edvertise

edvertise
barmer



मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान मंे सबकी भागीदारी जरूरीःशर्मा
-मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान मंे राजस्थान पुलिस, सीमा सुरक्षा बल, केयर्न इंडिया एवं राजवेस्ट समेत विभिन्न संगठनांे ने सक्रिय भागीदारी निभाने का भरोसा दिलाया।

बाड़मेर, 10 जनवरी। मुख्यमंत्री जल स्वालवंबन अभियान मंे जन सहयोग के साथ विभाग, कंपनियां एवं अन्य संगठन सक्रिय भागीदारी निभाएं। जल की एक-एक बूंद को सहेजने मंे सामग्री अथवा श्रमदान करके अपना विशेष योगदान दे सकते है। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बुधवार को मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के द्वितीय चरण मंे सहयोग एवं भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए आयोजित बैठक के दौरान यह बात कही।

इस अवसर पर जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के जरिए प्रत्येक गांव को जल के लिहाज से आत्म निर्भर बनाया जाना है। बाड़मेर जिले मंे मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के द्वितीय चरण मंे 37 ग्राम पंचायतांे मंे जल संरक्षण के कार्य कराए जाएंगे। उन्हांेने कहा कि जल स्वावलम्बन अभियान के कार्यों में कोई भी विभाग, संगठन, दानदाता, प्रतिनिधि, ठेकेदार आदि काम में आने वाली सामग्री एवं श्रमदान कर अपना विशेष योगदान दे सकते है।

पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला ने कहा कि पुलिस विभाग की ओर से इस अभियान मंे सक्रिय भागीदारी निभाई जाएगी। उन्हांेने कहा कि संबंधित विकास अधिकारी अथवा कार्यकारी एजेंसी के प्रतिनिधि संबंधित पुलिस अधिकारियांे से संपर्क करें। उन्हांेने जिले मंे सामूहिक श्रमदान करवाने का सुझाव दिया। इस पर आगामी 28 जनवरी को जिले भर मंे सामूहिक श्रमदान करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के द्वितीय चरण मंे बाड़मेर जिले मंे प्रस्तावित कार्याें एवं संबंधित स्थानांे के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने कहा कि आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए जागरूकता कार्यक्रमांे का आयोजन किया जाएगा।

बैठक के दौरान केयर्न इंडिया के शाश्वत कुलश्रेष्ठ, राजवेस्ट के विनोद विटठल ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान मंे संबंधित कंपनियांे की ओर से यथासंभव सहयोग का भरोसा दिलाया। विनोद विटठल ने राजवेस्ट की ओर से जागरूकता कार्यक्रमांे एवं आज भी खरे है तालाब पुस्तक का प्रकाशन करवाकर आमजन को वितरण करवाने का सुझाव रखा। केयर्न इंडिया के शाश्वत कुलश्रेष्ठ ने कहा कि केयर्न इंडिया की ओर से जनसंवाद कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसमंे मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान को शामिल किया जाएगा। सीमा सुरक्षा बल के प्रतिनिधि द्वितीय कमान अधिकारी राजेन्द्र यादव ने सामूहिक श्रमदान एवं जल संरक्षण के कार्याें मंे बीएसएफ की ओर से यथासंभव सक्रिय भागीदारी की बात कही। इस दौरान उप वन संरक्षक लक्ष्मणलाल, अधीक्षण अभियंता आईडब्ल्यूएमपी बलवीरसिंह, बाड़मेर लिग्नाइट के डा.आलोक, दिलीप नारवानी, सहायक अभियंता ताराचंद शर्मा समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

सेवानिवृत सिविल पेंशनरांे के बनाए जाएंगे परिचय पत्र
बाड़मेर, 11 जनवरी। पेंशन एवं पेंशनर्स कल्याण विभाग के निर्देशांे की पालना मंे 01 अप्रैल 2008 से 30 जून 2013 तक सेवानिवृत सिविल पेंशनरांे के परिचय पत्र तैयार किए जाने है।

कोषाधिकारी दिनेश बारहठ ने बताया कि बाड़मेर जिले के इस अवधि मंे सेवानिवृत हो चुके पेंशनर जिनकी मेडिकल डायरियां नहीं बनी हुई है, वे पेंशन विभाग के निर्धारित प्रपत्र मंे कोष कार्यालय मंे परिचय पत्र बनवाने के लिए आवेदन कर सकते है। आवेदन प्रपत्र कार्यालय समय मंे कोष कार्यालय बाड़मेर मंे प्राप्त किया जा सकता है। जिन पेंशनरांे की मेडिकल डायरियां बनी हुई है, उन्हें आवेदन करने की जरूरत नहीं है। उक्त अवधि मंे सेवानिवृत पेंशनरांे मंे पारिवारिक पेंशनर शामिल नहीं है।

