edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर राज्य सरकार की प्राथमिकता किसानांे को मिले राहत:गोयल
बाड़मेर, 24 फरवरी। राज्य सरकार किसानांे को राहत पहुंचाने के लिए तत्पर है। राज्य सरकार ने विद्युत पैकेज के तहत कृशि उपभोक्ताआंे के लिए कई कल्याणकारी घोशणाएं करके किसानांे को राहत प्रदान की है। अब सामान्य श्रेणी के किसानों की बढ़ी हुई दरों का भार राज्य सरकार वहन करेगी। साथ ही पूर्व की भांति मीटर श्रेणी के लिए 90 पैसे एवं फ्लैट रेट के लिए 85 रुपए प्रति हार्स पावर प्रति माह की विद्युत दर ही देय होगी। जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने षुक्रवार को बालोतरा एवं सिणधरी पंचायत समिति मुख्यालय पर जन सुनवाई के दौरान किसानांे को संबोधित करते हुए यह बात कही।

इस दौरान जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि जिन कृषि उपभोक्ताओं ने सितम्बर, 2016 से अब तक बढ़ी हुई दरों पर बिल जमा करा दिए हैं, उनके द्वारा जमा कराई गई अतिरिक्त राशि का समायोजन आगामी बिलों में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मीटर श्रेणी के कृषि उपभोक्ताओं के सही चलने वाले मीटरों पर भार की जांच नही की जाएगी एवं मीटर खराब होने पर उपभोक्ता को एक माह का नोटिस देकर नोटिस का जवाब मिलने के बाद या 30 दिवस पश्चात भार बढाने की कार्यवाही की जाएगी। प्रभारी मंत्री गोयल ने कहा कि जिन उपभोक्ताओं की जांच किए बिना या बिना आवेदन के बढे भार की बिलिंग की जा रही है उनके प्रकरणों में पूर्व में स्वीकृत भार के अनुसार ही बिल जारी किए जाएंगे। उन्हांेने बताया कि कृषि कनेक्शन नीति-2004 में संशोधन करते हुए यह प्रावधान किया गया है कि कृषि कनेक्शन को संबंधित जिले में कहीं पर भी स्थानान्तरित करवाया जा सकता है। विद्युत दुरुपयोग के प्रकरणों में निर्धारण अवधि अधिकतम 2 माह होगी एवं बिजली चोरी के प्रकरणों में निर्धारण अवधि उपभोक्ता के प्रकरण में अधिकतम 2 माह एवं गैर उपभोक्ता के प्रकरण में 4 माह होगी। विद्युत चोरी के प्रथम अपराध में प्राथमिकी दर्ज होने पर उपभोक्ता या प्रभावित व्यक्ति वी.सी.आर. की तिथि से 60 दिवस में 20 प्रतिशत आंकलित वैधानिक दायित्व राशि जमा करवा कर आवेदन दे सकेगें। उन्हांेने कहा कि बाड़मेर जिले मंे पेयजल परियोजनाआंे को प्राथमिकता से पूर्ण करवाया जा रहा है। उन्हांेने सितंबर 2018 तक पेयजल परियोजनाएं पूर्ण होने का भरोसा दिलाया। उन्हांेने कहा कि बाड़मेर जिले मंे पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत 469.83 करोड़ की लागत के टेंडर कर दिए गए है। विद्युतीकरण का कार्य जल्दी प्रारंभ होगा।

इस अवसर पर राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानांे को राहत पहुंचाने के लिए कई कदम उठाए है। उन्हांेने कहा कि आगामी कुछ समय मंे मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना प्रारंभ की जा रही है। इससे किसानांे की समस्याआंे का समाधान होगा।

उन्हांेने कहा कि किसानांे को विद्युत संबंधित रियायत देकर राज्य सरकार ने ऐतिहासिक कार्य किया है। उन्हांेने विद्युत संबधित रियायतांे के बारे मंे विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि दिसम्बर, 2014 के बाद जारी मांग पत्रों वाले आवेदको को निरस्त कृषि कनेक्शन पत्रावलियों को पुनर्जीवित कराने के लिए मार्च, 2017 में रजिस्टर्ड पत्र द्वारा सूचित किया जाएगा। ऐसे आवेदकों को मांग पत्र की राशि 30 अप्रेल, 2017 तक जमा कराने का अवसर दिया गया है। सतर्कता जांच के दौरान सम्बद्ध भार स्वीकृत भार से 20 प्रतिशत अथवा 5 एच.पी. जो भी कम पाये जाने पर उपभोक्ता से दुरुपयोग राशि नही ली जाएगी एवं पूर्व में स्वीकृत भार के अनुसार ही बिल जारी किए जाएगें। इसी तरह फव्वारा-बूंद-बूंद-डिग्गी योजना के कृषि कनेक्शनों को जारी होने की तिथि से अधिकतम 3 वर्ष पश्चात सामान्य श्रेणी में परिवर्तन कर दिया जाएगा। अब तक यह परिवर्तन पांच वर्श की अवधि मंे होता था। उन्हांेने कहा कि न्याय आपके द्वार अभियान के तहत 68 लाख प्रकरणांे का निस्तारण कर आमजन को राहत पहुंचाई गई। उन्हांेने कहा कि ग्रामीण इलाकांे मंे पुराने रास्तांे का रिकार्ड मंे इन्द्राज करके आमजन को राहत पहुंचाने का प्रयास किया गया है। उन्हांेने कहा कि गांवांे को डिजिटल तकनीक से जोड़ने के साथ डिजिटल इंडिया से जोड़ने की पहल की गई है। इस दौरान सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल ने कहा कि राज्य सरकार ने गरीब एवं किसानांे को राहत पहुंचाने की दिषा मंे कई कदम उठाए है। उन्हांेने कहा कि बूंद-बूंद सिंचाई की टेरिफ मंे कमी करने के साथ फसल बीमा, क्रेडिट कार्ड योजना की षुरूआत के जरिए ऐतिहासिक पहल की गई है। उन्हांेने इस दौरान पिछले तीन वर्शाें मंे किए गए विभिन्न जन कल्याणकारी कार्याें एवं योजनाआंे के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर षर्मा, सिवाना प्रधान श्रीमती गरिमा राजपुरोहित, कल्याणपुर प्रधान हरिसिंह, बालोतरा नगर परिषद चैयरमैन रतन खत्री, मदन चौपड़ा समेत विभिन्न जन प्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। बालोतरा प्रवास के दौरान जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री सुरेन्द्र गोयल एवं राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने हाउसिंग बोर्ड कालोनी परिसर मंे षहरी स्वास्थ्य प्राथमिक केन्द्र का फीता काटकर उदघाटन किया। इस अवसर पर जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि इससे स्थानीय लोगांे को बेहतरीन चिकित्सा सुविधाएं मुहैया होगी। उन्हांेने कहा कि आमजन जागरूक होकर भामाषाह स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठाए। उन्हांेने चिकित्सा विभाग के अधिकारियांे को पर्याप्त चिकित्सकीय कार्मिक तैनात करने के निर्देष दिए। राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से चिकित्सा के क्षेत्र मंे कई महत्वपूर्ण योजनाआंे की षुरूआत की गई है। उन्हांेने स्थानीय लोगांे के विकास के लिए सदैव तत्पर रहने का भरोसा दिलाया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top