edvertise

edvertise
barmer



नई दिल्ली।BSF जवान के VIRAL वीडियो पर जांच के हुए आदेश, लेकिन अफसर बोले- 'जवान का सेवाकाल दागदार'

BSF जवान के VIRAL वीडियो पर जांच के हुए आदेश, लेकिन अफसर बोले- 'जवान का सेवाकाल दागदार'

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान तेज बहादुर के वायरल वीडियो के मामले ने तूल पकड़ लिया है। जवान ने अपने आठ मिनट के वीडियो में अधिकारियों पर घटिया क्वालिटी का खाना मुहैया कराने का आरोप लगाया था। अब इस मामले में बीएसएफ की तरफ से सफाई सामने आई है।


बीएसएफ के डीआईजी एमडीएस मान ने कहा है, "हमने बीएसएफ जवान के वीडियो में लगाए गए आरोपों की जांच करने का आदेश दे दिया है।" हालांकि बीएसएफ के डीआईजी ने जवान के अब तक के सेवाकाल को दागदार बताया है।

He has 4 bad entries in 20 yrs of service,hence,didn’t get promoted which can be cause of frustration:MDS Mann,DIG BSF on BSF Jawan's videopic.twitter.com/NbOoLBtZp8
10:46 PM - 9 Jan 2017



He has 4 bad entries in 20 yrs of service,hence,didn’t get promoted which can be cause of frustration:MDS Mann,DIG BSF on BSF Jawan's video pic.twitter.com/NbOoLBtZp8


If any of his allegations are found true we will certainly initiate action against the defaulters: MDS Mann,DIG BSF on BSF Jawan's videopic.twitter.com/xbrFu8CHfC
 


2727 Retweets
4343 likes



'20 साल में 4 बुरी एंट्री'

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में बीएसएफ के डीआईजी ने कहा, "तेज बहादुर के 20 साल के सेवा काल में चार बुरी एंट्री है। इसलिए उसका प्रमोशन नहीं हो सका है। उसकी कुंठा की यह वजह हो सकती है।"


इसके साथ ही बीएसएफ के डीआईजी ने आरोप सही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई का भरोसा दिया है, "अगर उसके लगाए गए एक भी आरोप सही पाए जाते हैं, तो हम निश्चित तौर पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करेंगे।"
जवान का वीडियो वायरल
जम्मू में इंटरनेशनल बॉर्डर के पास तैनात बीएसएफ जवान तेज बहादुर वीडियो में कहते हैं, "देशवासियों मैं आपसे एक अनुरोध करना चाहता हूं। हम लोग सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक, लगातार 11 घंटे इस बर्फ में खड़े होकर ड्यूटी करते हैं। कितना भी बर्फ हो, बारिश हो, तूफान हो, इन्‍हीं हालातों में हम ड्यूटी कर रहे हैं।"
बीएसएफ जवान ने वीडियो पोस्ट करते हुए अपील की है कि उसके दर्द को देश समझे। जवान का आरोप है कि बीएसएफ जवानों को घटिया खाना दिया जा रहा है। तेज बहादुर का आरोप है कि अफसर राशन को बाजार में बेच देते हैं।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top