edvertise

edvertise
barmer


 पाली  युवक की हत्या के 4 और आरोपी गिरफ्तार नहीं मिला मुख्य आरोपी जाडन सरपंच

युवक की हत्या के 4 और आरोपी गिरफ्तार नहीं मिला मुख्य आरोपी जाडन सरपंच पाली



सोजतरोडथाना क्षेत्र के खारड़ी गांव में कोट किराणा निवासी सत्यनाराण सिंह उर्फ बलवीर रावत की हत्या कर उसका शव काली घाटी की पहाडिय़ों में ले जाकर ठिकाने लगाने के मामले में गिरफ्तार सिनला निवासी आरोपी जसवंतसिंह, खारड़ी निवासी भूंडाराम मेघवाल कैलाश सरगरा को पुलिस ने सोमवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से तीनों को तीन दिन के रिमांड पर दिया है, जबकि पुलिस ने हत्याकांड में शामिल खारड़ी निवासी जबरपुरी गोस्वामी, मदनलाल घांची गिरधारी मेघवाल को सोमवार शाम को गिरफ्तार कर लिया। वहीं एक बाल अपचारी को भी संरक्षण में लिया है। आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि युवक से मारपीट करने से लेकर उसका शव बाइक ठिकाने लगाने में जाडन सरपंच महिपालसिंह खारड़ी समेत 12 से अधिक आरोपी शामिल थे। इनमें से आरोपी सरपंच महिपालसिंह, उसके मौसेरे भाई रविंद्र सिंह निवासी बाड़मेर के अलावा खारड़ी निवासी दिलीपसिंह उर्फ तारुसिंह, सोहन मेघवाल प्रकाश मेघवाल समेत अन्य आरोपियों की देर रात तक तलाश की जा रही है। सोमवार को मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। परिजनों आरोपियों से हुई पूछताछ में नया खुलासा हुआ है कि मृतक सत्यनारायणसिंह उर्फ बलवीर रावत से साथ खारड़ी गांव में जाने पर पूर्व में भी मारपीट की गई थी। आरोपियों की धमकी से घबराकर मृतक ने इस बारे में पुलिस को शिकायत करने के बजाय परिजनों को पूरा घटनाक्रम बताया था।
शादीसमारोह पर पुलिस की नजर, 5 फरवरी को है आरोपी सरपंच की शादी : खारड़ीगांव में सोमवार को जाडन के आरोपी सरपंच महिपालसिंह की चचेरी बहन की शादी समारोह का आयोजन किया गया। बहन की शादी में शामिल होने की सूचना पर सोमवार को देर रात तक सोजतरोड़ थाना प्रभारी भूटाराम विश्नोई के नेतृत्व में पुलिस दल गांव में नजर रखे रहे, लेकिन आरोपी समारोह में नहीं पहुंचा। पुलिस को पता लगा है कि आरोपी सरपंच महिपालसिंह पुत्र बलवीरसिंह राजपूत की आगामी 5 फरवरी को शादी होने वाली है, जिसको देखते हुए भी पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है।



शव स्कार्पियो में ले गए, बाइक को दूसरे ने चलाई पुलिस की जांच में पता चला है कि 12 जनवरी की रात को कोट किराणा निवासी सत्यनारायण उर्फ बलवीर पुत्र विक्रमसिंह रावत बाइक लेकर परिचित युवती से मिलने के लिए खारड़ी गांव में पहुंचा था। उस समय एक मकान में अवैध रूप से पानी का कनेक्शन कर रहे आरोपियों ने उसे चोर के संदेह में पकड़ लिया। सूचना पर आरोपी सरपंच महिपालसिंह खारड़ी, जसवंतसिंह सिनला समेत अन्य आरोपी भी पहुंचे, जो बाइक समेत युवक को पकड़ कर सरपंच के फार्म हाऊस पर ले गए। जहां पूर्व में ताकीद करने के बाद भी दुबारा गांव में आने पर आरोपियों ने बारी-बारी से बेरहमी से मारपीट की। इसके बाद उसे सिनला निवासी जसवंतसिंह के फार्म हाऊस पर ले जोकर भी मारपीट की गई, जिससे 13 जनवरी को तड़के ही युवक ने दम तोड़ दिया। इसके बाद आरोपियों ने मृतक का शव सरपंच डाला, जबकि बाइक लेकर अन्य आरोपी उनके साथ करमाल-देवगढ़ मार्ग पर काली घाटी की पहाडिय़ों में पहुंचे। हत्या को सड़क हादसे का रुप देने के लिए आरोपियों ने काली घाटी में सुनसान जगह पर ठिकाने लगाने के लिए शव बाइक को पटक दिया था।
चार और गिरफ्तार, बाकी की तलाश तेज हत्या शव ठिकाने लगाने के मामले का रविवार सुबह खुलासा होने के बाद पुलिस ने आरोपी जसवंतसिंह राजपूत निवासी सिनला, खारड़ी भूंडाराम मेघवाल कैलाश सरगरा को गिरफ्तार कर लिया, जिन्हें तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। सोमवार को पुलिस ने आरोपी जबर पुरी पुत्र संपतपुरी, मदन घांची पुत्र चतुराराम तथा गिरधारी मेघवाल पुत्र देवाराम को गिरफ्तार किया। मामले में मुख्य आरोपी जाडन सरपंच महिपालसिंह खारड़ी, उसका मौसेरा भाई रविंद्र सिंह खारड़ी निवासी प्रकाश मेघवाल पुत्र दीपाराम, सोहन मेघवाल पुत्र बस्तीराम तथा दिलीपसिंह उर्फ तारुसिंह रावणा राजपूत समेत अन्य की तलाश तेज की गई है।
आतंक {मृतक केपरिजनों ने खुलासा किया कि खारड़ी गांव में जाने पर पूर्व में भी आरोपियों ने मारपीट की थी, आरोपियों की धमकियों से घबराकर पुलिस को नहीं की थी शिकायत
खुलासा{रिमांड परतीनों आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि युवक से मारपीट से लेकर शव ठिकाने लगाने में जाडन सरपंच महिपालसिंह समेत 12 से अधिक आरोपी थे साथ।
 






0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top