जैसलमेर राजस्व अधिकारी बकाया एवं चालू वसूली प्राथमिकता से कर - जिला कलक्टर
ईजी - 1 के प्रपत्रों को शीघ्र भरकर अपडेट करने के दिए निर्देष

राजस्व अधिकारी क्षेत्र की प्रत्येक घटना के प्रति चैकस रहे

जैसलमेर, 21 दिसम्बर। जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे बकाया एवं चालू राजस्व वसूली प्राथमिकता से करे एवं इस कार्य में किसी प्रकार की ढिलाई नही बरते। उन्होंने राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे धारा 91 के प्रकरणों को गम्भीरता से निस्तारित करे। उन्होंने तहसीलदारों को जमा बन्दी सेग्रीगेषन प्रमाणिकरण व नक्षे अपडेट सत्यापन का कार्य 31 दिसम्बर तक कराने के निर्देष दिए। उन्होंने राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे क्षेत्र की प्रत्येक घटना के प्रति चैकस रहे एवं समय रहते आवष्यक कार्यवाही अमल में लावे।

जिला कलक्टर श्री शर्मा बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित राजस्व एवं उपनिवेषन अधिकारियों की मासिक बैठक में यह निर्देष दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी, उपखण्ड अधिकारी जैसलमेर कैलाषचन्द्र शर्मा, पोकरण मूल सिंह राजावत, फतेहगढ़ रण सिंह, तहसीलदार जैसलमेर वीरेन्द्र सिंह, पोकरण नारायणगिरी, फतेहगढ़ तुलछाराम विष्नोई, भणियाणा पुखराज भार्गव के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे। जिला कलक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे रोड एक्ट वसूली में बैकर्स को पूरा सहयोग दे एवं इसके लिए प्रतिमाह तारीख निर्धारित कर बैकर्स को बुलाकर वसूली में प्रगति लावे। उन्होंने तहसीलदारों को मूलनिवास एवं जाति प्रमाण पत्र समय पर जारी करने के निर्देष दिए। उन्हांेनंे उपनिदेषक सूचना एवं प्रौद्योगिकी को कहा कि वे ई-मित्र धारकों को पाबंद कर समय पर इस संबंध में हार्ड-काॅपी तहसीलदारों के पास जमा करावें।

उन्होंनें ईजी-1 व ईजी-2 की समीक्षा करते हुए निर्देष दिए कि ईजी-1 की सूचना ग्राम प्रभारियों से शीघ्र ही प्रपत्र में पूर्ति करवाकर अपलोड करने की कार्यवाही करें। उन्होंेनंे यह भी निर्देष दिए कि जो नये ग्राम प्रभारी लगाए है उनको प्रषिक्षण प्रदान करावें। सहायक निदेषक सांख्यिकी डाॅ.बी.एल.मीणा ने ईजी-1 एवं ईजी-2 की प्रगति से अवगत कराया। इसके साथ ही उन्होंनें फसल कटाई प्रयोगषाला के प्रपत्र तत्काल भेजने की बात कही तो इस संबंध में तहसीलदारों को निर्देष दिए कि वे आज ही फसल कटाई प्रयोगषाला के प्रपत्र पेष कर दें।

जिला कलक्टर ने उपखंड अधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देष दिए कि वे रास्तों के प्रकरण के संबंध में प्रमाण पत्र प्रस्तुत करें कि उनके क्षेत्र में इस प्रकार के प्रकरण बकाया नहीं है। उन्होंनंे राजस्थान सम्पर्क पोर्टल में उनके स्तर से बकाया प्रकरणों एवं एडोप्टर्स के रूप में जो प्रकरण सत्यापन करने शेष है उनको समय पर निस्तारित करने के निर्देष दिए। उन्होंनंे फीडिंग से बकाया रही जमाबंदी एवं नामान्तरकरण को शीघ्र आॅनलाईन फीडिंग कराने के निर्देष दिए एवं साथ ही जमाबंदियों के पटवारी व गिरदावर स्तर से प्रमाणीकरण कराने के निर्देष दिए। उन्होंनें रिकाॅर्ड नष्टीकरण की कार्यवाही 15 दिवस में कराने के निर्देष दिए।

