edvertise

edvertise
barmer

स्मार्ट सिटी अजमेर
सर्किट हाउस की पहाड़ियों पर बहेगा झरना, झील के चारों तरफ होगा पाथवे
शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने महापौर के साथ किया स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण
अधिकारियों को दिए काम में तेजी लाने के निर्देश

अजमेर, 05 जनवरी। अजमेर शहर में स्मार्ट सिटी योजना के तहत आनासागर झील के चारों तरफ पाथवे बनाया जाएगा। इसका मुख्य आकर्षण सर्किट हाउस की पहाड़ियों पर बहता झरना भी होगा जो झील के चारों तरफ से देखा जा सकेगा। पाथवे पर आमजन की सुविधा एवं मनोरंजन के लिए भी योजना तैयार की गई है। लवकुश उद्यान पर कैफेटेरिया भी विकसित किया जा रहा है। यहां चाय की चुस्कियों के साथ झील का नजारा देखा जा सकेगा।
शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने आज महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत के साथ स्मार्ट सिटी योजना के तहत कराए जाने वाले कामों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने बताया कि अजमेर शहर में आजादी के बाद पहली बार इतनी बड़ी और शानदार योजना लागू की गई है। योजना अजमेर का ना सिर्फ नक्शा बदलेगी बल्कि यह विकास में भी हमें कई साल आगे कर देगी।
प्रो. देवनानी ने बताया कि आनासागर झील के चारों ओर पाथवे बनाया जाएगा। विभिन्न चरणों में यह कार्य सम्पन्न होगा। सर्किट हाउस से जुड़ी पहाड़ी पर झरना एवं लवकुश उद्यान में कैफेटेरिया भी बनाया जा रहा है। योजना के तहत प्रथम चरण में करीब एक हजार करोड़ रूपए के कार्य करवाए जाएंगे। इसके तहत आगामी 25 जून से पूर्व कुछ कार्य पूरे कर लिए जाएंगे और कुछ कार्य शुरू करवा दिए जाएंगे।
उन्होंने बताया कि कचहरी रोड से पावर हाउस के पास जयपुर रोड तक नाले को कवर कर नई सड़क बनायी जाएगी। इससे शहर में यातायात समस्या का काफी समाधान होगा। इसी तरह सूचना केन्द्र में ओपन आॅडिटोरियम सहित कई अन्य कार्य भी करवाए जाएंगे। बस स्टैण्ड से अशोक उद्यान तक सड़क को स्मार्ट रोड के रूप में विकसित किया जाएगा।
महापौर श्री धर्र्मेन्द्र गहलोत ने बताया कि जयपुर रोड सौंदर्यीकरण, सुभाष उद्यान में कल्चरल पार्क, शहर के प्रमुख मार्गो व चैराहो पर मूर्ति व कला की स्थापना, शहर में टूरिस्ट इंफाॅर्मेशन सेन्टर का निर्माण, आनासागर के चारों ओर एम्फीथियेटर, पैदल व साईकिल का ट्रेक, सोलर लाईट, म्यूजिकल फाउंटेन, वाॅटर स्पोर्टस, हैरिटेज म्यूजियम आदि कार्य भी प्रस्तावित किए गए हैं। इसी तरह शहर में ओपन एयर जिम, थीम बेस्ड पार्क, रैन वाॅटर हाॅरवेस्टिंग कार्य, जलापूर्ति से संबंधित कार्य, बाईक शेयरिंग योजना, फुट ओवर ब्रिज, प्लानटेशन, वैण्डिंग जोन, दुकानों का फ्रंट सौंदर्यीकरण, स्मार्ट क्लास, रिजनल साईंस सेन्टर, लाईब्रेरियों का सशक्तिकरण, डिजीटल लाईब्रेरी, मल्टी स्किल इंस्टीटयूट, स्टार्टअप हब, वाई फाई कनेक्टिीविटी, स्मार्ट ट्रांसर्पोटेशन आदि कार्य भी कराए जाएंगे।
इस अवसर पर नगर निगम की उपायुक्त ज्योति ककवानी सहित अन्य अधिकारी एवं कार्य से जुड़े प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।


गुरू गोविंद सिंह से सीखें देशप्रेम - प्रो. देवनानी अजमेर, 05 जनवरी। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि सिखों के दसवें गुरू श्री गोविंद सिंह पूरे देश के लिए देशप्रेम की एक शानदार मिसाल हैं। हमें उनके जीवन से सीख लेकर राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्य को पूरा करना चाहिए।
शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने आज आजाद पार्क में गुरू गोविंद सिंह की जयन्ती पर आयोजित प्रकाशोत्सव में भाग लिया। उन्होंने कहा कि गुरू गोविंद सिंह देश की हर पीढ़ी के आदर्श रहे है। हमें उनके जीवन से त्याग और देश के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने की सीख लेनी चाहिए। गुरू गोविंद सिंह ने हमेशा देश को आदर्श मानकर अपने फैसले लिए। उनके साथ महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी प्रकाशोत्सव में भाग लिया।


लाल मुंह के बन्दरों के आतंक से मुक्त होगा अजमेर शहरनगर निगम ने शुरू किया बन्दरों को पकड़ने का अभियान, पहले दिन 24 बन्दर पकड़े
अजमेर, 05 जनवरी। अजमेर शहर की काॅलोनियों में आए दिन उत्पात मचाने वाले बन्दरों को पकड़ने के लिए नगर निगम ने बड़ा अभियान शुरू किया है। इसके लिए शहर की विभिन्न काॅलोनियों एवं बस्तियों में बन्दरों को जाल में कैद करना शुरू किया गया है। आज विभिन्न काॅलोनियों में 24 बन्दर पकड़े गए।
महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने बताया कि बन्दरों को पकड़ने के लिए जयपुर से विशेषज्ञ दल को बुलवाया गया है। अभियान के तहत आज पुष्कर रोड, हरिभाउ उपाध्याय नगर, बी.के.कौल नगर सहित अन्य क्षेत्रों में जाल लगाकर बन्दरों को पकड़ा गया। पहले दिन दो दर्जन लाल मुंह के बन्दर पकड़े गए है। यह अभियान पुरानी मण्डी, नया बाजार, माखुपुरा एवं ऐसे अन्य क्षेत्रों में चलाया जाएगा जहां बन्दरों ने लगातार उत्पात मचा रखा है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top