नई दिल्ली।आपके लिए बड़ी खबर : अब 2000 से कम कीमत वाले स्मार्टफोन देने का प्लान बना रही मोदी सरकारआपके लिए बड़ी खबर : अब 2000 से कम कीमत वाले स्मार्टफोन देने का प्लान बना रही मोदी सरकार


अब वो दिन दूर नहीं जब लेटेस्ट और अत्याधुुनिक फीचर्स से बने स्मार्टफोन लोगों को 2000 रुपए से भी कम कीमत में मिलने लगेंगे। नोटंबदी के बाद सरकार देश को कैशलेश इकोनॉमी की ओर ले जाने के लिए अब एक ऐसी योजना बनाने जा रही है, जिसमें आम लोगों को सस्ता फोन मुहैया कराया जा सके।




दरअसल, केन्द्र की मोदी सरकार स्थानीय स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों के फाइनेंशियल भुगतान की सेवा देने के लिए 2000 रुपए से भी कम कीमत वाली स्मार्टफोन महैया कराने के लिए कहा है। इसके पीछे सरकार का मकसद, देश को कैशलेस इकोनॉमी बनाने में तभी सफलता दिलाई जा सकती है जबतक की पूरे ग्रामीण इलाकों तक कम कीमत वाले स्सते स्मार्टफोन उपलब्ध नहीं कराए जा सकेंगे।




जिसके बाद अब नीति आयोग की एक मीटिंग के दौरान सरकार ने माइक्रोमैक्स, इंटेक्स, लावा और कार्बन जैसी घरेलू मोबाइल कंपनियों को कम कीमत पर सस्ते स्मार्टफोन लोगों के लिए उपलब्ध कराने को कहा है। जिसमें लेटेस्ट फीचर्स मौजूद हो। साथ ही जिसके जरिए डीजिटल ट्रांजेक्शन का दायरे को बढ़ाया जा सके। सूत्रों के मुताबिक, इसके लिए सरकार ने किसी भी चीना मोबाइल कंपनी से कोई संपर्क नहीं किया है। साथ ही नीति आयोग की ओर से बुलाई गई मीटिंग में सैमसंग और एप्पल जैसी बड़ी कंपनियों ने भाग नहीं लिया है।




सरकार ने इन कंपनियों को 2 से 2.5 करोड़ स्मार्टफोन बाजार में लाने के लिए कहा है। साथ ही सरकार ने इसके लिए किसी भी तरह की सब्सिडी देने से मना कर दिया है। इसके अलावा इन फोन्स में फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए स्कैनिंग और फिंगर प्रिंट स्कैनर जैसे फीचर्स भी होने चाहिए।




इसके तहत सबसे कम कीमत का 4G स्मार्टफोन 2000 रुपए से भी कम कीमत का होगा। हम आपको बता दें कि देश में 1 अरब मोबाइल फोन यूजर्स में से लगभग 30 करोड़ यूजर्स स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top