गैस्ट हाउस में पुलिस का छापा, आपत्तिजनक हालात में मिली लड़कियां


आगरा: युवती से गैंगरेप मामले की जांच करने रविवार देर रात गेस्‍ट हाउस पहुंचे सीओ कोतवाली राजेश द्विवेदी को यहां की गतिविधियां संदिग्‍ध नजर आई। द्विवेदी ने मामले की सूचना थाना सिकंदरा को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने गेस्ट हाउस पर छापा मारा तो उन्हें आपत्तिजनक हालात में 8 युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया। फिलहाल पुलिस ने युवतियों को कॉलेज की छात्रा बताकर उनके परिवारीजनों को सौंप दिया है।

गैस्ट हाउस में पुलिस का छापा, आपत्तिजनक हालात में मिली लड़कियां


कैमरा देख फूट-फूटकर रोने लगीं लड़कियां

पकड़ी गई युवतियों में दो शादीशुदा थीं, जबकि एक की शादी 2 महीने बाद होने वाली है। सभी को पुलिस थाना सिकंदरा लेकर पहुंची। इसके बाद युवतियां फूट-फूटकर रोने लगीं। मीडिया को देखकर युवती को थाने से अलग भेज दिया गया और सभी के परिवारीजनों को बुलाया गया। पुलिस ने युवतियों को कॉलेज की छात्रा बताकर उसके परिवारीजनों को सौंप दिया।




पुलिस की कार्रवाई चौंकाने वाली

मामले में पुलिस की कार्रवाई चौंकाने वाली रही। उसने मुकदमा आईपीसी की धारा 294 के तहत दर्ज किया। इस मुकदमे में गेस्‍ट हाउस का नाम हटा दिया गया। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के खिलाफ सार्वजनिक स्‍थल पर अश्‍लील हरकत करने की कार्रवाई की। युवकों को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा।




गौरतलब है कि इसी गेस्‍ट हाउस में 16 और 30 अगस्‍त को नाई की मंडी की एक लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया था। इस मामले में आरोपियों ने वीडियो बनाकर जान से मारने की धमकी दी थी। अक्‍टूबर में इस मामले में गैंगरेप का मामला थाना नाई की मंडी में दर्ज हुआ था।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top