edvertise

edvertise
barmer

अजमेर आनासागर चैपाटी का होगा सागर विहार काॅलोनी तक विस्तार शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने महापौर व कलक्टर के साथ किया निरीक्षणसागर विहार की पाल के किनारे बनेगा उद्यान, गंदे पानी की समस्या का भी होगा निराकरण

अजमेर, 21 जनवरी। अजमेर को स्मार्ट सिटी बनाए जाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के तहत आनासागर चैपाटी का विस्तार सागर विहार काॅलोनी तक किया जाएगा। सागर विहार की पाल के किनारे उद्यान विकसित किया जाएगा। साथ ही क्षेत्रा में भरने वाले बरसाती और गंदे पानी की निकासी के लिए भी स्थायी उपाय किया जाएगा। पुष्कर रोड स्थित पुरानी विश्राम स्थली पर भी पुराने निर्माण ढहा कर पाथवे बनाया जाएगा। यहां वाटर एम्यूजमेंन्ट पार्क की संभावनाओं को तलाशा जाएगा।
शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने आज महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत एवं जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल के साथ सागर विहार काॅलोनी की पाल के साथ बने नए पाथवे का निरीक्षण किया। शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने बताया कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत चैपाटी का विस्तार आनासागर सर्कुलर रोड पर शिव मन्दिर से सागर विहार काॅलोनी स्थित पाथवे तक किया जाएगा। इस पाथवे को आगे नयी चैपाटी से भी जोड़ा जाएगा।
प्रो. देवनानी ने बताया कि सागर विहार काॅलोनी में झील के किनारे काफी सरकारी भूमि अनुपयोगी पड़ी है। इस भूमि पर उद्यान का विकास किया जाएगा। पाथवे एवं उद्यान को आधुनिक ढंग से विकसित किया जाएगा। क्षेत्रा में बरसाती एवं गंदा पानी भरने की बड़ी समस्या है। इसके निराकरण के लिए यहां छोटा सीवरेज ट्रीटमेंन्ट प्लांट या अन्य उपाय किए जाएंगे।
इसी तरह पुरानी विश्राम स्थली का भी निरीक्षण कर पाथवे निर्माण पर चर्चा की गई। प्रो. देवनानी ने बताया कि यहां पुराने निर्माण हटाकर पाथवे बनाया जाएगा। साथ ही वाटर एम्यूजमेंन्ट पार्क की संभावना भी तलाशी जाएगी।
महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने बताया कि अजमेर को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किए जाने का कार्य प्रारम्भ हो चुका है। सुभाष उद्यान और आनासागर के सौन्दर्यीकरण के साथ ही हैरिटेज वाॅकवे तथा जयपुर रोड सौन्दर्यीकरण का कार्य भी करवाया जा रहा है।
जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत सुभाष उद्यान में कल्चरल पार्क, शहर के प्रमुख मार्गो व चैराहो पर मूर्ति व कला की स्थापना, शहर में टूरिस्ट इंफाॅर्मेशन सेन्टर का निर्माण, आनासागर के चारों ओर एम्फीथियेटर, पैदल व साईकिल का ट्रेक, सोलर लाईट, म्यूजिकल फाउंटेन, वाॅटर स्पोर्टस, हैरिटेज म्यूजियम आदि कार्य भी प्रस्तावित किए गए हैं। इसी तरह शहर में ओपन एयर जिम, थीम बेस्ड पार्क, रैन वाॅटर हाॅरवेस्टिंग कार्य, जलापूर्ति से संबंधित कार्य, बाईक शेयरिंग योजना, फुट ओवर ब्रिज, प्लानटेशन, वैण्डिंग जोन, दुकानों का फ्रंट सौंदर्यीकरण, स्मार्ट क्लास, रिजनल साईंस सेन्टर, लाईब्रेरियों का सशक्तिकरण, डिजीटल लाईब्रेरी, मल्टी स्किल इंस्टीटयूट, स्टार्टअप हब, वाई फाई कनेक्टिीविटी, स्मार्ट ट्रांसर्पोटेशन आदि कार्य भी कराए जाएंगे।


नौजवान शहीद हेमू कालानी से सीखे देशभक्ति का जज्बा - प्रो. देवनानीशिक्षा राज्यमंत्राी ने हेमू कालानी के बलिदान दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया
अजमेर, 21 जनवरी। शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि शहीद हेमू कालानी देश के युवाओं के लिए सदैव प्रेरणा के स्त्रोत रहेंगे। नौजवानों को उनसे देशभक्ति का जज्बा सीखना चाहिए। सिंधी समाज सदैव से राष्ट्र भक्त रहा है। देश की तरक्की में सिंध का भी पूरा योगदान है।
शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने आज शहीद हेमू कालानी बलदान दिवस पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रमोें में भाग लिया। डिग्गी चैक पर आयोजित रैली को संबोधित करते हुए प्रो. देवनानी ने कहा कि सिंधियत एक संस्कृति है जो हमे देश की जड़ों से जुड़े रहना सिखाती है। भारत के सिंधी समुदाय के लोग पूरे विश्व में कहीं पर भी हो वे अपनी मातृभूमि के साथ जुडे रहना नहीं भूलते।
उन्होंने कहा शहीद हेमू कालानी हमेशा से युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत रहे है। हमें उनसे देशभक्ति का जज्बा सीखकर राष्ट्र के उत्थान में सहयोग देना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस तरह के जननायकों को उचित सम्मान देने के प्रति कृतसंकल्प है। हमने राज्य के पाठ्यक्रम में भी जननायकों को उचित स्थान दिया है ताकि युवा उनसे प्रेरणा लेकर राष्ट्रवाद सीखे और जीवन में आत्मसात भी करें।
शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो.वासुदेव देवनानी ने पड़ाव स्थित आदर्श विद्यालय में सिंधी शिक्षा विकास समिति द्वारा गरीब बच्चों को स्कूल फीस वितरण के लिए आयोजित कार्यक्रम में भी भाग लिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भी बच्चों को शिक्षा के क्षेत्रा में हर संभव सुविधा देने के लिए पूरी गम्भीरता से कार्य कर रही है। विद्यार्थियों को शिक्षा को पूरी गम्भीरता से आत्मसात कर अपना भविष्य बनाना चाहिए।




