बाड़मेर आमजन के मददगार थे स्व. तगाराम चैधरी - मुख्यमंत्री

बाड़मेर/जयपुर 2 फरवरी। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे गुरूवार को पूर्व विधायक स्वर्गीय तगाराम चैधरी को बाड़मेर के निम्बानियों की ढाणी स्थित निवास पर शोक सभा में शामिल हुईं और उन्हें श्रद्धांजलि दी। स्व. चैधरी की मूर्ति के अनावरण के अवसर पर उन्हांेने पूर्व विधायक के क्षेत्र के विकास में योगदान को याद किया।

श्रीमती राजे ने बाड़मेर के विकास मंे स्व. चैधरी की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि वे सदैव आमजन की मदद के लिए तत्पर रहते थे। उन्हांेने कहा कि उनका व्यक्तित्व सहज एवं सरल था और वे सभी जरूरतमंदों की पैरवी के लिए उनके साथ खड़े रहते थे। उन्होंने कहा कि पूरे क्षेत्र और बाड़मेर जिले को स्वर्गीय तगाराम चैधरी की कमी हमेशा खलेगी।

मुख्यमंत्री ने शोक सभा में स्व. चैधरी की तस्वीर पर पुष्पाजंलि अर्पित करने के बाद उनकी पत्नी श्रीमती गवरी देवी एवं अन्य परिजनांे से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना भी दी। इस दौरान पूर्व विधायक के पुत्र श्री शिवजीराम एवं श्री चेनाराम, पुत्रवधु श्रीमती सिगरती देवी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्रीमती राजे ने दूसरे विश्व युद्व के साक्षी रहे 104 वर्षीय श्री अमराराम से भी मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य के बारे मंे जानकारी ली।

श्रीमती राजे ने निम्बाणियो की ढाणी मंे ही स्व. तगाराम चैधरी की मूर्ति का अनावरण भी किया। इस दौरान केन्द्रीय राज्य मंत्री श्री सी.आर. चैधरी, सांसद कर्नल श्री सोनाराम चैधरी, विधायक श्री हमीरसिंह भायल तथा श्रीमती कामिनी जिंदल, राज्य बीज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शंभूसिंह खेतासर, यूआईटी चेयरमैन डाॅ. प्रियंका चैधरी, महंत औंकार भारती समेत जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

- - - - -

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top