edvertise

edvertise
barmer




नए वायुसेना प्रमुख धन्वा ने मिग-21 से अकेले भरी उड़ान

बाड़मेर वायुसेना के नए प्रमुख बीएस धन्वा ने पाकिस्तान से लगी सीमा के पास गुरुवार को लड़ाकू विमान मिग-21 से अकेले उड़ान भरी। पिछले कई वर्षों में ऐसा करने वाले वह पहले वायुसेना प्रमुख हैं। मिग-21 हादसों के लिए चर्चा में रहे हैं। धन्वा से पहले के वायुसेना प्रमुख रहे अरूप राहा ने स्वदेशी विमान तेजस से उड़ान भरी थी।


एयर चीफ मार्शल धन्वा ने राजस्थान के बाड़मेड़ में उतरलाई एयर फोर्स स्टेशन से उड़ान भरी। वह एयर फोर्स चीफ बनने के बाद ऑपरेशनल तैयारियों का जायजा लेने और सैनिकों का मनोबल बढ़ाने पहली बार फॉरवर्ड ऑपरेशनल बेस पहुंचे थे। धन्वा 1978 में फाइटर पायलट के तौर पर वायुसेना से जुड़े थे। वह जगुआर, मिग-29 और सुखोई जैसे कई लड़ाकू विमानों को उड़ाने का अनुभव रखते हैं। फ्लाइट सेफ्टी में उनका शानदार रेकॉर्ड रहा है।

इस बार उन्होंने वायुसेना के बेड़े में सबसे पुराने लड़ाकू विमान मिग-21 पर उड़ान भरी। करगिल जंग के दौरान भी उन्होंने यही विमान उड़ाया था। तब कमांडिंग ऑफिसर के तौर पर कमान संभाल कर उन्होंने बर्फीली पहाड़ियों से दुश्मन को भगाने में सफलता पाई थी। उसी दौरान वायुसेना ने रात में ऊंचाई पर बमबारी की अलग तकनीक सीखी थी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top