edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर विकास योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें : गोयल
बाड़मेर, 30 दिसम्बर। विकास योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित कर राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप आमजन को लाभांवित किया जाए। आमजन को जन कल्याणकारी योजनाआंे के बारे मंे अधिकाधिक जानकारी दी जाए। इसके लिए जन प्रतिनिधि एवं अधिकारीगण मिलकर प्रयास करें। जिले के प्रभारी एवं जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने शुक्रवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर विकास योजनाआंे की समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।

जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि राज्य सरकार आमजन के लिए कल्याण के लिए तत्पर है। समाज के प्रत्येक तबके के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं प्रारंभ की गई है। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत बारिश के पानी को संग्रहित करने के लिए सराहनीय पहल की गई है। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना आने वाले समय में राज्य के लिए मील का पत्थर साबित होगी। यह योजना पूर्ण होने पर 21 हजार से भी अधिक गांव पानी को लेकर आत्म निर्भर हो जाएंगे। उन्हांेने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के प्रथम चरण के उत्साहजनक नतीजांे के बाद द्वितीय चरण के तहत वृहद स्तर पर जल संरक्षण कार्याें की शुरूआत की गई है। इन कार्यों को वेब मैपिंग से जोड़ा जा रहा है। इससे इन कार्याें की प्रभावी मोनेटरिंग सुनिश्चित होगी।

जलदाय मंत्री ने कहा कि जलदाय विभाग के प्रगतिरत प्रोजेक्टस को प्राथमिकता से पूर्ण कराया जाएगा। इस सम्बन्ध में बैठक में उपस्थित जलदाय विभाग के मुख्य अभियन्ताओं को निर्देश दिए गए की वे पेयजल की वृहद योजनाओं को समयबधता के साथ पूर्ण कराए। उन्हांेने कहा कि ग्रामीण विकास के कार्यों में बजट का पंचायतीराज संस्थाओं के जनप्रतिनिधि ईमानदारी के साथ सदुपयोग कर गुणवत्ता पूर्ण काम कराएंगे, तभी ग्रामीण विकास का स्वप्न साकार होगा। उन्हांेने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में राज्य के ग्रामीण विकास कार्यों के लिए प्रति वर्ष 16 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। जनप्रतिनिधि मनरेगा योजना का पूरा लाभ उठाकर ग्राम विकास के आधार भूत ढांचे को मजबूत करने के लिए आगे आएं।

प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि बजट घोषणा, आपका जिला आपकी सरकार के दौरान दिए निर्देशांे की पालना एवं संपर्क पोर्टल पर दर्ज होने वाले प्रकरणांे का गंभीरता से निस्तारण कर अधिकाधिक आमजन को लाभांवित किया जाए। उन्हांेने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण शिविरांे मंे आमजन की अधिकाधिक भागीदारी सुनिश्चित करवाकर उनको राहत पहुंचाई जाए। बैठक में गोयल ने स्वच्छ भारत मिशन, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, जिला स्तरीय जनसुनवाई, मुख्यमंत्री बजट घोषणा आदि की प्रगति की विस्तारपूर्वक समीक्षा की।

बैठक में राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी, संसदीय सचिव लादूराम विश्नोई, बायतु विधायक कैलाश चौधरी, सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल, चौहटन विधायक तरूणराय कागा, बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन सहित जिले के प्रधान उपस्थित थें जिन्होंने अपने क्षेत्र की पेयजल आदि समस्याओं से अवगत कराया।

इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने विकास योजनाआंे की प्रगति से अवगत कराते हुए कहा कि समीक्षा बैठक मंे दिए गए निर्देशांे की पालना करवाने के साथ आमजन को राहत पहुंचाने के प्रयास किए जाएंगे। इस दौरान जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने जलदाय विभाग के अधिकारियांे से बाड़मेर जिले मंे संचालित विभिन्न पेयजल योजनाओं और वृहद पेयजल योजनाओं के बारे में विस्तृत चर्चा कर जानकारी ली। बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिगला, मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल. नेहरा, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. विश्नोई सहित विभिन्न जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

-0-




कौशल रोजगार एवं उद्यमिता शिविर सम्पन्न
बाडमेर, 30 दिसम्बर। जिला रोजगार कार्यालय बाडमेर द्वारा शुक्रवार को विकास अधिकारी पंचायत समिति बालोतरा परिसर में मासिक कौशल रोजगार एवं उद्यमिता शिविर का आयोजन किया गया।

जिला रोजगार अधिकारी भवानीप्रताप चारण ने बताया कि शिविर में रोजगार कार्यालय द्वारा अक्षत बेरोजगार भत्ता योजना-12, व्यवसायिक मार्गदर्शन एवं विभिन्न स्वनियोजन योजनाओं की जानकारी दी गई तथा सरकारी विभागों द्वारा आयोजित स्वरोजगार संबंधी जानकारी व आवेदन पत्र भरवाकर आशार्थियों को लाभान्वित किया गया।

इसके अलावा निजी क्षेत्र व सार्वजनिक क्षेत्र के सात संस्थानों ने इस शिविर में भाग लिया व शिविर में 99 आशार्थियों का प्राथमिक चयन किया गया तथा 90 आाशर्थियों को प्रशिक्षण एवं 45 आशार्थियों को स्वरोजगार की जानकारी दी गई।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top