उन्होंनें राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे जोड, पायतन, तालाब के आगौर में जो अतिक्रमण रिपोर्ट किए गए है उनको हटाने की कार्यवाही प्राथमिकता से करावें। उन्होंनंे उपखंड अधिकारियों को माह के प्रथम गुरूवार को जनसुनवाई के साथ सतर्कता समिति की बैठक आयोजित करने के निर्देष दिए। उन्होंनें खनिज अभियंता को निर्देष दिए कि वे अवैध खनन रोकथाम के लिए तहसीलदारों, पुलिस अधिकारियों के साथ औचक निरीक्षण कर आवष्यक कार्यवाही करने के निर्देष दिए।

अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने बैठक में बिन्दुवार प्रकरणों को विस्तार से रखा एवं राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे विधानसभा प्रष्नों का समय पर जवाब प्रस्तुत करें। उन्होंनें मासिक सारांष समय पर भेजने के निर्देष दिए। उन्होंनें उपखंड अधिकारियांे को चिकित्सा विभाग के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए भूमि आवंटन की कार्यवाही समय पर करने के निर्देष दिए।

बैठक में सूचना विज्ञान अधिकारी चन्द्रेष कुमार, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.एन.आर.नायक, उपनिवेषन कृषि विस्तार राधेष्याम नारवाल, खनिज अभियंता मूलसिंह उपस्थित थे।

-

जिला अधिकारियों को बिना कैश के भुगतान की प्रक्रिया के संबंध में दी जानकारी
जिला कलक्टर शर्मा ने अधिकारियांे को इस प्रक्रिया को प्रेरित करने के दिए निर्देष

जैसलमेर, 21 दिसम्बर। राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र, जैसलमेर के तत्वावधान में बिना कैश के भुगतान हेतु डिजिटल भुगतान के बारे में जिला कलेक्ट्रेट सभागार में जिला अधिकारियों की बैठक जिला कलक्टर मातादीन शर्मा की अध्यक्षता में आयेाजित की गई जिसमें उन्होंनें पावर पाॅईन्ट प्रजेन्टेषन के माध्यम से मेरा मोबाईल, मेरा बैंक बटुआ ट्रांजेक्शन की प्रक्रिया के बारे में अधिकारियांे को विस्तार से जानकारी दी।

जिला कलक्टर शर्मा ने अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे डिजीटल ट्रांजेक्शन के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर कैषलेस भुगतान प्रक्रिया को अपनावें एवं इसके संबंध मंे लोगो को भी पे्ररित करें। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी के साथ ही अन्य जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में अतिरिक्त आसूचना अधिकारी, जैसलमेर चन्द्रेश कुमार के द्वारा बिना कैश डिजिटल पेमेंट के माध्यम से भुगतान करने सम्बंधी जानकारियों को विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि बिना कैश के भुगतान करना अब मुमकिन है। इससे मेरा मोबाइल, मेरा बैंक बटुआ के माध्यम से डिजिटल ट्रांजेक्शन आसानी से किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि डिजिटल भुगतान के माध्यम से बिना कैश के किसी भी बिल का भुगतान तथा वस्तुएं खरीदी जा सकती है। साथ ही उन्होनें भुगतान की विभिन्न तरीकों से भी उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारी को अवगत कराया। आगामी वर्षों में कैशलेश भुगतान ही मुख्य धारा से जुड़ जायेगा।

श्री चन्द्रेश कुमार ने स्मार्ट फोन को डिजिटल भुगतान के लिए उपयुक्त साधन बताते हुए यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इन्टरफेस), यूएसएसडी, प्रीपेड-वाॅलेट, कार्डस-पीओएस, आधार एनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के बारे में परजेंटेशन के माध्यम से विस्तृत रूप से बताया। उन्होंने इसके साथ ही डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, इन्टरनेट बैंकिंग से डिजिटल पेंमेंट करते समय भी रखी जाने वाली सावधानियों से अवगत करवाया। उन्होंने एटीएम पिन, इन्टरनेट बैंकिंग पासवर्ड आदि को गुप्त रखने की जानकारी दी।

इस दौरान स्टेट बैंक आॅफ बीकानेर एण्ड जयपुर तथा स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया के प्रतिनिधियों ने भी पाॅवर पाईन्ट प्रजेन्टेषन के माध्यम से वीडियोंग्राफी द्वारा कैषलेष भुगतान प्रक्रिया की विस्तार से संभागियो कों जानकारी दी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top