edvertise

edvertise
barmer

लड़की ने किया इतना नशा की हो गई थी मौत, दोस्तों ने शव के साथ किया था ये

manisha murder case accusedचंडीगढ़। नशे की ओवरडोज के कारण चंडीगढ़ के नुक्कड़ ढाबे के मालिक की बेटी मनीषा की गैर-इरादतन हत्या के मामले में सोमवार को तीनों आरोपियों को दोषी करार दे दिया। 3 साल पुराने इस चर्चित मामले में अदालत ने दिलप्रीत सिंह, कमल सिंह और रजत बेनीवाल को गैर-इरादतन हत्या, सामूहिक दुष्कर्म, अननेचुरल सेक्स अपहरण की धाराओं के तहत दोषी करार दिया। सजा पर फैसला 3 फरवरी को होगा। बता दें कि मनीषा की मौत नशे के ओवरडोज से हुई थी। जिसके बाद आरोपियों ने मनीषा को एक कपड़े में लपेटकर नाले में फेंक दिया था। कॉल डिटेल से हुआ था मामले का खुलासा...

 
- 19 अक्टूबर 2014 को मनीषा का शव राजपुरा के नजदीक शंभू बैरियर के साथ लगते नाले में मिला था। युवती सेक्टर-34 के इंस्टीट्यूट से आर्किटेक्चर का कोर्स कर रही थी।

- वह रोजाना की तरह इंस्टीट्यूट गई थी। लेकिन वापस नहीं लौटी। पुलिस ने फोन सर्विलेंस पर लगाया।

- मोबाइल फोन की कॉल डिटेल खंगाली तो खुलासा हुआ कि आखिरी बार उसका रजत के साथ संपर्क हुआ था। पुलिस ने रजत को उसके घर से गिरफ्तार किया था।

- रजत ने बताया कि नशे की ओवरडोज की वजह से युवती की मौत हो गई। डर के कारण उसने उसका शव नाले में फेंका था।

ड्रग्स ली,फिर शराब पी

- रजत ने बयानों में बताया था कि वह 18 अक्टूबर को कार में सभी इकट्ठे गए थे और सबसे पहले वे एक पार्टी में गए, जहां सब ने ड्रग्स ली और शराब पी।

- मनीषा बेहोश हो गई और उसकी मौत हो गई। जैसे ही तीनों को पता चला कि युवती की मौत हो चुकी है तो सभी मिलकर गाड़ी में पहले पलसौरा।

- फिर मोहाली और फिर वह राजपुरा रोड के शंभू बैरियर के नाले के नजदीक पहुंचे। जहां उन्होंने मनीषा को एक कपड़े में लपेटकर फेंक दिया।

रौंगटे खड़े हो गए जब शव को देखा था

- मनीषा के पिता जोगिंदर सिंह का कहना है कि उस दिन को याद करके आज भी सहम जाता हूं। बेटी के लापता होने पर शिकायत पुलिस को दी।

- पुलिस ने जांच शुरू की और लड़कों के पकड़े जाने के बाद जब शव को देखा तो मेरे रौंगटे खड़े हो गए।

- ये कोई नहीं समझ सकता कि मैंने उन दिनों को कैसे बिताया। एक बाप के लिए जवान बेटी को इस तरह खोने की पीड़ा जिंदगी भर सताती रहेगी।

टाइम लाइन

- 18 अक्टूबर 2014: युवती घर से गायब हुई

- 19 अक्टूबर: केस दर्ज किया गया

- 8 जनवरी 2015 : मामले में पुलिस ने चार्जशीट दायर की थी।

- 4 फरवरी 2015: मामले में आरोप तय हुए थे

- 1 अप्रैल 2015: मामले में सीएफएसएल रिपोर्ट पेश

- 5 दिसंबर 2015: मामले में गैंगरेप और अननेचुरल सेक्स की अतिरिक्त धाराओं के तहत आरोप तय किए गए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top