edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर शहर में पार्किंग एवं यातायात व्यवस्था 7 दिवस में सुचारू करावें-जिला कलक्टर

ग्रामीण क्षेत्र में अवैध एवं ओवरलोडिंग वाहनांे की सघन जांच करने के दिए निर्दे


जैसलमेर, 23 दिसंबर। जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने स्वर्णनगरी में पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए महाराणा प्रताप मैदान, हनुमान चैराहा, गुलासतला रोड, मुस्लिम मुसाफिर खाना पर पार्किंग एवं यातायात व्यवस्था को 7 दिवस में सुव्यस्थित एवं सुचारू कराने के निर्देष दिए। उन्होंनें इसके लिए उपखंड अधिकारी जैसलमेर को कहा कि वे पुलिस उप अधीक्षक एवं आयुक्त नगर परिषद के साथ संयुक्त रूप से शहर का भ्रमण कर इन स्थानों पर पार्किंग व्यवस्था में सुधार लावें। उन्होंनंे इस कार्य को प्राथमिकता से करने के निर्देष दिए।

जिला कलक्टर शर्मा नें कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला यातायात प्रबंधन समिति की बैठक मे यह निर्देष दिए। बैठक में उपख्ंाड अधिकारी कैलाषचन्द्र शर्मा, सचिव नगर विकास न्यास बी.एल.रमण, उप अधीक्षक पुलिस नरेन्द्रकुमार दवे, समिति सदस्य कमल ओझा, चन्द्रप्रकाष शारदा, लखसिंह भाटी सनावडा के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे। जिला कलक्टर ने सदस्यांे की मांग पर उपखंड अधिकारी एवं नगरीय निकाय के अधिकारी को विभिन्न स्थानों पर बेतरबीत रूप से खडे ठेला धारको को उचित स्थान पर खडे करवाने की व्यवस्था, आवारा पशुओं की धर-पकड करानें, पार्किंग के लिए लाईनिंग कर वाहनों की उचित पार्किंग व्यवस्था कराने के निर्देष दिए।

उन्होंनंे परिवहन अधिकारी को निर्देष दिए कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध रूप से संचालित हो रहे वाहनों एवं ओवरलोडिंग वाहनों की सघन जांच कर इनकी रोकथाम कराने के लिए प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देष दिए। उन्होंनंे महाराणा प्रताप एवं नेहरू मैदान की सफाई व्यवस्था सुचारू रूप से कराने के निर्देष दिए। उन्होंनें उप अधीक्षक पुलिस को कहा कि वे पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यातायात पुलिस कर्मियों की विषेष हिदायत दे कि वे वाहनों की पार्किंग को सही ढंग से करावें। उन्होंनें परिवहन अधिकारी को निर्देष दिए कि वे सांकडा में पार्किंग के लिए जो पंचायत द्वारा जगह चिन्ह्ति की गई है उसके संबंध में सांकडा थाना अधिकारी एवं सरपंच से संपर्क कर उस स्थान पर उचित पार्किंग की व्यवस्था सुनिष्चित करावें।

जिला कलक्टर ने पोकरण नगर में व्यास चैराहा एवं तहसील कार्यालय के पास पार्किंग स्थल के लिए 7 दिवस में सूचना प्राप्त करने के परिवहन अधिकारी को निर्देष दिए। उन्होंनें मोहनगढ गांव के अन्दर से जाने वाले जिप्सम के ट्रकांे का आवागमन बाई-पास रोड से करान के निर्देष दिए।

समिति सदस्य कमल ओझा ने अमरसागर गेट के पास आवारा पशुओं की रोकथाम करानंे, गांधी काॅलोनी औद्योगिक क्षेत्र में रोड पर किए गए अतिक्रमण को हटाने की आवष्यकता जताई। समिति सदस्य चन्द्रप्रकाष शारदा ने शहर में विभिन्न स्थानों पर हाथठेलों को व्यवस्थित खडा कराने, समिति सदस्य लखसिंह भाटी ने ग्रामीण क्षेत्र में चल रही अवैध एवं ओवरलोडिंग वाहनों पर रोकथाम कराने की बात कहीं।

जिला परिवहन अधिकारी टीकूराम पूनड ने बैठक में गत बैठक में लिए गए निर्णयों में हुई अनुपालना रिपोर्ट पेष की वहीं एजेण्डेवार बिन्दुओं को रखा। बैठक में रोडवेज डिपो जैसलमेर के चीफ मैनेजर तसददुक हुसैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.आर.नायक, शहर कोतवाल बुद्वाराम उपस्थित थे।