पोषाहार की गुणवत्ता की प्रभावी मोनेटरिंग करेंःशर्मा
बाड़मेर, 11 जनवरी। मिड-डे-मील के तहत विद्यालयों में दिया जाने वाला पोषाहार पूर्ण गुणवत्ता युक्त हो। साथ ही सही मात्रा के साथ निर्धारित समय पर स्कूलों तक पहुंचाया जाए। इसके लिए रसद एवं शिक्षा विभाग के अधिकारी आपसी समन्वय के साथ मोनेटरिंग करें। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बुधवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे मिड-डे-मील संबंधित समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि पोषाहार वितरण कार्य पर प्रभावी मॉनिटरिंग की जाए। स्कूलों में ठेकेदारों द्वारा पोषाहार की निर्धारित मात्रा से कम मात्रा दिए जाने की शिकायत पर तत्काल कार्यवाही की जाए। साथ ही पोषाहार तोलकर ही प्राप्त किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि पोषाहार की गुणवत्ता जांच निर्धारित समय पर की जाए। इसके लिए शिक्षा विभाग के साथ अन्य अधिकारी भी निरीक्षण के दौरान आवश्यक रूप से पोषाहार को चखकर जांच करें। जिला कलक्टर शर्मा ने कहा कि अगर किसी भी विद्यालय मंे पोषाहार तोलकर अथवा कम दिया जाता है तो संबंधित संस्था प्रधान तत्काल जिला रसद अधिकारी को इस बारे मंे अवगत कराए। उन्हांेने विद्यालयांे मंे शिक्षण व्यवस्था के लिए लगाए गए बीएड एवं बीएसटीसी करने वाले प्रशिक्षार्थियांे की भी उपस्थिति की जांच करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि संबंधित उपखंड एवं विकास अधिकारियांे को विद्यालयांे मंे आधारभूत सुविधाएं मुहैया कराने के लिए भामाशाहांे का सहयोग लेने के लिए निर्देशित किया गया है ऐसे मंे संबंधित से शिक्षा विभाग के अधिकारी संपर्क करें। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने विद्यालयांे मंे रसोईघर निर्माण के लिए महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत कर्न्वजेंस के प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए। जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा प्रेमचंद सांखला ने कहा कि आगामी एक अप्रैल से 17 पंचायत समिति स्तर से कार्य प्रारंभ करवाने के लिए तैयारी पूर्ण कर दी जाए। उन्हांेने कहा कि किसी भी प्रकार का भुगतान नकद नहीं लिया जाए। बैठक के दौरान मिड-डे-मील के लिए मसाले एवं अन्य सामग्री अन्नपूर्णा भंडार से लेने के निर्देश दिए गए।

बैठक के दौरान जिला रसद अधिकारी कंवराराम चौधरी ने बताया कि जिले मंे 201 स्थानांे पर अन्नपूर्णा भंडार खोले गए है। संबंधित डीलर से ओर से मांग के अनुसार विद्यालय मंे संबंधित सामग्री आपूर्ति की जाएगी। बैठक मंे विद्यालयांे मंे प्रतिदिन की विद्यार्थियांे की उपस्थिति की सूचना एसएमएस के जरिए भिजवाने के लिए संबंधित संस्था प्रधानांे को पाबंद करने के निर्देश दिए गए।

