने किया। कार्यक्रम का संचालन नीलम सोनी तथा चन्द्रश्री राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सावित्राी विद्यालय की व्याख्याताओं ने किया। धन्यवाद ज्ञापन ईस्ट पांइट विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती विनीता चैहान ने किया।




संसदीय सचिव श्री रावत कल करेंगे जनसुनवाई
अजमेर, एक फरवरी। संसदीय सचिव श्री सुरेश सिंह रावत गुरूवार 2 फरवरी को अजमेर आएंगे। वे प्रातः 11 बजे अटल सेवा केन्द्र अजमेर में जन अभियोग निराकरण के लिए जनसुनवाई करेंगे तथा अपरान्ह 3 बजे जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ जन अभाव अभियोग निराकरण से संबंधित राजस्थान सम्पर्क पोर्टल में दर्ज प्रकरणों एवं सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं की क्रियान्विती से संबंधित समीक्षात्मक बैठक लेंगे। वे सायं जयपुर के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top