edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर आपसी समन्वय भावना से बाल कल्याण के कार्यो को अंजाम दें- चतुर्वेदी
बाड़मेर,17 जनवरी। पुलिस प्रशासन एवं बाल कल्याण समिति आपस में समन्वय एवं टीम भावना से कार्य करते हुए बाल कल्याण से जुड़ी योजनाआंे एवं कार्याें को संपादित करें। राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती मनन चतुर्वेदी ने मंगलवार को सर्किट हाउस मंे जिला स्तरीय अधिकारियांे से जिले मंे बाल कल्याण योजनाआंे संबंधित समीक्षा करते हुए हुए यह बात कही।

इस अवसर पर श्रीमती चतुर्वेदी ने कहा कि बच्चों के कल्याण से जुडे विभिन्न विषयों एवं योजनाओं के लिए गठित बाल कल्याण समिति जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग से बेहत्तर सतत् सम्पर्क बनाये रखते हुए लम्बित प्रकरणों का प्राथमिकता से निपटारा करवाएं। उन्होनें कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग अपने विभागीय कार्यो को गति देते हुए प्रभावी मॉनिटरिंग भी करें। उन्होनें कहा कि बाल कल्याण समिति निर्धारित अवधि में अपनी बैठकें करने के साथ पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर औचक निरीक्षण करें तथा पीडि़त बच्चों को निर्धारित मापदण्ड के तहत उन्हें आर्थिक सहायता भी उपलब्ध करवाए। इस कार्य में किसी भी स्तर पर ढिलाई नही बरती जाएं। उन्हांेने बताया कि राज्य में बालकों के वांछित अधिकार एवं संरक्षण के लिए बेहत्तर एवं सर्वश्रैष्ठ कार्य करने वाले जिले को आगामी 16 जनवरी, 2018 को राज्य स्तर पर सम्मानित किया जाएगा। इसी तर्ज पर जिले में 10-10 आदर्श ग्राम बनाये जाने की दिशा में भी आवश्यक कार्य किया जाना है। इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.हेमराज सोनी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

प्रभारी मंत्री गोयल 20 जनवरी को करेंगे विकास योजनाआंे की समीक्षा

बाड़मेर, 17 जनवरी। जिले के प्रभारी एवं जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री सुरेन्द्र गोयल शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर बैठक के दौरान विभिन्न विभागांे की ओर संचालित विकास योजनाआंे की समीक्षा करेंगे।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल शुक्रवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे प्रातः 10.30 बजे से बाड़मेर जिले मंे विभिन्न विभागांे की ओर से संचालित योजनाआंे की प्रगति की समीक्षा करेंगे।

-संशोधित खबर

पीडि़त बालिकाआंे से मिली चतुर्वेदी,सीडब्ल्यूसी भी करेगी जांच

-राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती मनन चतुर्वेदी ने पीडि़त बालिकाआंे से संबंधित प्रकरण मंे चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को भी जांच करने के निर्देश दिए।

बाड़मेर, 17 जनवरी। राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती मनन चतुर्वेदी ने मंगलवार को सर्किट हाउस मंे पीडि़त बालिकाआंे से मिलकर घटनाक्रम की जानकारी ली। उन्हांेने इस मामले की जांच चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को भी करने के निर्देश दिए।

राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती मनन चतुर्वेदी ने मंगलवार को सर्किट हाउस मंे पीडि़त बालिकाआंे के साथ दोनांे पक्षांे के विभिन्न प्रतिनिधियांे से मिलकर संपूर्ण घटनाक्रम की जानकारी ली। उन्हांेने चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की नवनीत पचौरी एवं राजाराम सर्राफ को इस प्रकरण की अपने स्तर पर भी जांच करने के निर्देश दिए। श्रीमती चतुर्वेदी ने जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला, जांच अधिकारी चौहटन पुलिस उप अधीक्षक प्रभातीलाल से भी संपूर्ण घटनाक्रम की जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए। श्रीमती चतुर्वेदी ने पत्रकारांे से बातचीत मंे बताया कि इस मामले की जांच पुलिस की ओर से की जा रही है। इसके अलावा सीवीसी स्तर से कराने के निर्देश दिए गए है। उन्हांेने बताया कि पहली प्राथमिकता के तौर पर बालिकाआंे के भविष्य को ध्यान मंे रखते हुए उनको जोधपुर स्थित बालिका गृह मंे भेजा जाएगा, ताकि उनका अध्ययन जारी रह सके। उन्हांेने बताया कि इस संबंध मंे जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से इस मामले की जानकारी लेने के साथ आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए गए है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top