कचहरी रोड से पालबीसला तक बनेगा वैकल्पिक मार्ग - श्री हेड़ाअजमेर विकास प्राधिकरण अध्यक्ष के कार्यकाल का एक वर्ष पूर्ण होने पर हुआ आयोजन
प्रो. देवनानी, श्रीमती भदेल एवं श्री चैधरी सहित कई जनप्रतिनिधि पहुंचे कार्यक्रम में
अजमेर, 21 जनवरी। अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिव शंकर हेड़ा ने कहा कि वर्ष 2017 में अजमेर शहर, किशनगढ़ एवं पुष्कर सहित जिला विकास के पथ पर अग्रसर होगा। अजमेर में यातायात समस्या के निराकरण के लिए कचहरी रोड़ से पालबीसला होते हुए श्रीनगर रोड तक वैकल्पिक मार्ग तैयार कराया जाएगा। जयपुर रोड पर अशोक उद्यान के पास महर्षि दयानन्द सरस्वती का राष्ट्रीय स्तर का स्मारक भी तैयार कराया जाएगा।
अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री हेडा के कार्यकाल का एक वर्ष पूरा होने पर आज कार्यक्रम आयोजित किया गया। शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी, महिला एवं बाल विकास मंत्राी श्रीमती अनिता भदेल, किशनगढ़ विधायक श्री भागीरथ चैधरी, महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत, पुष्कर नगर पालिका अध्यक्ष श्री कमल पाठक, जिला कलक्टर एवं एडीए आयुक्त श्री गौरव गोयल, दैनिक नवज्योति के प्रधान सम्पादक श्री दीनबंधु चैधरी, प्रो. बी.पी.सारस्वत, श्री अरविंद यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने उन्हें बधाई दी।
इस अवसर पर श्री हेड़ा ने कहा कि अजमेर शहर को यातायात की परेशानी से मुक्ति दिलाने के लिए पालबीसला वैकल्पिक सड़क का निर्माण कराया जाएगा। महर्षि दयानन्द सरस्वती की निर्वाण स्थली अजमेर में शहर के लोगों एवं पर्यटकों को उनके कृतित्व एवं व्यक्तित्व से अवगत कराने के लिए एक राष्ट्रीय स्तर का स्मारक अशोक उद्यान के पास बनवाया जाएगा।
शहर में प्रवेश के मुख्य मार्ग जयपुर रोड से बस स्टैण्ड एवं सावित्राी चैराहा से जनाना अस्पताल के मार्गों को सिक्स लैन रोड में परिवर्तित किया जाएगा। इसी तरह अजमेर से पुष्कर टनल का कार्य भी इसी वर्ष शुरू होगा।
उन्होंने कहा कि प्राधिकरण ने पिछले एक वर्ष में शहर को महाराणा प्रताप स्मारक, लैजर शो, सीवरेज ट्रीटमेंन्ट प्लान्ट, नयी चैपाटी, कपड़ा बैंक, रेलवे स्टेशन का सौन्दर्यीकरण, नाका मदार रेलवे ओवर ब्रिज, ब्यावर रोड पर ट्रांसपोर्ट नगर का विकास, पंचशील ई ब्लाॅक योजना, 10 बस शैल्टर, यूनीपोल एवं 3 एलईडी स्क्रीन आदि की सौगात दी है। पुष्कर में खेल मैदान के लिए प्राधिकरण द्वारा 50 लाख, रेलवे स्टेशन के द्वितीय प्रवेश द्वार के लिए एक करोड़ एवं किशनगढ़ में सड़क निर्माण के लिए लाखों रूपए की स्वीकृति दी गई है। उन्होंने कहा कि पत्राकार काॅलोनी योजना के तहत अब तक आवंटन से शेष रहे पत्राकारों को भी जल्द ही भूखण्ड दिए जाएंगे।
कार्यक्रम में जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने कहा कि अजमेर को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किया जाएगा। अजमेर राजस्थान का एक मात्रा शहर है जहां स्मार्ट सिटी, हैरिटेज सिटी, अमृत एवं प्रसाद योजना के तहत कार्य चल रहे है। शहर को सुनियोजित तरीके से विकसित किया जाएगा। कार्यक्रम में बीएसयूपी योजना के लाभार्थियों तथा पंचशील ई ब्लाॅक योजना के आवंटियों को पट्टा वितरण किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top