edvertise

edvertise
barmer

पार्षद की अनूठी पहल; जरूरतमंदों को मुफ्त में कपड़े देने के लिए खोला शोरूम

पार्षद की अनूठी पहल; जरूरतमंदों को मुफ्त में कपड़े देने के लिए खोला शोरूम 
शहर के लक्ष्मीपुरा में हेल्प शो रूम में जमा होंगे नए पुराने कपड़े, फुटपाथ झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लोगों को बांटेंगे, नागरिक भी यहां दे सकेंगे कपड़े
शो रूम पर सालाना खर्च होंगे 2.5 लाख रुपए
हेल्पशो रूम का किराया आठ हजार रुपए प्रतिमाह है। स्टाप लाइट बिल को मिलाकर हर माह करीब 20 हजार रुपए खर्च होंगे। इस हिसाब से सालाना 215 लाख रुपए की जरूरत होगी। यह पूरा खर्चा पार्षद बादलसिंह अपने स्तर पर वहन करेंगे। 
 बाड़मेर
सड़कफुटपाथ पर जिंदगी बसर कर रहे गरीब लोगों को अब पहने के लिए कपड़े मुफ्त में मिलेंगे। दो वक्त की रोजी-रोटी के जुगाड़ में भटक रहे नन्हे बच्चों के साथ उनके परिजनों को तन ढकने के लिए मोहताज नहीं होना पड़ेगा।
ऐसे जरूरतमंद लोग शो रूम में जाकर अपनी पसंद के कपड़े ले सकेंगे। यह बात सुनने में भले ही अजीब लगती है लेकिन शहर के एक पार्षद ने अनूठी पहल करते हुए शो रूम खोला है, जिसमें शहर का कोई भी व्यक्ति नए पुराने कपड़े जमा करवा सकेगा। इन कपड़ों की धुलाई इस्तरी करके गरीब लोगों को फ्री में दिए जाएंगे। इस तरह का जिले में पहला शो रूम है जहां पर फ्री में गरीब जरूरतमंद लोगों को फ्री में कपड़े मुहैया होंगे।
शहर के वार्ड 35 के पार्षद बादलसिंह ने लक्ष्मीपुरा बाड़मेर में हेल्प शो रूम की शुरूआत की है। इसमें नए पुराने कपड़े रखे जाएंगे। शहर के लोग पुराने कपड़े यहां लाकर दे सकते हैं। इसके लिए पार्षद ने अपने सहयोगियों की मदद से पचास से साठ जोड़ी कपड़ों का स्टॉक कर लिया है। सोमवार को इस शो रूम की विधिवत रूप से शुरूआत होने के साथ गरीब लोगों को फ्री में कपड़े बांटे जाएंगे। पार्षद ने बताया कि फुटपाथ कच्ची बस्तियां में रहने वाले लोग दिनभर मजदूरी करके मुश्किल से दो वक्त की रोजी रोटी का जुगाड़ कर पाते हैं। इनके बच्चों को तन ढंकने के लिए कपड़े नसीब नहीं होते है। इनकी मदद करने के उद्देश्य से हेल्प शो रूम की पहल कर शहर के लोगों से पुराने कपड़े दान करने की अपील की गई है। यह शो रूम सालभर नियमित रूप से संचालित होगा। यहां पर वास्तविक जरूरतमंद लोगों का सत्यापन करने के बाद ही कपड़े दिए जाएंगे।
बाड़मेर. लक्ष्मीपुरा में गरीबों को फ्री कपड़े देने के लिए खोला गया शोरूम। 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top