----000----

नगर के मुख्य चैराहों पर फव्वारा चालू कराने के दिए निर्देष

जिला कलक्टर ने ली पर्यटन विकास समिति की बैठक


जैसलमेर, 23 दिसंबर। जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने पर्यटन सीजन को देखते हुए नगरीय निकाय के अधिकारी को निर्देष दिए कि शहर के सभी मुख्य चैराहों पर फव्वारा संचालित कर वहां उचित लाईट की व्यवस्था करावें। उन्होंनें जिले में पर्यटन विकास के लिए जो कार्य कराये जाने प्रस्तावित है उसके संबंध में उप निदेषक पर्यटक स्वागत केन्द्र को निर्देष दिए कि वे इसके संबंध मंे नगर परिषद जैसलमेर से समन्वय स्थापित कर आवष्यक विकास कार्य करावें। उन्होंनें यह निर्देष दिए कि सोनार दुर्ग की फ्लड लाईटें चालू कर दी है वे नियमित रूप से रात्रि में चलंे इस बात का विषेष ध्यान रखा जाये।

जिला कलक्टर शर्मा ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक में यह निर्देष दिए। बैठक में उपखंड अधिकारी कैलाषचन्द्र शर्मा, उप निदेषक पर्यटक स्वागत केन्द्र भानुप्रताप, इन्टेक को-कन्वीनर वीरेन्द्रसिंह, जैसलमेर विकास समिति के सचिव चन्द्रप्रकाष व्यास, सहायक वन संरक्षक बी.एल.यादव, संग्राहलया अध्यक्ष हेमेन्द्र अवस्थी, सहायक पर्यटन अधिकारी खेमेन्द्रसिंह जाम, अतिरिक्त जिला षिक्षा अधिकारी मनोहर लाल, नेहरू युवा केन्द्र के राजेन्द्र पुरोहित उपस्थित थे।

जिला कलक्टर ने शहर में संचालित सुलभ शौचालयांे की नियमित रूप से साफ-सफाई कराने, डेडानसर मैदान में सुविधाओं को विकसित करने, पूनम स्टेडियम में लाईट की उचित व्यवस्था करानें के नगरीय निकाय के अधिकारी को निर्देष दिए। उन्होंनें एयरपोर्ट रोड से बाडमेर चैराहा रोड तक सडक को चैडी कराने के लिए नगर विकास न्यास को पत्र लिखने के निर्देष दिए। उन्होंनें कनोई से खाभा सडक जो क्षतिग्रस्त है उसकी मरम्मत कराने के लिए पीडब्ल्यूडी को आवष्यक कार्यवाही के लिए पत्र प्रेषित करने के निर्देष दिए। उन्होंनें कहा कि दुर्ग वासियो के वाहनो के लिए जो स्टीकर लगाए जाने थे उसकी जांच करने एवं जिन वाहनों पर अभी तक स्टीकर नहीं लगे है उन वाहनों पर पुलिस द्वारा स्टीकर लगाने के निर्देष दिए। उन्होंनें सोनार दुर्ग एवं पूनम स्टेडियम के बीच जो मोबाईल टावर लगे है उसकी उंचाई का कम कराने के लिए उपखंड अधिकारी, उप अधीक्षक पुलिस एवं आयुक्त नगर परिषद को आवष्यक कार्यवाही करने के निर्देष दिए। उन्होंनें सम सेन्डस डयून्स की पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए नियमित रूप से सफाई की उचित व्यवस्था कराने के निर्देष दिए।

समिति सदस्य वीरेन्द्रसिंह ने शहर में संचालित सुलभ शौचालयांे की उचित सफाई कराने, कनोई से खाभा क्षतिग्रस्त सडक की मरम्मत कराने, कुलधरा से डेडा रोड की तरफ जसेरी लेक को बर्ड नेचर के रूप में विकसित कराने का सुझाव दिया।

उप निदेषक भानुप्रताप ने बैठक में बताया कि गडीसर पर लाईट एवं साउण्ड शो के लिए प्रस्ताव पर्यटन विभाग को भिजवाये जा चुके है। उन्होंनें बताया कि खुहडी रोड को चैडा करने के लिए भारत माला में प्रस्ताव शामिल किया गया है। इस संबंध में जिला कलक्टर ने संबंधित विभाग से इसकी वास्तविक जानकारी लेने के निर्देष दिए। बैठक में पर्यटन विकास के संबंध में विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में बताया कि डेजर्ट नेषलन पार्क में वाईल्ड लाईफ सफारी चालू कर दी गई है इसका होटल व्यवसाइयों के माध्यम से प्रचार-प्रसार की बात कही गई।

