edvertise

edvertise
barmer



जयपुर जंक्शन से ऑटो में बैठी छात्रा को सुनसान जगह ले गया चालक, 3 साथियों के साथ किया गैंगरेप
जयपुर जंक्शन से ऑटो में बैठी छात्रा को सुनसान जगह ले गया चालक, 3 साथियों के साथ किया गैंगरेप

मारपीट की, नशीला पदार्थ पिलाकर वीडियो क्लिपिंग बनाई
क्राइमरिपोर्टर | जयपुर

अलवरसे एसएससी की परीक्षा देकर जयपुर में अपने घर लौट रही 19 साल की एक छात्रा का ऑटो चालक और उसके तीन साथियों ने रेलवे स्टेशन से अपहरण कर लिया और नशीला पदार्थ पिलाकर गैंगरेप किया। वे युवती को जेएलएन मार्ग पर एमएनआईटी कॉलेज के सामने छोड़कर फरार हो गए। बदमाशों ने युवती के साथ मारपीट भी की। युवती के अनुसार आरोपियों ने वारदात की क्लिपिंग भी तैयार कर ली। बदमाशों ने क्लिपिंग दिखाते हुए धमकाया कि अगर घटना के बारे में किसी को बताया तो वे इसे सार्वजनिक कर देंगे। बदमाशों के जाने के बाद युवती ने पुलिस को सूचना दी। आरोपियों का देर रात तक कोई सुराग नहीं मिला था। सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

डीसीपी अशोक गुप्ता ने बताया कि पीड़ित युवती मूलत: यूपी की रहने वाली है और अपने पिता के साथ जगतपुरा में किराये के मकान में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही है। उसका छोटा भाई भी अभी उसके पास आया हुआ है। आठ जनवरी को युवती अलवर में एसएसपी की परीक्षा देनी गई थी। वहां से सोमवार शाम को करीब 7:30 बजे जयपुर जंक्शन पर गई थी। पीड़िता ने बताया है कि रेलवे स्टेशन से बाहर आने के बाद एक ऑटो चालक जगतपुरा की सवारियों को बुला रहा था। वह भी उस ऑटो में बैठ गई।    

उसमेंपहले से पीछे वाली सीट पर तीन युवक बैठे हुए थे। एक युवक नीचे उतरकर आॅटो चालक के पास बैठ गया। इसके बाद सिंधी कैंप होते हुए आॅटो चालक टोंक रोड पर नारायण सिंह सर्किल के पास पहुंचा। इस दौरान छात्रा के पास बैठे युवकों ने उससे छेड़छाड़ शुरू कर दी। इस पर युवती ने चालक को ऑटो रोकने के लिए कहा। चालक ने जैसे ही ऑटो को धीरे किया तो आगे बैठा युवक नीचे उतरकर छात्रा के पास आकर बैठ गया और उसके मुंह को दबा दिया। छात्रा ने पहले से स्कार्फ बांध रखा था और वह चिल्लाने लगी तो आरोपियों ने उसके मुंह को एक और दुपट्टे से बांध दिया। इसके बाद आरोपियों ने उसके साथ मारपीट कर दी। आरोपी पीड़िता को एक सुनसान भूखंड में ले गए। इस भूखंड के चारों तरफ दीवार बनी हुई थी। वहां आरोपियों ने छात्रा से दुष्कर्म का प्रयास किया। छात्रा ने विरोध किया तो मारपीट की और जबरन नशीला पदार्थ पिला दिया। उसका मोबाइल छीनकर स्वीच ऑफ कर दिया गया। छात्रा के बेहोश होने के बाद आरोपियों ने उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़िता को सुबह करीब 5 बजे होश आया। बदाशों ने उसे अश्लील वीडियो क्लिप दिखाया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद आरोपी पीड़िता को ऑटो में बैठाकर जेएलएन मार्ग एमएनआईटी कॉलेज के सामने छोड़कर चले गए। इसके बाद पीड़ित छात्रा ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मान रही है कि जेएलएन मार्ग के आसपास ही आरोपियों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है।

  अाठ थानों की गश्त, फिर भी बंधक बनाकर दो घंटे घुमाते रहे 

संदीप ब्रजेश के नाम से बुला रहे थे 

पीड़िताने पुलिस को बताया कि आॅटो में बैठे चार युवकाें में से दो का नाम संदीप ब्रजेश है। क्योंकि वह चारों जने आपस में संदीप ब्रजेश के नाम से पुकार रहे थे। पुलिस पीड़ित छात्रा की कॉल डिटेल की भी जांच कर रही है और आरोपियों का मोबाइल टावर के आधार पर पता लगाने का प्रयास कर रही है। इसके अलावा पुलिस ऑटो चालकों से भी पूछताछ कर रही है। 

गैंगरेप की शर्मनाक घटना के बाद कमिश्नरेट पुलिस की गश्त की पोल खुल गई है। आरोपी पीड़िता को दो घंटे तक शहर के आठ पुलिस थाना इलाकों में ऑटो में ही बंधक बनाकर घुमाते रहे, लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी। यह तब, जब शाम साढ़े सात बजे तक शहर के प्रत्येक चौराहे पर ट्रेफिक पुलिसकर्मी नाकाबंदी करती है। सोमवार रात एक डीसीपी चार एडिशनल डीसीपी और पुलिस थानों का जाप्ता गश्त में था। पड़ताल में सामने आया कि बदमाशों ने युवती को सदर इलाके से अगवा किया और बनीपार्क, विधायकपुरी, सिंधी कैंप, अशोक नगर, गांधीनगर, मालवीयनगर और बजाज नगर इलाके में दो घंटे तक ऑटो में ही घुमाते रहे। आरोपियों की उम्र 20 से 25 साल है। 

स्टेशन के सीसीटीवी खराब, फुटेज नहीं मिले 

पड़तालमें सामने आया कि छात्रा रेलवे स्टेशन के बाहर रूप बसंत होटल के सामने से आॅटो में बैठी थी। वहां पर तीन जगह पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। लेकिन तीनों ही खराब हैं। पुलिस ने रेलवे स्टेशन परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले हैं। लेकिन रिकॉर्डिंग में केवल छात्रा का स्टेशन से बाहर आना ही दिखाई दे रहा है। 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top