edvertise

edvertise
barmer



अजमेर सरकारी स्कूलों के बच्चे भी अब मेरिट की रेस के लिए तैयार - प्रो. देवनानी
शिक्षा राज्यमंत्राी ने किया मिशन मेरिट अभियान के विद्यार्थियों को संबोधित
विद्यार्थियों को दिए परीक्षा में सफलता और मेरिट में आने के टिप्स
अजमेर, 11 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजस्थान की शिक्षा अब एक नए प्रगति पथ पर चल पड़ी है। प्रदेश के सरकारी स्कूलों के बच्चे निजी स्कूलों से बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। अभिभावक भी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने की ओर अग्रसर हो रहे हैं। यह बच्चे राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं एवं बारहवीं कक्षा की मेरिट में भी स्थान बनाएंगे।

शिक्षा राज्य मंत्राी प्रो. देवनानी ने राजकीय केन्द्रीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में मिशन मेरिट के तहत शिविर को संबोधित कर प्रतिभावान विद्यार्थियों को परीक्षा में सफलता के सूत्रा बताए। इस शिविर में शहर के 20 स्कूलों के टाॅपर विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा की तैयारी कर रहे है। प्रो. देवनानी ने कहा कि सफलता के लिए कड़ा अनुशासन, सही तैयारी, समर्पण और आत्मविश्वास की आवश्यकता है। परीक्षा देने वाले विद्यार्थी को सही समय पर पूरी तैयारी कर लेनी चाहिए किसी भी तरह जल्दबाजी या उतावलापन परिणाम बिगाड़ सकता है। इसके लिए विद्यार्थी दिमाग को ठंडा रखें और पूरे आत्मविश्वास के साथ उत्तर लिखें।

उन्होंने कहा कि राजस्थान की शिक्षा सकारात्मक परिवर्तन के दौर से गुजर रही है। पिछले तीन सालों में राज्य सरकार ने शिक्षा को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। शिक्षकों की ज्यादातर समस्याओं का समाधान कर उन्हें राहत प्रदान की गई है। अब शिक्षक भी पूरे मनोयोग के साथ बच्चों को पढ़ाएं और आगे बढ़ाएं।

उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में अब सिर्फ शत-प्रतिशत परिणाम से काम नहीं चलेगा। अब 60 प्रतिशत, 75 प्रतिशत, 80, 90 एवं 95 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले बच्चे भी स्कूलों के प्रदर्शन का आधार माने जाएंगे। बालिका विद्यालयों में जितनी ज्यादा बालिकाएं गार्गी पुरस्कार प्राप्त करेंगी, उस स्कूल को उतना ही अच्छा माना जाएगा।

अभावों से ना घबराएं

शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने विद्यार्थियों को सीख दी कि अभावों और परेशानियों से ना घबराएं। उन्होंने स्वयं के जीवन का अनुभव बताते हुए कहा कि मेरा बचपन भी अभावों में बीता है। मैने सुभाष उद्यान में लैम्प पोस्ट के नीचे बैठकर पढ़ाई की और अपना खर्च चलाने के लिए कागज के लिफाफे बनाकर बेचे। तब इतनी सुविधाएं नहीं हुआ करती थी। आज आपको कम्प्यूटर जैसी आधुनिकतम सुविधा भी मिली हुई है। आप उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग कर अपने आपको आगे बढ़ाएं। इस अवसर पर शिक्षा विभाग के अधिकारी एवं शिक्षक भी उपस्थित थे।




स्वच्छता के चितेरों ने भरे कैनवास पर कल्पना के रंग

नगर निगम एवं शिक्षा विभाग द्वारा बारादरी पर किया पेंटिंग एवं फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन

शिक्षा राज्यमंत्राी, महापौर एवं जिला कलक्टर ने बढ़ाया बच्चों का उत्साह


करीब दो हजार विद्यार्थियों ने लिया प्रतियोगिता में भाग
अजमेर, 11 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि स्मार्ट सिटी अजमेर तभी बनेगी जब यहां के नागरिक स्वच्छता को सर्वोच्च प्राथमिकता देंगे। बच्चे और युवा स्वच्छता के सर्वश्रेष्ठ संदेशवाहक हैं। वे अपनी पीढ़ी और बुजुर्गों को स्वच्छता के लिए प्रोत्साहित करें तो शानदार परिणाम हासिल हो सकते हंै। अजमेर में 26 अरब रूपए के विकास कार्यों से तस्वीर बदल जाएगी। ऐसे में सफाई हमारी पहचान बननी चाहिए।

शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने आज नगर निगम एवं शिक्षा विभाग द्वारा स्वच्छ भारत-समृद्ध भारत अभियान के तहत आयोजित स्वच्छता के चितेरे कार्यक्रम में आनासागर बारादरी पर उपस्थित करीब दो हजार स्कूली बच्चों से यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्राी श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे चाहते है कि हमारा देश और प्रदेश स्वच्छ और सुन्दर बनें। इसके लिए हम सभी का दायित्व है कि अपने आसपास सफाई को विशेष महत्व दें।

उन्हांेने कहा कि किसी भी कार्य से अगर बच्चे और युवा पीढी़ मन से जुड़ जाए तो वह कार्य अवश्य सफल होता है। उन्होंने आनासागर बारादरी पर उपस्थित बच्चों और युवाओं का आह्वान किया कि वे अपने कैनवास पर सफाई के लिए कल्पना के रंग तो भरे ही साथ ही अपने परिवार, पडौस और समाज के लोगों को भी सफाई के लिए प्रेरित करें।

शिक्षा राज्यमंत्राी ने कहा कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत अजमेर में करीब दो हजार करोड़ रूपए के विकास कार्य कराएं जाएंगे। इसके साथ ही सैंकड़ो करोड़ रूपए भी अन्य योजनाओं में खर्च होंगे। इस तरह करीब 26 अरब रूपए की राशि से शहर का विकास होगा। ऐसा पहली बार हो रहा है कि इतनी बड़ी राशि शहर के विकास के लिए खर्च की जा रही है। आने वाले कुछ सालों में शहर की तस्वीर बदल जाएगी।

महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने स्वच्छता का महत्व समझाते हुए कहा कि नगर निगम द्वारा शहर में सफाई के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे है। विभिन्न तरीकों से सफाई नियमित रूप से करवाई जा रही है। इसके बावजूद लोगों को जागरूक किए जाने की आवश्यकता है। पेंटिंग और फोटोग्राफी प्रतियोगिता के माध्यम से युवा वर्ग यह जागरूकता फैलाएगा तो शानदार परिणाम हासिल होंगे।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने कहा कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत सफाई सबसे महत्वपूर्ण बिन्दु है। किसी भी शहर की प्रसिद्धी में सफाई का सबसे अधिक योगदान होता है। उन्होंने बच्चों और युवाओं का आह्वान किया कि वे सफाई का संदेश घर-घर तक पहुंचाएं। उन्होंने स्मार्ट सिटी योजना की भी जानकारी दी। श्री गोयल ने कहा कि प्रतियोगिता की विजेता पेंटिंग एवं फोटोग्राफी को विकास प्रदर्शनी में प्रदर्शित किया जाएगा।

इस अवसर पर नगर निगम की उपायुक्त सुश्री ज्योति ककवानी, श्री गजेन्द्र सिंह रलावता, जिला रसद अधिकारी श्रीमती दीप्ति शर्मा, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती दर्शना शर्मा, पार्षद श्री रमेश सोनी, श्री सीताराम शर्मा, श्री राजेश शर्मा, श्री धर्मेन्द्र शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

सधे हाथों ने भी कैनवास पर भरा रंग

स्वच्छता के चितेरे प्रतियोगिता की खासियत यह रही कि आनासागर की पाल पर जमा करीब दो हजार बच्चों और युवाओं को प्रसिद्ध चित्राकारों का भी सानिध्य मिला। बारादरी पर ख्यातनाम चित्राकार श्री राम जैसवाल, अशोक हाजरा, सुरेन्द्र सिंह चुघ, रितु शिल्पी, सचिन सांखलकर , ममता देवड़ा, अलका शर्मा, संजय सेठी, प्रहलाद शर्मा आदि ने भी मौके पर ही पेंटिंग बनायी। बच्चों में इनकी पेंटिंग देखने का खासा उत्साह रहा। इन चित्राकारों को कार्यक्रम में सम्मानित भी किया गया।




राज्य सरकार शिक्षकों के हितों के लिए सदैव तत्पर - प्रो. देवनानी
राजस्थान शिक्षक संघ राधाकृष्णन ने किया शिक्षा राज्यमंत्राी का अभिनन्दन

अजमेर, 11 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के शिक्षकों के हितांे की रक्षा के लिए सदैव तत्पर है। शिक्षकों की अधिकाशं समस्याओं का पिछले तीन सालों में समाधान किया गया है। सरकार राजस्थान में शिक्षा के उन्नयन के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने शिक्षक संघ राधाकृष्णन द्वारा प्रदेश के स्कूलों में प्रतिभावान विद्यार्थियों को गोद लेकर उनके उन्नयन के लिए सारी जिम्मेदारी उठाने के नवाचार की प्रशंसा भी की।

शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी का आज राजस्थान शिक्षक संघ राधाकृष्णन द्वारा अभिनन्दन किया गया। इस अवसर पर प्रो. देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षक, शिक्षार्थी और शिक्षा के हित म­ सकारात्मक पहल म­ सदैव साथ रहेगी। उन्होंने शिक्षा विभाग म­ ह¨ रहे नवाचार और अभिनव प्रयास म­ राधाकृष्णन शिक्षक संघ के सकारात्मक सहय¨ग के लिए पदाधिकारिय¨ं का आभार प्रकट किया ।

शिक्षक संघ राधाकृष्णन के प्रदेश अध्यक्ष विजय स¨नी और प्रदेश सभाध्यक्ष के नारायण सिंह पंवार के नेतृत्व में संगठन के सभी संभागीय अध्यक्ष ,समस्त जिलाध्यक्ष और प्रक¨ष्ठ¨ं के प्रदेशाध्यक्ष¨ ने शिक्षा मंत्राी का फूलमालाओं, साफा बंधन ,शाॅल और स्मृति चिन्ह भ­ट कर पर अभिनन्दन किया ।

इस अवसर पर शिक्षिका सेना की प्रदेश संय¨जिका सुनीता भाटी के नेतृत्व म­ शिक्षिकाओं ने कमल के फूल¨ं की माला पहना कर स्वागत किया । प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष प्रदीप श्रीवास्तव के नेतृत्व म­ समस्त जिलाध्यक्ष¨ं ने 68 कमल के फूल¨ं की माला पहना कर देवनानी जी का अभिनंदन किया।

प्रदेश संरक्षक मेघ सिंह च©हान ने नगर निगम अजमेर के मेयर श्री धर्मेन्द्र गहल¨त का माल्र्यापण कर स्वागत किया ।

श्री सोनी ने बताया कि संगठन ने अपने सामाजिक सर¨कार¨ं क¨ निभाते हुए एक नई पहल की है । राधाकृष्णन शिक्षक संघ के कार्यकर्ता जिस भी शाला म­ कार्यरत है वहां एक बालिका या बालक क¨ उसकी शैक्षणिक आवश्यकता क¨ पूरी करने हेतु ग¨द लेगा। इस वर्ष पूरे राज्य म­ संगठन पांच हज़ार बच्चे गोद लेने का कार्य करेगा।

इसके प्रारम्भ म­ आज 500 जरूरतमंद विद्या£थय¨ं क¨ ग¨द लिया। कार्यक्रम म­ भरतपुर संभागीय अध्यक्ष विजय सांखला,ज¨धपुर से जसवंत सिंह भाटी ,उदयपुर से अनिल शर्मा, बीकानेर हुक्म चंद च©धरी, अजमेर से सत्यनारायण सिंह स¨लंकी,जयपुर से प्रदेश मंत्राी र¨हिताश मीणा, पाली से प्रकाश मेवाड़ा, क¨टा से श्याम सुंदर शर्मा, पुस्तकालय प्रक¨ष्ठ के संजय जैन, शारीरिक शिक्षक प्रक¨ष्ठ के संजय मु०ल और सुभाष कुल्मी,संस्कृत प्रक¨ष्ठ के अमिताभ सनाढ्य ,प्रधानाध्यपक प्रक¨ष्ठ के भारत सुवासिया ,चित्त¨ड़ जिलाध्यक्ष लाल सिंह चुंडावत ,उदयपुर जिलाध्यक्ष राज­द्र भाटी ,अजमेर जिलाध्यक्ष मह­द्र सिंह बुन्देल ,जयपुर जिलाध्यक्ष कैलाश चंद्र सेन, भरतपुर जिलाध्यक्ष सत्यवीर च©धरी ,ज¨धपुर जिलाध्यक्ष इंद्र विक्रम सिंह ,प्रदेश संयुक्त मंत्राी दिनेश ग©ड़ , प्रक¨ष्ठ के जित­द्र ज¨शी ,प्रदेश उपाध्यक्ष म¨हन सिंह ,ब्यावर जिलाध्यक्ष नर­द्र सिंह रावत सहित नवनीत नागर, प्रकाश चंद, ईश्वर लालवाणी, दिनेश सांखला, मह­द्र सहवाल ,स¨हन लाल, अश¨क ज¨शी, एलेस्टर र्जाॅज, नीरज शर्मा, सुर­द्र यादव और शिक्षिका सेना की नीतू शर्मा, ललिता पंवार, गंगा कथीरिया, निशा जांगिड़ ,ह£षता जैन ,राधा झा ,रेखा शर्मा, नीतू ढाणी, कांता मस्तुरिया, सर¨ज कुमावत, सलमा खान, मीना शर्मा, यास्मीन बान¨,क©शल्या बालानी, मधुमती पाराशर,हेमलता मकवाना,ग्रेस सतलारकर, वसुंधरा शर्मा, इंदु राघानी, मंजू सलूजा,रूपवती वर्मा, अल्केश देवी सहित राधाकृष्णन शिक्षक संघ के स­कड¨ कार्यकर्ता उपस्थित थे ।




