edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर।अपने ही बन रहे अपनों के हत्यारे!अपने ही बन रहे अपनों के हत्यारे!


सरहदी बाड़मेर में अपने ही अपनों के खून के प्यासे हो गए हैं। छोटी-छोटी बातों पर भी वे अपने चहेतों का खून करने से पीछे नहीं हट रहे। फिर चाहे सात जन्मों का रिश्ता हो या फिर रक्त संबंध। जिले में पिछले एक वर्ष में हुई हत्याओं के पीछे सबसे बड़ी वजह अवैध संबंधों के रूप में सामने आ रही है। कहीं पर पत्नी ने अपने प्रेमी संग मिलकर पति की हत्या करवा दी तो कहीं पति ने अपनी पत्नी पर शक के चलते जीवनसंगिनी को ही मार डाला। ऐसी भी वारदात सामने आई है जिसमें केवल पत्नी के चरित्र पर शक के चलते अपने पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया गया।

महज शक पर हो रहा रिश्तों का खून

शक न जाने कितने हंसते-खेलते परिवारों को तबाह कर देता है। दाम्पत्य जीवन जो विश्वास की बुनियाद पर टिका होता है, उसमे शक की आहट जहर घोल रही है। पहले संयुक्त परिवारों में जब पति-पत्नी के बीच कोई मनमुटाव होता तो घर के बड़े सदस्य उसे आपसी बातचीत से सुलझा देते थे। इसलिए बड़ों की उपस्थिति में पति-पत्नी का झगडा बड़ा रूप नहीं ले पाता था। जबकि आज की स्थिति में जहां पति-पत्नी अकेले रहते हैं, वहां उनके आपसी सम्बन्धों में शक की दीवार को हटाने वाला कोई नहीं होता। ऐसे में शक गहराने के कारण पति-पत्नी के रिश्ते दम तोडऩे लगे हैं।

केस 1 : सदर थाना क्षेत्र के बलाऊ गांव में 28 जून 2016 को एक पति ने अपने दो बच्चों सहित पत्नी की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी और उसके बाद खुद ने भी पानी में कूदकर आत्महत्या कर ली। वजह, पति-पत्नी के बीच मामूली कहासुनी।

केस 2 : जिले के धोरीमन्ना थाना क्षेत्र के राणासर गांव में 20 अक्टूबर 2016 की मध्यरात्रि को एक शिक्षक ने अपनी पत्नी के चरित्र पर शक के चलते बेरहमी से अपनी पत्नी, मां और दो पुत्रियों की हत्या कर दी। बाद में शिक्षक ने खुद पुलिस थाना धोरीमन्ना पहुंच बताया कि उसने अपनी मां, पत्नी और दोनों बेटियों की हत्या कर दी है।

केस 3: पचपदरा थाना क्षेत्र के साजियाली फांटा के पास गोमाराम पुत्र गुमनाराम जाट निवासी धोरीमन्ना की 7 नवंबर को हुई हत्या के मामले में पुलिस ने मृतक के दोस्त सहित पत्नी व सास को गिरफ्तार किया था। इस मामले में हत्या की वजह यह रही कि मृतका की पत्नी को अपने पति के दोस्त से प्यार हो गया गया था। उसने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या करवा दी।

केस 4 : ग्रामीण थाना क्षेत्र के सारण नगर जालीपा गांव निवासी राजेन्द्र कुमार को अपनी पत्नी पर शक था। पत्नी को मारने के लिए उसके साथ घूमने का प्लान बनाया। घुमाने के बहाने पंजाब के अमृतसर की एक होटल में गया और 12-13 नवम्बर 2016 की मध्य रात्रि शराब पिलाकर हथौड़े और चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी।

मन में नहीं रखें, शेयर करें

अपनों द्वारा इस तरह के जघन्य अपराध को अंजाम देना चिंता का विषय है। किसी भी सदस्य को परिवार में आपसी मनमुटाव नहीं रखना चाहिए। फिर भी लगता है कि परिवार में कोई बड़ी समस्या है तो किसी दोस्त या पुलिस प्रशासन से बात शेयर करें। पुलिस हर संभव ऐसे मामलों में मदद करेगी। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए आमजन को भी आगे आना चाहिए।-डॉ.गगनदीप सिंगला, एसपी, बाड़मेर

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top