निर्माण कार्य 31 मार्च तक आवश्यक रूप से पूर्ण करवाएंः नेहरा
बाड़मेर, 11 जनवरी। सर्व शिक्षा अभियान के तहत प्रगतिरत कार्याें को आगामी 31 मार्च तक आवश्यक रूप से पूर्ण करवाएं। इसके अभाव मंे कार्य के लिए बजट जारी नहीं हो पाएगा। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने बुधवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे सर्व शिक्षा अभियान संबंधित समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने कहा कि निर्माण कार्याें मंे गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। इन्हांेने इस दौरान सर्व शिक्षा अभियान के तहत प्रगतिरत एवं स्वीकृत कार्याें के बारे मंे विस्तार से जानकारी ली। उन्हांेने कहा कि आवासीय विद्यालयांे की ब्लाक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी नियमित रूप से पर्यवेक्षण करें। इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा प्रेमचंद सांखला ने कहा कि जो विकास कार्य प्रारंभ नहीं हो पाए है उनको तत्काल प्रभाव से प्रारंभ करवाने के साथ नियमित रूप से मोनेटरिंग की जाए। बैठक मंे बताया कि सर्व शिक्षा अभियान के तहत वर्ष 2015-16 मंे स्वीकृत 15 प्राथमिक विद्यालयांे में से 13 का कार्य प्रारंभ हो चुका है। जबकि दो विद्यालयांे का कार्य प्रगति पर है। वर्ष 2016-17 मंे 25 नए प्राथमिक विद्यालयांे के भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया है। इसी तरह बालिका शिक्षा के लिए जिले मंे 6 कस्तुरबा गांधी आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे है। बैठक मंे आवासीय विद्यालयांे मंे प्रभावी शिक्षण व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। इसके अलावा शाला दर्शन मंे कस्तुरबा गांधी एवं अन्य आवासीय विद्यालयांे के विद्यार्थियांे संबंधित सूचना आवश्यक रूप से अपलोड करने के निर्देश दिए गए। इस दौरान अतिरिक्त परियोजना समन्वयक धर्माराम चौधरी, सहायक अभियंता मूलचंद तंवर, अशोक कुमार ने सर्व शिक्षा अभियान के तहत संचालित विभिन्न गतिविधियांे की जानकारी दी।

मुख्यमंत्री सहायता कोष से आर्थिक सहायता स्वीकृत
बाड़मेर, 11 जनवरी। विभिन्न हादसांे मंे व्यक्तियांे की मौत होने अथवा घायल होने पर उनके परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण मुख्यमंत्री सहायता कोष से 2 लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि बालोतरा निवासी हारून अली पुत्र गनी खान, अराबा निवासी भीमाराम पुत्र हिन्दूराम,सिणेर निवासी रूपाराम पुत्र तुलसाराम की सड़क हादसे एवं रातड़ी निवासी पूजा पुत्री जबरसिंह की कच्चे घर की दीवार गिरने से मौत पर उनके परिजनांे को 50-50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

नेतराड़ मंे अतिरिक्त जिला कलक्टर की रात्रि चौपाल आज
बाड़मेर, 11 जनवरी। बिसारणिया कलस्टर की ग्राम पंचायतांे के लिए गुरूवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई की रात्रि चौपाल नेतराड़ ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रखी गई है। इस दौरान संबंधित विभागीय अधिकारियांे को उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने बताया कि 12 जनवरी को बिसारणिया कलस्टर की ग्राम पंचायत नेतराड़,साइयांे का तला, इसरोल, लीलसर, पंवारिया तला, सोडियार, बिसारणिया, नेहरो की नाडी के लिए नेतराड़ ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल रखी गई है। इसी तरह 18 जनवरी को बालेबा कलस्टर की ग्राम पंचायत खानियानी, खुडाणी, खारची, बालेबा, फोगेरा के लिए खारची ग्राम पंचायत मुख्यालय, 23 जनवरी को सांवा कलस्टर की ग्राम पंचायत कितनोरिया, नवातला राठौड़ान, भूणिया, फगलू का तला, बामणोर अमीरशाह, अम्मी मोहम्मदशाह की बस्ती, तालसर के लिए कितनोरिया ग्राम पंचायत मुख्यालय तथा 30 जनवरी को खड़ीन कलस्टर की ग्राम पंचायत देरासर, गंगाला, खारा राठौड़ान के लिए गंगाला ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल आयोजित होगी। इस दौरान आमजन की समस्याआंे का समाधान किया जाएगा।

जिला स्तरीय जन सुनवाई आज
बाड़मेर, 11 जनवरी। आमजन की परिवेदनाआंे की सुनवाई एवं समस्याआंे के समाधान के लिए जिला मुख्यालय पर एक दिवसीय जन सुनवाई का आयोजन जनवरी माह के द्वितीय गुरूवार 12 जनवरी को प्रातः 10 बजे से जिला कलक्टर कार्यालय स्थित अटल सेवा केन्द्र मंे किया जाएगा।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने बताया कि जिला स्तरीय जन सुनवाई मंे संबंधित अधिकारियांे को उपस्थित होकर जिला कलक्टर के निर्देशानुसार परिवेदनाआंे एवं समस्याआंे का निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसी तरह जिला जन अभाव अभियोग निराकरण एवं सतर्कता समिति की बैठक जिला स्तरीय जन सुनवाई के साथ अटल सेवा केन्द्र में आयोजित की जाएगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top