edvertise

edvertise
barmer



अजमेर, 1विकास कार्यो की समीक्षा बैठक

आगामी गर्मियों में नहीं होगा पेयजल परिवहन

विद्युत सुधार कार्यक्रम की प्रभावी मोनिटरिंग करें - जिला कलक्टर


अजमेर, 17 दिसम्बर। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने अपने क्षेत्रा में विद्युत सुधार कार्यक्रम की प्रभावी मोनिटरिंग करें तथा एक एक फीडर गोद लेकर वहां लोसेज कम करने तथा बिजली चोरी रोकने की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित करें।

जिला कलक्टर शनिवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारियों, विकास अधिकारियों एवं कार्यकारी विभागों के अधिकारियों की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बिजली बचाना एवं बिजली चोरी रोकने का कार्य सरकार की प्राथमिकता है उसमें सभी गंभीरता के साथ कार्य करें। उन्होंने बताया कि वर्तमान में विद्युत की वितरण व्यवस्था हमारे यहां अन्य प्रदेशों के मुकाबले काफी अच्छी हैं। इसे बरकरार रखने के लिए एटी एण्ड सी तथा टी एण्ड डी लोसेज कम करने होंगे। सभी अधिकारी जब भी भ्रमण पर जाएं तब उन्हें कही भी ढ़ीले तार दिखे या बिजली चोरी की जानकारी मिले तो विद्युत विभाग को तत्काल सूचित करें। लोगों में भी बिजली बचाने एवं बिजली चोरी रोकने के लिए जागरूकता पैदा करें।

आगामी गर्मियों में नहीं होगा पेयजल परिवहन

जिला कलक्टर ने बताया कि राज्य सरकार जल के संरक्षण पर विशेष ध्यान दे रही है । इसके लिए मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान चलाया हैं। प्रथम चरण में काफी अच्छी प्रगति हुई है। जिससे भूमि का जल स्तर भी बढ़ा हैं। अब आगामी गर्मियों में पेयजल के लिए परिवहन नहीं करना पड़े, इसके लिए जिला परिषद एवं उपखण्ड अधिकारी अभी से तैयारी रखें। पानी की कही कठिनाई नहीं हो, लेकिन परिवहन नहीं करना पड़े, ऐसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।

गौरव पथ के कार्यो में लाएं गति

जिला कलक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे गौरव पथ के कार्यो को गति प्रदान करें। नरेगा योजना में भी स्वीकृतियां जारी की गई है।। अधिकारी इन सड़कों की पूर्ण मोनिटरिंग करें। सड़क के किनारे कहीं अतिक्रमण नहीं हों, उन्हें हटाएं। उसी प्रकार इन सड़कों के किनारों पर से ही बिजली के तार जाएंगे तथा रोड़ लाईट भी सड़क के बीच में नहीं लग कर दोनों साइड़ों में लगाई जाएगी। उन्होंने बताया कि अजमेर स्मार्ट सिटी बनेगा उसी अनुरूप यहां की सड़के भी स्मार्ट बनें, इसका सभी ध्यान रखें। यदि सड़क के बीच पेड़ हटाने की जरूरत पड़ जाएं तो एक पेड़ के स्थान पर दस पेड़ लगाएं जाएं। ताकि हरितिमा बनी रहे।







बेटी के जन्म पर करें वृक्षारोपण

जिला कलक्टर ने विकास अधिकारियों का आह्वान किया कि शुक्रवार को आयोजित होने वाले प. दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण पंचायत शिविर में ग्रामीणों को बेटी की महता बताने के साथ ही बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ अभियान से जोड़ा जाए। बेटी के जन्म पर परिवार द्वारा कम से कम एक पौधे का रोपण कर उसकी सुरक्षा एवं पानी की व्यवस्था की जानी चाहिए। यह पेड़ परिवार के सदस्य की तरह बेटी के साथ भावनात्मक रिश्ता कायम करेगा। पंचायत शिविरों के दौरान प्री कैम्प एक्टीवीटी में बढ़ोतरी करने के साथ ही शिविर की उपलब्धियों को समय पर अपलोड किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि निजी वन विकास के लिए 25 वर्ष पूर्व आवंटित भूमि की लीज अवधि खत्म होने के उपरान्त इस प्रकार की भूमि को राजकीय भूमि घोषित कर हरीतिमा पट्टी विकसित की जानी चाहिए। महात्मा गांधी नरेगा में श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के लिए स्वीकृत कार्यों को तुरन्त चालू करवाया जाना चाहिए। सम्पर्क समाधान पोर्टल पर समस्या निस्तारण करके दो प्रकार से केटेराईज किया गया है। इनमे से मुख्यमंत्राी कार्यालय द्वारा प्राप्त तथा पूराने प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निस्तारित किया जाना चाहिए। इसके साथ ही लोकायुक्त से प्राप्त प्रकरणों का भी समय पर निस्तारण किया जाना सुनिश्चित करें।

जिले के अधिकतम अनुसूचित जाति, जनजाति तथा बीपीएल परिवारों को लाभान्वित करने के निर्देश देते हुए श्री गोयल ने कहा कि इन परिवारों को फाॅर्म पौण्ड, केटल शैड तथा वर्मी कम्पोस्ट ईकाई स्वीकृत करके हर प्रकार से लाभ प्रदान किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में मुख्यमंत्राी बजट घोषणा के अनुसार अनाज भण्डार बनाया जाए। इसका उपयोग राशन सामग्री रखने, अन्नपूर्णा भण्डार तथा उचित मूल्य की दुकान संचालन के लिए किया जाना चाहिए। राजस्व रिकाॅर्ड आधुनिकीकरण के चार चरणों को क्रमबद्ध तरीके से पूर्ण किया जाना चाहिए। रिकाॅर्ड सेग्रीगेशन का कार्य समय पर पूर्ण किया जाना चाहिए।

बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री निकिया गोहाएन ने मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान की प्रभावी मोनिटरिंग करने के निर्देश दिए तथा बताया कि प्रत्येक बुधवार को समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं कार्यकारी एजेन्सियां अपने अपने क्षेत्रा में कार्य का पर्यवेक्षण करेंगे।

इस अवसर पर, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार, श्री अबु सूफियान चैहान सहित जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी, तहसीलदार एवं समस्त विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top