edvertise

edvertise
barmer



अजमेर जिला जन समस्याओं के निस्तारण मंे द्वितीय स्थान पर
अजमेर, 04 जनवरी। राज्य सरकार के सेन्टर फाॅर गुड गर्वनेंस द्वारा अजमेर जिले में दिसम्बर माह के दौरान किए गए जन समस्याओं के निस्तारण कार्य को बेहतरीन मानते हुए राज्य में द्वितीय स्थान प्रदान किया है।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि जिले में दिसम्बर माह के दौरान राजस्थान सम्पर्क पोर्टल के माध्यम से आमजन को राहत पहुंचाने में उत्कृष्ट कार्य किया है। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक जिले की रैंकिंग तय की गई है। राज्य के 33 जिलो मे से बारां के पश्चात अजमेर जिला पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों को निस्तारित करने के विषय पर द्वितीय स्थान पर रहा है। जिला प्रशासन एवं समस्त विभागों द्वारा आमजन को राहत पहुंचाने की दृष्टि से अच्छा कार्य किया गया है। इस रैंकिंग में झुंझुनूं को तीसरा, सिरोही को चैथा तथा बूंदी को पांचवा स्थान मिला है।




15 दिन में मख्खियों से मिलेगी निजात

पोल्ट्री फार्म करेगा मख्खियों का निस्तारण

प्रशासन की रहेगी प्रभावी माॅनिटरिंग

अजमेर, 04 जनवरी। पालरा रिको इंडस्ट्रीयल एरिया में पोल्ट्री फार्म की गतिविधियों के द्वारा उत्पन्न हुई मख्खियों से 15 दिन में निजात दिलाने के लिए पोल्ट्री फार्म संचालकों को उप जिला मजिस्ट्रेट द्वारा आदेशित किया गया।

उप जिला मजिस्ट्रेट श्री जय प्रकाश नारायण ने बताया कि पालरा स्थित रिको इंडस्ट्रीयल एरिया में पोल्ट्री फार्म के क्रियाकलापों के माध्यम से मख्खियों की बड़ी तादात के कारण परेशानी से निजात दिलाने के लिए हेमन्त परवानी तथा अन्य द्वारा वाद दायर किया गया था। इस पर संबंधित समस्त पक्षो को सुनवाई का मौका देने तथा जांच के पश्चात पोल्ट्री फार्म से मख्खियों, बीमारियों एवं महामारी की आशंका से पब्लिक न्यूसेंस पैदा होने की आंशका पायी गई। इस न्यूसेंस का कारण श्रीमती रेणु शिवहरे पत्नि श्री सुधीर शिवहरे के पोल्ट्री फार्म को माना गया। इसमें पर्याप्त साफ सफाई का अभाव था। पक्षियों की गंदगी तथा मृत पक्षियों का निस्तारण नियमानुसार नहीं करने के साथ ही आवश्यक रसायन का छिड़काव नहीं किया गया। इसके कारण लोक स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव पड़ने और बीमारियों का माहामारी का रूप लेने की आशंका सामने आयी।

उन्होंने बताया कि संबंधित पोल्ट्री फार्म द्वारा 15 दिवस में इस समस्या को निस्तारित किया जाएगा। फार्म के स्तर पर साफ सफाई का विशेष ध्यान दिया जाएगा। मृत पक्षियों एवं उनकी गंदगी को नियमानुसार निस्तारित किया जाएगा। पोल्ट्री फार्म द्वारा आसपास के क्षेत्रा में रसायनिक दवा व अन्य उपयुक्त कीटनाशकों का छिड़काव तत्काल प्रभाव से आरम्भ किया जाकर नियमित रूप से किया जाएगा। पोल्ट्री फार्म क्षेत्रा में मख्खियों और बीमारियां पैदा करने वाली गंदगी नहीं फैलाने के लिए पाबंद रहेगा।

उन्होंने बताया कि आदेश की पालना सुनिश्चित करने तथा नियमित माॅनिटरिंग के लिए उप निदेशक राज्य कुक्कुट संस्थान अजमेर, संयुक्त निदेशक पशु पालन विभाग अजमेर तथा क्षेत्राीय प्रबंधक राजस्थान स्टेट प्रदूषण नियंत्राण बोर्ड किशनगढ़ को अधिकृत किया गया है। इन विभागों के संयुक्त दल द्वारा नियमित परीक्षण एवं निरीक्षण किया जाएगा। पोल्ट्री फार्म द्वारा निर्देशानुसार कार्य नहीं करने की स्थिति में प्रदूषण नियंत्राण अधिनियम के तहत कानूनी कार्यवाही करने के साथ ही पोल्ट्री फार्म का पंजीयन निरस्त करने की प्रक्रिया अमल में लायी जाएगी।

उन्होंने बताया कि पोल्ट्री फार्म तथा क्षेत्रा के पर्यावरण को सुरक्षित रखने से संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा निरीक्षण एवं निगरानी में लापरवाही सामने आने पर इनके विरूद्ध भी प्रभावी कार्यवाही की जाएगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top