मुख्यमंत्राी जनसहभागिता य¨जना से विद्यालय¨ म­ सुख सुविधओं का विस्तार करे- देवनानी
अजमेर, 11 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने शिक्षक वर्ग की समस्याओं का निराकरण किया है। प्रदेश में 94 हजार शिक्षकों को प्रमोशन दिया गया है।

शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने आज तोपदड़ा क्षेत्रा में रमसा कार्यालय के शुभारम्भ के अवसर पर रेसा एवं शिक्षक संघ राष्ट्रीय द्वारा आयोजित कार्यक्रम में यह बात कही। उन्होंने कहा कि सभी सवंर्गों की रिकार्ड त¨ड़ पद¨न्नतियों का परिणाम है कि आज 34 वर्ष का नौजवान भी प्रधानाचार्य बन गया है। सरकारी विद्यालय¨ं में नामांकन म­ अप्रत्याशित बढ़¨तरी हुई ह®। इसके लिए प्रयास करने वाले सभी बधाई के पात्रा है। अजमेर शहर ओर आसपास के विद्यालय¨ म­ हिंदुस्तान जिंक की सहायता से निशुल्क फर्नीचर की व्यवस्था और की सहायता से विद्यालय¨ म­ भ©तिक सुख सुविधाओं क¨ उपलब्ध करवाया गया है। रमसा के र्जीण¨ंद्धार भवन के ल¨र्कापण करने के बाद शिक्षा एवं पंचायती राज शिक्षा राज्यमंत्राी प्र¨.वासुदेव देवनानी ने परिसर म­ वृक्षार¨पण भी किया।

प्र¨.वासुदेव देवनानी का राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय और राजस्थान शिक्षा सेवा परिषद(रेसा) के सँयुक्त अभिनंदन समार¨ह म­ अभिनन्दन किया गया। मंच पर अध्यक्ष श्री अरविन्द यादव, उप महाप©र श्री सम्पत सांखला, उपनिदेशक जीवराज जाट, राष्ट्रीय महामंत्राी देवलाल ग¨चर, रेसा जिलाध्यक्ष प्रदीप मल्ह¨त्रा और राष्ट्रीय जिलाध्यक्ष भँवर सिंह राठ©ड़ थे। अतिथिय¨ं का स्वागत दीपक ज¨हरी,सुरेश व्यास कैलाश झवर,अमित शर्मा, एडीपीसी रमसा रामनिवास गालव,एडीपीसी दिनेश ओझा, प्रदेश उपाध्यक्ष मह­द्र लखारा, विष्णु सिंह राठ©ड़ ने किया। स्वागत भाषण उपनिदेशक जीवराज जाट ने दिया। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती दर्शना शर्मा और ममता स¨नगरा ने किया।




शिक्षा राज्यमंत्राी ने की प्रेस क्लब भवन के लिए 25 लाख रूपए की घोषणा
अजमेर, 11 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने वैशाली नगर में बनने वाले अजयमेरू प्रेस क्लब भवन के निर्माण के लिए 25 लाख रूपए के देने की घोषणा की है। प्रो. देवनानी के विधायक कोष से यह राशि दी जाएगी। प्रेस क्लब भवन के लिए अब तक 55 लाख रूपए की घोषणा हो चुकी है।

अजयमेरू प्रेस क्लब में आयोजित एक कार्यक्रम में शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि वैशाली नगर में प्रेस क्लब के नए भवन के लिए 25 लाख रूपए दिए जाएंगे। विधायक कोष से 10 लाख रूपए इस वित्तीय वर्ष एवं 15 लाख रूपए अगले वित्तीय वर्ष में दिए जाएंगे। कार्यक्रम में प्रेस क्लब अध्यक्ष डाॅ. रमेश अग्रवाल, पूर्व अध्यक्ष श्री एस.पी.मित्तल, श्री राजेन्द्र गुंजल, भवन निर्माण समिति के अध्यक्ष श्री सुरेश कासलीवाल एवं श्री प्रताप सनकत सहित कई वरिष्ठ पत्राकार एवं प्रेस क्लब के सदस्य उपस्थित थे। गौरतलब है कि प्रेस क्लब भवन के लिए अब तक 55 लाख रूपए की राशि प्राप्त हो चुकी है। महिला एवं बाल विकास मंत्राी श्रीमती अनिता भदेल द्वारा 20 लाख एवं नसीराबाद विधायक श्री रामनारायण गुर्जर द्वारा 10 लाख रूपए देने की घोषणा की गई है। नगर निगम द्वारा प्रेस क्लब भवन का निर्माण कराया जाएगा।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top