जोधपुर जासूसी के आरोप में पकड़े गए दो युवक, सामरिक महत्व की सूचनाएं पाक भेजने का आरोप
जासूसी के आरोप में पकड़े गए दो युवक, सामरिक महत्व की सूचनाएं पाक भेजने का आरोपजासूसी के संदेह में दो व्यक्तियों को जयपुर आईबी की टीम ने शनिवार को जोधपुर रेलवे स्टेशन के पास से पकड़ा है। थार एक्सप्रेस से सामरिक महत्व की सूचनाएं तथा दस्तावेज पाक भेजे जाने की आशंका जताई जा रही है। दोनों युवकों को जयपुर आईबी टीम जयपुर ले गई है।
 अब तक मिली जानकारी के अनुसार इनमें एक संदिग्ध जोधपुर और एक जैसलमेर का है। अंदेशा जताया जा रहा है कि जोधपुर के अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन भगत की कोठी से दोनों सामरिक महत्व की सूचनाएं भारत-पाकिस्तान के मध्य चलने वाली थार एक्सप्रेस के जरिए पड़ोसी मुल्क को भेजते रहे हैं। सूचनाओं में आर्मी कैम्प की मूवमेंट, अभ्यास और बाकी गतिविधियां शामिल हैं। दोनों को अक्सर जोधपुर और जैसलमेर के आर्मी एरिया में स्पॉट किया गया है। थार एक्सप्रेस शुक्रवार को यहां से रवाना हुई थी। आईबी टीम का अनुमान है कि कल भी दोनों ने कुछ जानकारियां लीक की हैं। टीम जयपुर ले जाकर इनसे पूछताछ करेगी। पूछताछ के दौरान कई अहम जानकारियां हासिल हो सकती हैं। फिलहाल इस मामले में और तथ्य जुटाए जा रहे हैं। 
 कई दिनों से थी नजर
जयपुर आईबी टीम की दोनों युवकों पर काफी दिनों से नजर थी। दोनों के पाकिस्तान से आने वाले और जाने वाले कॉल्स का ब्यौरा भी लिया गया। संदेहात्मक घटनाक्रम के तहत दोनों को आईबी टीम ने हिरासत में ले लिया।
स्थानीय टीम को नहीं जानकारी
जयुपर आईबी ने स्थानीय टीम को कार्रवाई की भनक भी नहीं लगने दी। सुबह टीम ने जब दोनों को पकड़ लिया, तभी यहां की टीम को भी कार्रवाई के बारे में मालूम चला। फिलहाल टीम जयपुर पहुंच गई और दोनों से पूछताछ जारी है।
 एेसे करते है सूचनाएं लीक
पाकिस्तान को सामरिक महत्व की सूचनाएं कभी डॉक्यूमेंट्स, तो कभी फोटोग्राफ्स के माध्यम से भेजी जाती हैं। कई बार ये सूचनाएं मौखिक रूप से भी किसी यात्री के माध्यम से भेजी जाती हैं। गौर करने वाली बात ये है कि सूचना भेजने का माध्यम कोई भी हो, जिस व्यक्ति के जरिए खबर पहुंचाई जाती है, उसे इस गैर कानूनी गतिविधि की पूरी जानकारी रहती है। 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top