----000----

विभागीय योजनाओं में 15 प्रतिषत अल्पसंख्यक की भागीदारी सुनिष्चित करें-जिला कलक्टर
जैसलमेर 23 दिसम्बर। जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने कहा कि विभिन्न विभागीय योजनाओं के निर्धारित लक्ष्यों में 15 प्रतिषत अल्पसंख्यक समुदाय की भागीदारी सुनिष्चित हों इस बात का अधिकारी विषेष ध्यान रखें। उन्होंनें अल्प संख्यकों के कल्याणार्थ संचालित विभिन्न योंजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए निर्देष दिए कि निर्धारित प्रतिषत के अनुरूप अल्पसंख्यक समुदाय को विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया जाए।

जिला कलक्टर श्री शर्मा कलेक्ट्रेट सभागार में प्रधानमंत्री जी के 15 सूत्री कार्यक्रम की जिला स्तरीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहें थे। बैठक में जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, प्रधान पंचायत समिति सांकडा अमतुल्ला मेहर, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, उप अधीक्षक पुलिस नरेन्द्र कुमार दवे, समिति सदस्य जीवणखां, आलमखां, पारसमल जैन के साथ ही अन्य संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलक्टर ने 15 सूत्री कार्यक्रमों की प्रगति की विस्तार से जानकारी प्रदान की एवं कहा कि उसमे लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि अर्जित की जावें। उन्होंनें अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में विकास के कार्याे की गुणवता पर विषेष ध्यान रखने के निर्देष दिए।

जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने धनाना पंचायत में महानरेगा के तहत कार्य स्वीकृत कराने की आवष्यकता जताई। प्रधान अमतुल्ला मेहर ने मदरसों में षिक्षा पर विषेष ध्यान देने की बात कहीं। समिति सदस्य आलमखां ने कहा कि इन सूत्रों से जो पूर्व में लाभान्वित हुए है उनको दोबारा लाभान्वित नहीं किया जावें इस बात का पूरा ध्यान रखें। समिति सदस्य जीवनखां ने आईटीआई क्षेत्र में अल्पसंख्यकों के लिए राज्य सरकार के छूट दिलानें की बात कही।

बैठक में एमएसडीपी योजना 2016-17 के तहत प्रस्तावों पर विस्तार से समीक्षा की एवं जिला कलक्टर ने अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी को निर्देष दिए कि वे योजना की गाईड लाईन के अनुरूप कार्यो का अनुमोदन करें एवं इसकी पूरी जांच पडताल कर लें।

बैठक में अल्पसंख्य कल्याण अधिकारी सत्यनारायण वासु ने एमएसडीपी योजना की प्रगति रिपोर्ट के साथ ही 15 सूत्री कार्यक्रम की विभिन्न विभागों की त्रैमासिक प्रगति रिपोर्ट से भी अवगत कराया। बैठ में सहायक निदेषक हिम्मतसिंह कविया, मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.एन.आर.नायक, जिला षिक्षा अधिकारी माध्यमिक मन्नाराम मीणा, सर्व षिक्षा के एडीपीसी कानसिंह, अधिषाषी अभियंता जलदाय पराग स्वामी, कार्यक्रम अधिकारी अषोक कुमार गोयल, षिक्षा विभााग के अधिकारी कार्यक्रम अधिकारी अल्पसंख्यक लियाकत अली उपस्थित थे।

----000----

पालनहार योजना के अन्तर्गत विषेष योग्य जन माता - पिता केे बच्चों कोे मिलेगा अनुदान
जैसलमेर 23 दिसम्बर। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित पालनहार योजना में विषेष योग्य जन माता या पिता कोेे बच्चों के संरक्षण के लिए उन्हें अनुदान दिया जायेगा। हिम्मतसिंह कविया सहायक निदेषक ने बताया कि विभाग की पालनहार योजना के अन्तर्गत विषेष योग्य जन माता या पिता के सभी बच्चों को योजना के अन्तर्गत लाभ प्रदान किया जायेगा। योजना के अन्तर्गत 0 से 6 वर्ष आयु के बच्चों को 500 तथा 6 वर्ष से 18 वर्ष तक की आयु के बच्चों को 1000 रूपये मासिक दर से भुगतान किया जायेगा । उन्होनें बताया कि 2 वर्ष से अधिक के आयु के बच्चों का आंगनवाडी तथा 6 वर्ष से अधिक आयु के बच्चों का विद्यालय में अध्ययन करने पर ही सहायता दी जायेगी । उन्होंने विषेष योग्य जनों से अपील है कि योजना का लाभ लेने हेतु अधिकाधिक आवेदन कर इस योजना का लाभ प्राप्त करें ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top